Connect with us

राज्य

हरियाणा में नौकरी से वंचित कर्मचारियों को मिलेगा तीन माह का वेतन, जानिए कैसे करें आवेदन

Published

on

Advertisement

हरियाणा में नौकरी से वंचित कर्मचारियों को मिलेगा तीन माह का वेतन, जानिए कैसे करें आवेदन

 

हरियाणा में कोरोना संकट के दौरान लागू लॉकडाउन के दौरान नौकरी से वंचित कर्मचारियों को बड़ी रा‍हत मिली है। कर्मचारी राज्य बीमा निगम (ईएसआइसी) ने ऐसे कर्मचारियों के लिए बड़ी योजना लागू की है। इसके तहत ऐसे कर्मचारियों को ईएसआइसी तीन माह के आधे वेतन के बराबर राशि देगा। इसके लिए कर्मचारी अपने गृह राज्‍य में ही आवेदन कर सकते हैं।

Advertisement

ईएसआइसी (ESIC) ने लॉकडाउन के दौरान नौकरी से वंचित हुए इन कर्मियों को अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना के तहत यह राहत दी है। अब प्रभावित लोग अपने गृहप्रदेश स्थित कर्मचारी राज्य बीमा निगम के कार्यालय से इस योजना में आवेदन कर सकते हैं। बता दें कि केंद्र सरकार ने इस योजना के तहत लॉकडाउन में नौकरी से वंचित हुए बीमित व्यक्तियों के लिए तीन माह के वेतन की आधी राशि निगम से देने का फैसला किया था। हालांकि इस योजना का लाभ लेने के लिए कर्मचारी अभी आगे नहीं आ रहे हैं।

Advertisement

इसका कारण यह भी है कि नौकरी जाने के बाद ज्यादातर कर्मचारी अपने गृह प्रदेश लौट गए हैं और वे तीन माह के वेतन की आधी राशि लेने के लिए दोबारा उस प्रदेश में नहीं आना चाहते, जहां वे कर्मचारी राज्य बीमा निगम में बीमित थे। हरियाणा में कर्मचारी राज्य बीमा निगम के नए निदेशक मोहम्मद इरफान ने शुक्रवार को अपना पदभार संभालते ही अधिकारियों की बैठक में इस बाबत न सिर्फ अब तक आए आवेदनों के निपटान के आदेश दिए बल्कि यह भी सुनिश्चित किया कि सभी प्रभावित बीमित व्यक्तियों को योजना का लाभ मिले।

Advertisement

 

 

हरियाणा में अब तक कुल 557 कर्मचारियों ने ही इस योजना के तहत आवेदन किए हैं। इनमें से भी निगम ने 265 आवेदन ही विभागीय जांच में सही पाए हैं। फिलहाल इनमें से भी 147 को 18,95,279 रुपये का भुगतान किया गया है।

” कर्मचारी राज्य बीमा निगम की महानिदेशक अनुराधा प्रसाद ने पिछले दिनों वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से ली क्षेत्रीय निदेशकों की मीटिंग में यह आदेश दिया है कि लाॅकडाउन के दौरान नौकरी से वंचित बीमित व्यक्ति का आवदेन उनके गृहप्रदेश से भी स्वीकार किया जाए। इसके लिए सभी क्षेत्रीय निदेशकों को निर्देश दिए हैं कि वे इस योजना की विस्तृत जानकारी श्रमिक संगठनों से लेकर ग्राम व शहर के चुने हुए प्रतिनिधियों के माध्यम से उन श्रमिकों तक पहुंचाने का प्रयत्न करें जो लाकडाउन में प्रभावित हुए हैं। हमने हरियाणा में इसके लिए प्रयास शुरू कर दिए हैं।

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *