Connect with us

City

हरियाणा स्पेशल – गुरुग्राम से रेवाड़ी को नया हाईवे वाया दिल्ली मेवात और फ़रीदाबाद

Published

on

Advertisement

हरियाणा स्पेशल – गुरुग्राम से रेवाड़ी को नया हाईवे वाया दिल्ली मेवात और फ़रीदाबाद

 

केंद्र सरकार ने दिल्ली से मुंबई एक्सप्रेस हाईव के जरिए देश भर में आसान यातायात का जो सपना देखा है, वह अब जल्द ही साकार होने जा रहा है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी का मानना है कि सुलभ और आसान यातायात से देश को हजारों करोड़ रुपए का लाभ होता है तथा लोगों के समय की बचत होती है। सरकार की इसी सोच के आधार पर आज देश भर में नए नए हाईवे बनाए जा रहे हैं, ताकि लोग बिना जाम के अपना सफर जल्द से जल्द पूरा कर पाएं। इसी योजना के अंतर्गत ही अब गुरूग्राम से रेवाड़ी के बीच एक नया फोरलेन हाईवे का निर्माण किए जाने की योजना पर काम शुरू हो गया है। इस परियोजना पर करीब 1500 करोड़ रुपए की लागत आने का अनुमान है। यह हाईवे टोल योजना के अधीन होगा, मगर इसके बनते ही लोगों का फरीदाबाद, मेवात, सोहना और गुरूग्राम सहित दिल्ली से रेवाड़ी का सफर करना बेहद आसान हो जाएगा।

Advertisement

कठिन है गुरूग्राम से रेवाड़ी का सफर

Advertisement

फिलहाल इन शहरों से रेवाड़ी जाने के लिए भारी यातायात का सामना करना पड़ता है। मगर इस परियोजना के बनते ही लोगों को रेवाड़ी पहुंचने में महज चालीस मिनट का समय लेगा। यानि कि गुरूग्राम से रेवाड़ी के बीच 49 किलोमीटर का सफर महज 40 मिनट में पूरा किया जा सकेगा। मगर अभी यह सफर कई घंटों में पूरा होता है। कहा जा रहा है कि यदि कोई अड़चन नहीं आई तो आने वाले कुछ हफ्तों के भीतर इस परियोजना पर काम शुरू हो सकता है। मगर एक बड़ी खबर यह भी है कि इस हाईवे पर फर्राटा भरने के लिए लोगों को टोल चुकाकर अपनी जेब ढीली करनी होगी।

Advertisement

हाइवे रेवाड़ी के एनएच 71 पर मिलेगा

डीपीआर के अनुसार गुरुग्राम से शुरू होकर हाइवे रेवाड़ी के एनएच 71 पर मिलेगा। इसके लिए एनएच 71 नए हाइवे पर जाने के लिए इंटरचेंज बनाया जाएगा। इस फोरलेन पर पांच फ्लाईओवर होंगे। पटौदी रोड उमंग भारद्वाज चौक, गाड़ौली, हरसरू, जमालपुर और पटौदी बाईपास पर फ्लाईओवर बनेंगे। वहीं उमंग भारद्वाज चौक पर एक अंडरपास भी बनाया जाएगा। इसके अलावा रेलवे ओवरब्रिज सहित 13 छोटे पुल भी बनाए जाएंगे। इस रोड से लगते अन्य रास्तों को मिलाने के लिए सात इंटरचेंज बनाए जाएंगे।  डीपीआर में उमंग भारद्वाज चौक, गाड़ौली, एनपीआर को शहर से जोडऩे वाली जगह, फरुखनगर रोड, फाजलवास-जमालपुर रोड, रेलवे यार्ड एवं सात किमी लंबा पटौदी बाईपास भी शामिल हैं। इस हाइवे के लिए रेवाड़ी-पटौदी रोड को चौड़ा किया जाएगा। एनएच 352 डब्ल्यू की ग्रुरुग्राम की ओर से शुरूआत में छह किमी का हिस्सा 60 मीटर चौड़ा होगा। वहीं इसके आगे रेवाड़ी तक इसकी चौड़ाई 45 मीटर होगी।

परियोजना के लिए होगी तोडफ़ोड़

इस परियोजना को आंरभ करने से पहले बड़े स्तर पर तोडफ़ोड़ की संभावना से भी इंकार नहीं किया जा रहा है। इस परियोजना के रास्ते में आ रहे निर्माणों को हटाने के बाद ही इसका काम शुरू किया जा सकता है। राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने इस परियोजना के रास्ते में आने वाले सभी निर्माणों को हटाने के लिए लोगों को जानकारी दे दी है। विभाग के अधिकारियों का कहना है कि जल्द ही इस पर काम शुरू हो जाएगा। लोग अपने निर्माण खुद ही हटाने लगे हैं, जिन लोगों को प्राधिकरण से मशीन व अन्य संसाधन संबंधी कोई सहायता चाहिए तो वह उन्हें उपलब्ध करवाने के लिए तैयार हैं। अधिकारियों के अनुसार चिन्हड अड्डा, मंढुलिया, मौजाबाद और खोड में बड़े स्तर पर तोडफ़ोड़ की जाएगी। बताया जाता है कि इस फोरलेन हाइवे पर वाहन चालकों से टोल वसूली के लिए टोल गेट पटौदी में बनाया जाएगा। पटौदी से यह हाइवे बाहर ही बाहर जाएगा और इसके लिए यहां पर सात किमी लंबा बाईपास बनाया जाएगा। इस हाइवे के बनने से दिल्ली-जयपुर हाइवे पर वाहनों का लोड कुछ कम होगा। अभी तक गुरुग्राम-रेवाड़ी का अधिकतर ट्रैफिक दिल्ली-जयपुर हाइवे पर ही रहता है। नए फोरलेन बनने से आवाजाही सुगम होगी और जाम की समस्या भी छूमंतर हो जाएगी।

 

 

 

 

Advertisement