Connect with us

पानीपत

पति शराब पीकर पत्‍नी को सरिये से पीटता था, शादी के 4 महीने बाद ही नवविवाहिता ने दे दी जान

Published

on

पति शराब पीकर पत्‍नी को सरिये से पीटता था, शादी के 4 महीने बाद ही नवविवाहिता ने दे दी जान

नवविवाहिता ने रविवार रात को मायके में सल्फास की गोलियां निगल कर जान दे दी। मृतका के पास से एक पन्ने का सुसाइड नोट मिला। इसमें उसने मौत का जिम्मेदार पति, सास, ससुर और ननद को बताया है। पुलिस ने दहेज हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।

मजदूरी करने वाले नारा गांव के सतपाल वर्मा ने पुलिस को शिकायत दी कि 24 जून, 2020 को उसने 12वीं पास छोटी बेटी मनीषा (19) की शादी कुराना गांव के अमित के साथ की थी। शादी के एक सप्ताह बाद ही ससुर बलवान, सास राजबाला और ननद निशा, बेटी के साथ दहेज में कार व जेवर न लाने पर मारपीट करने लगे। शराब पीकर पति अमित ने मुंह पर काट लिया।

पानीपत में नवविवाहिता ने आत्‍महत्‍या कर ली।

बेटी मानसिक रूप से परेशान हो गई। वह बेटी को अपने घर ले आए। पानीपत में एक मनोचिकित्सक से इलाज कराया। 15 दिन पहले पंचायत हुई और अमित ने स्वजनों के साथ मिलकर गलती मानी और मनीषा को साथ ले गए। 14 अक्टूबर को मनीषा ने काल कर बताया कि ससुराल वाले मारपीट करते हैं। वह बेटी को घर ले आए। रविवार रात को पहली मंजिल पर  बने कमरे में बेटी मनीषा बेड पर सो रही थी।

आसपास की चारपाई पर वह और पत्नी रानी सो गए। सुबह तीन बजे पत्नी रानी जगी तो मनीषा बेड पर नहीं थी। पत्नी के साथ नीचे के कमरे में गए तो बेटी ने गेहूं की टंकी से गेहूं में रखी सल्फास की गोलियां निकालकर निगल ली थी। मुंह से सल्फास की बदबू आ रही थी।

पास में एक पैन व कापी पड़ी थी। इसमें सुसाइड नोट लिखा था। बेटी को सामान्य अस्पताल में दाखिल कराया, जहां डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। ससुराल वालों से तंग बेटी ने जहर खाकर जान दी है। इस बारे में मतलौडा थाना प्रभारी मंजीत ङ्क्षसह ने बताया कि पति, सास, ससुर औ ननद के खिलाफ  304 बी (दहेज हत्या) और 34 आइपीसी के तहत मामला दर्ज कर लिया है।

विलाप करते हुए सतपाल ने बताया कि उसकी तीन बेटियों में मनीषा छोटी थी। सबसे छोटा बेटा है। उसने रविवार को ही गेहूं की टंकी में सल्फास की गोलियां डाली थी। बेटी ने उसे ऐसे करते देख लिया था। उसे आभास नहीं था कि बेटी ये ही गोली निगलकर जान दे देगी।

सुसाइड का मजमून, मुझे माफ करना

मम्मी-पापा, ससुराल वालों ने मेरी जिंदगी नरक बना दी है। सास, ससुर और ननद ताने मारते हैं कि अमित  इकलौता है। दहेज में कार क्यों नहीं लाई। पति शराब पीकर सरिये से पीटता है। पागल कहकर अनैतिक कार्य करता है और मुंह पर काटता है।  सारे शरीर पर मारपीट के निशान हैं। मैं जीना नहीं चाहती हूं। क्योंकि पति रोज शराब पीकर पीटता है। मैं जीना नहीं चाहती। उसके लिए मुझे माफ करना।

आपकी मनीषा बेटी

 

Source jagran

 

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *