Connect with us

फरीदाबाद

कैसे पेपर देकर कॉलेज से निकली निकिता की हत्या हुई और फिर दूसरा दिन कैसे बीता

Published

on

Advertisement

फरीदाबाद में सोमवार को बीकॉम फाइनल ईयर की छात्रा निकिता का लव जिहाद के चलते मर्डर कर दिया गया। घटना से चंद लम्हे पहले वह कॉलेज से पेपर देकर निकली थी। अपहरण करके धर्मांतरण कराने की कोशिश में एक सिरफिरे आशिक तौसिफ ने उसे गोली मार दी। मंगलवार को इस मामले में दिनभर हंगामे में बीता।

निकिता के कॉलेज से निकलने के बाद उसका शव घर तक पहुंचने के दौरान की तस्वीरों से समझें कब-कब क्या हुआ….

Advertisement

सोमवार को यह था वो आखिरी लम्हा, जब थोड़ी देर पहले ही निकिता खुशी-खुशी पेपर देकर कॉलेज से बाहर निकलकर भाई के आने का इंतजार कर रही थी। इसी दौरान उस पर बुरी नजर रखने वाले तौसिफ ने एक दोस्त रेहान की मदद से निकिता को किडनैप करने की कोशिश की। इस कोशिश में नाकाम रहने के बाद निकिता को गोली मारकर दोनों आरोपी मौके से फरार हो गए।

सोमवार को यह था वो आखिरी लम्हा, जब थोड़ी देर पहले ही निकिता खुशी-खुशी पेपर देकर कॉलेज से बाहर निकलकर भाई के आने का इंतजार कर रही थी। इसी दौरान उस पर बुरी नजर रखने वाले तौसिफ ने एक दोस्त रेहान की मदद से निकिता को किडनैप करने की कोशिश की। इस कोशिश में नाकाम रहने के बाद निकिता को गोली मारकर दोनों आरोपी मौके से फरार हो गए।

Advertisement

फरीदाबाद के बीके अस्पताल में पहुंचे निकिता के परिजन। इस दौरान निकिता की मां का रो-रोकर बुरा हाल था।

फरीदाबाद के बीके अस्पताल में पहुंचे निकिता के परिजन। इस दौरान निकिता की मां का रो-रोकर बुरा हाल था।

Advertisement

अस्पताल मेंं निकिता की मां को सांत्वना देते एक परिचित। यहां से कार्रवाई की मांग को लेकर परिवार प्रशासन के खिलाफ रोष प्रदर्शन करने निकल पड़ा।

अस्पताल मेंं निकिता की मां को सांत्वना देते एक परिचित। यहां से कार्रवाई की मांग को लेकर परिवार प्रशासन के खिलाफ रोष प्रदर्शन करने निकल पड़ा।

एक ओर पीड़ित परिवार रोड जाम करने चला था, वहीं घंटों की मशक्कत के बाद पुलिस ने मुख्य आरोपी तौसिफ को नूह से गिरफ्तार कर लिया था। बावजूद इसके रोष प्रदर्शन शुरू हुआ। लोग दूसरे साथी की गिरफ्तारी और प्रॉपर कार्रवाई की मांग पर अड़े थे।

एक ओर पीड़ित परिवार रोड जाम करने चला था, वहीं घंटों की मशक्कत के बाद पुलिस ने मुख्य आरोपी तौसिफ को नूह से गिरफ्तार कर लिया था। बावजूद इसके रोष प्रदर्शन शुरू हुआ। लोग दूसरे साथी की गिरफ्तारी और प्रॉपर कार्रवाई की मांग पर अड़े थे।

घटना के बारे में जानकारी देते हुए कार्रवाई नहीं होने तक शांत नहीं बैठने की बात कहता निकिता का बड़ा भाई नवीन तोमर।

घटना के बारे में जानकारी देते हुए कार्रवाई नहीं होने तक शांत नहीं बैठने की बात कहता निकिता का बड़ा भाई नवीन तोमर।

इंसाफ की मांग को लेकर रोड जाम करने पहुंंचे लोगों को नियंत्रित करने के लिए तैनात भारी पुलिस बल।

इंसाफ की मांग को लेकर रोड जाम करने पहुंंचे लोगों को नियंत्रित करने के लिए तैनात भारी पुलिस बल।

बल्लभगढ़-सोहना रोड पर रोड जाम के दौरान धरने पर बैठे निकिता के परिजन और अन्य लोगों की भीड़। पीछे जाम में फंंसे वाहन भी दिखाई दे रहे हैं।

बल्लभगढ़-सोहना रोड पर रोड जाम के दौरान धरने पर बैठे निकिता के परिजन और अन्य लोगों की भीड़। पीछे जाम में फंंसे वाहन भी दिखाई दे रहे हैं।

प्रदर्शनकारियों को नियंत्रित करने के लिए लाठियों और पानी की बौछारों का इस्तेमाल करती पुलिस।

प्रदर्शनकारियों को नियंत्रित करने के लिए लाठियों और पानी की बौछारों का इस्तेमाल करती पुलिस।

न्याय की मांग कर रहे प्रदर्शनकारियों से मिलने के बाद मीडिया के माध्यम से यथोचित कार्रवाई का आश्वासन देते बल्लभगढ़ के विधायक मूलचंद शर्मा।

न्याय की मांग कर रहे प्रदर्शनकारियों से मिलने के बाद मीडिया के माध्यम से यथोचित कार्रवाई का आश्वासन देते बल्लभगढ़ के विधायक मूलचंद शर्मा।

निकिता की हत्या करने वाले तौसिफ और उसके दोस्त रेहान को कोर्ट में पेश करने के लिए लेकर जाती पुलिस। कोर्ट ने दोनों को दो दिन के रिमांड पर भेज दिया।

निकिता की हत्या करने वाले तौसिफ और उसके दोस्त रेहान को कोर्ट में पेश करने के लिए लेकर जाती पुलिस। कोर्ट ने दोनों को दो दिन के रिमांड पर भेज दिया।

प्रदर्शन खत्म करने के बाद निकिता का शव लेने परिजन।

प्रदर्शन खत्म करने के बाद निकिता का शव लेने परिजन।

source bhaskar

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *