Connect with us

राज्य

फतेहाबाद में किसानों ने टेंट उखाड़ कर भाजपा के मंच पर किया कब्जा

Published

on

Advertisement

फतेहाबाद में किसानों ने टेंट उखाड़ कर भाजपा के मंच पर किया कब्जा

 

नए कृषि कानूनों के खिलाफ जारी किसान आंदोलन के बीच भाजपा नेताओं ने सतलुज यमुना लिंक (एसवाईएल) का पानी हासिल करने के लिए जिलों में धरना देकर उपवास किया। इसका किसान संगठनों ने जगह-जगह विरोध किया। कई जिलों में तनातनी की स्थिति बन गई। शनिवार को फतेहाबाद में भाजपा का कार्यक्रम विरोध के चलते दो घंटे भी नहीं टिक पाया। किसान 15 मिनट में ही बैरिकेड्स बिखेर कर कार्यक्रम स्थल पर पहुंच गए।

Advertisement

पुलिस सुरक्षा के बावजूद किसानों ने कार्यक्रम स्थल का टेंट उखाड़कर मंच पर कब्जा कर लिया। एसपी राजेश कुमार भाजपा जिलाध्यक्ष बलदेव ग्रोहा अन्य नेताओं को मुश्किल से निकालकर ले गए। इसके बाद भाजपा नेताओं ने जिला कार्यालय में ही उपवास किया। वहीं कुरुक्षेत्र में उपवास से पहले सांसद नायब सैनी का प्रसाद ग्रहण करना भी चर्चा में रहा। सैनी गीता सप्ताह के शुभारंभ पर विधायक सुभाष सुधा के साथ गीता ज्ञान संस्थानम पहुंचे थे। जहां सांसद ने संस्थानम की तरफ से दिया प्रसाद ग्रहण किया। इसे लेकर विपक्षियों ने निशाना साधा। पूर्व मंत्री अशोक अरोड़ा ने कहा कि भाजपा का उपवास महज ड्रामा था।

Advertisement

कई जगह तनातनी: पुलिस से धक्का-मुक्की, काले झंडे दिखाए, नारेबाजी की

रेड स्क्वेयर मैदान में भाजपा के कार्यक्रम स्थल के पास ही सड़क के उस पार किसानाें के प्रतिनिधि प्रदर्शन करते रहे। कार्यक्रम में सुबह कुछ युवक काले झंडे लेकर घुसे ताे पुलिस ने उन्हें खदेड़कर वहां पहरा कड़ा कर दिया।

Advertisement
  • यमुनानगर: लघु सचिवालय के सामने मंडी गेट पर उपवास कार्यक्रम के विरोध में किसान पहुंच गए। यहां पुलिस से धक्का-मुक्की हुई। किसानों ने डेढ़ घंटे तक रोड जाम किया।
  • चरखी दादरी: राेज गार्डन की दीवार फांद कर किसान पहुंच गए, जिन्होंने करीब ढाई घंटे तक रोज गार्डन के मुख्य गेट पर हंगामा किया। पुलिस ने अंदर नहीं जाने दिया तो किसान संगठनों के लोग वहीं धरने पर बैठ गए।
  • कुरुक्षेत्र: भाकियू के बैनर तले कुछ किसान लघु सचिवालय में उपवास स्थल पर आ गए। किसानों ने केंद्र व प्रदेश सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। घंटों तनातनी बनी रही।
  • राेहतक: युवा किसानों ने काले झंडे दिखाए और नारेबाजी भी की।
  • सिरसा: रानियां में किसानों ने काले झंडे दिखाए और नारेबाजी की। अज्ञात लोगों ने हमला कर भाजपा नेता की गाड़ी के शीशे तोड़ दिए।

एसवाईएल के मसले पर भी गंभीरता से विचार करें पंजाब के किसान: सीएम

सीएम मनोहर लाल ने कहा, ‘एसवाईएल का मुद्दा काफी पुराना है। आंदोलन में शामिल पंजाब के किसानों से अपील है कि वे इस पर गंभीरता से विचार करें। हरियाणा का किसान आज पानी की कमी से जूझ रहा है, जबकि पंजाब में पानी कई जगह ऊपर आ गया है। हमारी मांग है कि एसवाईएल नहर की खुदाई सुनिश्चित की जाए।’ इससे पहले सीएम शनिवार को नई दिल्ली में केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से मिले। मीटिंग के बाद सीएम ने कहा कि आंदोलन को लेकर बहुत से प्रयत्न हो रहे हैं कि बातचीत का रास्ता निकले। उम्मीद है कि एक-दो दिन में बातचीत का रास्ता बनेगा। कोरोना का समय चल रहा है। सर्दी भी बहुत है। किसान भी अपने हैं। किसानों ने कहा था कि हां करो या ना करो। यह शर्त नहीं हाेनी चाहिए। बातचीत का दायरा ये है कि जो उनकी आपत्तियां हैं, वे सब सुनकर उसमें से कोई रास्ता निकलेगा। किसान इस प्रकार ऑफर देंगे तो निश्चित रूप से सरकार बुलाएगी और कोई तारीख तय करेगी।

बेनीवाल दिल्ली कूच करेंगे, सोनू सूद किसानों की दुर्दशा से दुखी

  • संसद की समितियों से इस्तीफा: एनडीए के सहयोगी राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी के अध्यक्ष और सांसद हनुमान बेनीवाल ने ससंद की तीन समितियों से इस्तीफा दे दिया। बेनीवाल ने 26 दिसंबर को दो लाख किसानों के साथ दिल्ली की ओर कूच करेंगे।
  • समाधान की उम्मीद: अभिनेता सोनू सूद ने कहा कि किसानों की दुर्दशा देख दुख हो रहा है। उम्मीद है कि जल्द समाधान होगा।
  • आंदोलन तेज करेंगे: किसान नेता सरदार वीएम सिंह ने कहा है कि मांगें नहीं मानी गईं ताे गाजीपुर बाॅर्डर दाेनाें अाेर से ब्लाॅक करेंगे।
  • श्रद्धांजलि आज: जान गंवाने वाले 22 किसानों को रविवार को आंदोलन स्थल के साथ-साथ देशभर में 11 से 1 बजे तक श्रद्धांजलि दी जाएगी। उधर कुंडली बॉर्डर पर आंदोलन कर रहे किसानों ने गुरु तेग बहादुर जी का शहीदी दिवस मनाया। साथ ही काकोरी के शहीदों को श्रद्धांजलि दी। इस दौरान मंच से भजन कीर्तन किए गए और सभी से शांति बनाए रखने की अपील भी की।

Source : Bhaskar

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *