Connect with us

समाचार

भारत में कोरोना की लहर थामनी है तो 5 लाख और ICU बेड की जरूरत, एक्सपर्ट ने चेताया

Published

on

Advertisement

भारत में कोरोना की लहर थामनी है तो 5 लाख और ICU बेड की जरूरत, एक्सपर्ट ने चेताया

भारत इस वक्त कोरोना वायरस की खतरनाक लहर का सामना कर रहा है और दुनिया में इस महासंकट का एपिसेंटर बन चुका है. देश में अस्पतालों में बेड्स, ऑक्सीजन की किल्लत है. इस सबके बीच एक्सपर्ट्स ने चेतावनी दी है कि भारत में जिस तरह के हालात बन रहे हैं, उस हिसाब से अगले कुछ हफ्तों में ही अतिरिक्त करीब 5 लाख आईसीयू बेड्स की जरूरत होगी.

विख्यात सर्जन डॉ. देवीप्रसाद शेट्टी का कहना है कि मौजूदा लहर के हिसाब से भारत को अगले कुछ हफ्तों में 5 लाख अतिरिक्त ऑक्सीजन बेड्स चाहिए होंगे, साथ ही 2 लाख नर्स और डेढ़ लाख डॉक्टर्स की जरूरत पड़ेगी.

Advertisement

डॉक्टर के मुताबिक, अभी भारत के पास 75 से 90 हजार के बीच आईसीयू बेड्स हैं, जिनमें से अधिकतर भर चुके हैं. ये हाल तब है जब अभी कोरोना की इस लहर का पीक नहीं आया है.

देश में हर दिन के साथ बिगड़ रहे हैं हालात (फोटो: PTI)

Advertisement

भारत में 21 मेडिकल सेंटर चलाने वाली नारायणा हेल्थ संस्था के चेयरमैन डॉ. शेट्टी का कहना है कि अभी भारत में टेस्टिंग कम है, मौजूदा ट्रेंड के हिसाब से भारत में हर रोज 10-15 लाख लोग कोरोना पॉजिटिव हो रहे हैं. इससे आप हालात का पता लगा सकते हैं, ऐसे में नए आईसीयू बेड्स की व्यवस्था करना बेहद जरूरी है.

डॉ. शेट्टी के मुताबिक, सिर्फ बेड्स नहीं बल्कि स्टाफ को भी बढ़ाने की जरूरत है. मौजूदा ट्रेंड के हिसाब से दो लाख नर्स, डेढ़ लाख डॉक्टर अतिरिक्त बढ़ाने की जरूरत है. क्योंकि मौजूदा हालात अगले 4-5 महीने तक बने रहे सकते हैं.

Advertisement

उन्होंने सुझाव दिया है कि भारत में करीब सवा दो लाख ऐसे नर्सिंग स्टूडेंट हैं जो अपनी पढ़ाई के आखिरी साल या थर्ड ईयर में हैं, ऐसे में उन्हें इस्तेमाल किया जा सकता है. उनका कहना है कि हजारों स्टूडेंट या भविष्य के डॉक्टरों का इस वक्त इस्तेमाल किया जा सकता है, क्योंकि यह युद्ध जैसे हालात हो गए हैं.

Critical non-Covid patients may suffer if 80% ICU beds are blocked: Delhi private hospitals - The Economic Times

भारत में हर दिन के साथ बिगड़ रहे हैं हालात

बता दें कि भारत में पिछले करीब दस दिनों से हर रोज 3 लाख से ज्यादा केस आ रहे हैं. यानी बीते 10 दिनों में ही 30 लाख केस आ गए हैं, वहीं अब औसतन 3 हजार के करीब मौतें हो रही हैं, जो डरावना है. दिल्ली, महाराष्ट्र, यूपी समेत कई राज्यों में इस वक्त ऑक्सीजन का संकट है. जो हर दिन के साथ गहराता जा रहा है.

भारत में कोरोना का हाल:

•    24 घंटे में कुल केस: 3,79,257
•    24 घंटे में कुल मौत: 3645
•    कुल केस की संख्या: 1,83,76,524
•    कुल मौतों की संख्या: 2,04,832
•    एक्टिव केसों की संख्या: 30,84,814
•    अबतक लगी कुल वैक्सीन की डोज़: 15,00,20,648

Source : Aaj Tak

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *