Connect with us

पानीपत

पानीपत- सबसे ज़रूरी ख़बर, शहर में कोरोना के कितने बेड, कहाँ मिलेगा बेड और कैसे – सबको बताइए

Published

on

Spread the love

पानीपत- सबसे ज़रूरी ख़बर, शहर में कोरोना के कितने बेड, कहाँ मिलेगा बेड और कैसे – सबको बताइए

 पानीपत में कोरोना संक्रमितों की सात हजार के पार होना स्वास्थ्य विभाग, जिला प्रशासन सहित जिला वासियों के लिए बेहद चिंताजनक स्थिति है। कोरोना संक्रमण से मरने वालों की संख्या भी 82 हो चुकी है। कोरोना से जीतना है तो कोविड-19 संबंधित गाइडलाइन का पालन करने में ही समझदारी है। कोरोना से महाजंग की बात करें तो जिले में संक्रमित मरीजों की संख्या वृद्धि के साथ स्वास्थ्य विभाग आइसोलेशन बेड, ऑक्सीजन बेड, आइसीयू और वेंटीलेटर बेड संख्या भी बढ़ाता रहा है।

Coronavirus: Delhi hospitals plan more ICU beds for COVID-19 patients as cases surge - The Financial Express

1992 बिस्तर, लगभग 1200 एक्टिव केस

कोरोना संक्रमित जिला में पहला केस 20 मार्च 2020 को मॉडल टाउन का निवासी छात्र आया था। मई तक कुल 62 मरीज सामने आ चुके थे। उस समय तक सिविल अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में मात्र 12 बेड थे। इसके बाद स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन के अधिकारी हरकत में आए। सरकारी और प्राइवेट अस्पतालों सहित दूसरे स्थानों पर आइसोलेशन बेड तैयार करने शुरू किए। आज की तारीख में कोरोना संक्रमित मरीजों को भर्ती रखने के लिए 1992 बिस्तरों का इंतजाम है। अगर एक्टिव केसों की बात करें तो 1200 के आसपास रहते हैं।

Doctor Who Reported First Novel Coronavirus Case, Succumbs to It | The Weather Channel

वर्तमान में बिस्तरों की स्थिति

केंद्र का नाम                                 बिस्तर संख्या

एनसी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल               590

ब्वॉयज हॉस्टल एनसी इंजी. कॉलेज                 200

पाइट, समालखा                                    114

डीपीसी, समालखा                                  100

एपिट, पानीपत                                      100

हॉस्टल गीता कॉलेज नौल्था                         100

गीता लॉ कॉलेज, करहंस                             88

सब डिविजनल अस्पताल समालखा                  72

प्रेम इंस्टीट््यूट ऑफ नर्सिंग                           50

एनएसटीआइ, पानीपत                                50

प्रेम हॉस्पिटल                                         26

ईएसआइ अस्पताल                                   48

सिविल अस्पताल                                     60

सीएचसी खोतपुरा                                     20

सत करतार गेस्ट हाउस                               16

पार्क अस्पताल                                        28

आयुष्मान भव अस्पताल                              12

सिग्नेस महाराजा हॉस्पिटल                           08

राधा स्वामी सत्संग भवन                            100

एग्रो मॉल                                            100

राम शरणम् आश्रम                                  100

 

एक नजर इन संख्या पर भी :

1992 आइसोलेशन बेड

526 बेड पर ऑक्सीजन सुविधा

32 बेड आइसीयू में

29 बेड पर वेंटीलेटर सुविधा

Coronavirus patients shed virus for 20 days; elderly people are more at risk: Lancet study | Deccan Herald

कोविड एचडीयू कारगर :

सिविल अस्पताल में दो बिस्तर की कोविड हाई डिपेंडेंसी यूनिट (एचडीयू)गत माह तैयार की गई है। कोरोना संकमित गंभीर मरीजों के लिए यह यूनिट कारगर साबित हुई है। अब तक चार मरीज यहां स्वास्थ्य लाभ लेकर घर लौट चुके हैं।

इन अस्पतालों में प्राइवेट इलाज :

-डा. प्रेम अस्पताल, बिशन स्वरूप कॉलोनी

-सिग्नेस महाराजा हॉस्पिटल, देवी मंदिर के पास

-पार्क अस्पताल, जीटी रोड

-आइबीएम अस्पताल, सनौली रोड

कोरोना संक्रमित मरीजों को भर्ती रखने के लिए बिस्तर की कमी कभी नहीं रही। निजी खर्च से इलाज कराने के इच्छुक कुछ चुनिंदा अस्पतालों में पहुंच रहे हैं। उन अस्पतालों में बिस्तरों की कमी की शिकायत मिली है। मरीज को सिविल अस्पताल सहित दूसरे अस्पतालों का नाम बतौर विकल्प बताया जाता है।

डा. संतलाल वर्मा, सिविल सर्जन-पानीपत

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *