Connect with us

पानीपत

पहले चरण में 20 बूथों पर 4 दिन तक 6500 हेल्थ वर्करों को लगेगी कोरोना वैक्सीन

Published

on

Advertisement

पहले चरण में 20 बूथों पर 4 दिन तक 6500 हेल्थ वर्करों को लगेगी कोरोना वैक्सीन

 

स्वास्थ्य विभाग ने काेरोना के वैक्सीनेशन का खाका तैयार कर लिया है। पहले चरण में सिविल अस्पताल, सभी सीएचसी समेत 20 बूथों पर करीब 6500 सरकारी-निजी डॉक्टराें और हेल्थ वर्करों को टीका लगेगा। पहले टीकाकरण के 4 सप्ताह बाद दूसरी डोज लगेगी। पहला टीकाकरण मात्र 4 दिन में पूरा करने का लक्ष्य है। हर बूथ पर एक दिन में 100 लोगों को टीका लगाया जाएगा।

Advertisement

सिविल सर्जन डॉ. संतलाल वर्मा ने बताया कि वैक्सीनेशन के लिए निजी-सरकारी डॉक्टरों व हेल्थ वर्करों का डाटा तैयार किया है। यह आंकड़ा 6500 है। इन सभी का वैक्सीनेशन के लिए बनाए गए कोविड एप पर रजिस्ट्रेशन कर दिया है। इसमें नाम, एड्रेस, ईमेल, मोबाइल नंबर आदि डिटेल भरी है। रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर लोगों को पहले ही टीका का मैसेज मिल जाएगा।

Advertisement

इसमें तारीख, समय और स्थान की जानकारी दी जाएगी। सिविल अस्पताल के अलावा शहर में सेक्टर 25 सीएचसी, ग्रामीण एरिया में समालखा, मतलौडा, दलदाना, खोदपुरा समेत 20 बूथ बनाए हैं। वैक्सीनेशन को लेकर सिविल अस्पताल के डॉक्टरों की ट्रेनिंग भी हो चुकी है। अब ग्रामीण एरिया के डॉक्टरों की ट्रेनिंग कराई जा रही है।

चुनाव के मतदान की तर्ज पर हो रहे वैक्सीनेशन के लिए भी लोगों को 3 चरणों से गुजरना होगा। वेटिंग एरिया में पहले वेरिफिकेशन होगा, दस्तावेज की जांच होगी। यहां हाथ सैनिटाइज कराए जाएंगे। मास्क आदि की जांच होगी। एक हेल्थ केयर वर्कर यह सब जांच करेगा। इसके बाद वैक्सीनेशन रूम में भेजा जाएगा। जहां पर दो हेल्थ केयर वर्कर रहेंगे। आपको टीका लगाया जाएगा। इसके साथ ही कोविड एप पर भी इंट्री कर दी जाएगी कि आपको टीका लग गया। अंत में आब्जर्वेशन एरिया में भेजा जाएगा। इस एरिया में एक हेल्थ केयर वर्कर आप पर आधे घंटे तक नजर रखेगा। कोई साइड इफेक्ट होंगे तो वहीं पता चल जाएगा। टीका लगने का भी एक मैसेज आपके आएगा। इसमें दूसरे डोज के बारे में भी जानकारी दी जाएगी।

Advertisement

कोरोना वैक्सीन का स्टोरेज सिविल अस्पताल में ही बनाया जाएगा। इसके लिए अब तक 7 फ्रीजर आ चुके हैं। यहां से सभी बूथों पर कोल्ड चेन सिस्टम बनाकर वैक्सीन भेजी जाएगी। यह तह होगा कि स्टोरेज से निकलने के बाद कितनी देर में लोगों को टीका लगाना है। तय समय में ही सभी बूथों पर टीकाकरण हो जाएगा। 28 दिन बाद दूसरी डोज दी जाएगी।

गाइडलाइन के अनुसार काम होगा

सिविल सर्जन डॉ. वर्मा ने बताया कि अभी देश में 6 वैक्सीन के परीक्षण चल रहे हैं। हरियाणा और पानीपत में कौन-सी वैक्सीन आएगी, इसके बारे में अभी स्पष्ट नहीं हे। लेकिन जिस वैक्सीन को मंजूरी मिलेगी, उसकी गाइड लाइन भी आएगी। वैक्सीनेशन को लेकर लगभग प्लानिंग हो चुकी है। अब जो गाइड लाइन आएगी, उसके अनुसार आगे का काम होगा।

 

 

 

Source : Bhaskar

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *