Connect with us

पानीपत

इस वजह से होने लगे चालान, आप भी ध्यान रखें इस बात का – नंबर प्लेट को लेकर सावधान

Published

on

Advertisement

इस वजह से होने लगे चालान, आप भी ध्यान रखें इस बात का – नंबर प्लेट को लेकर सावधान

 

सड़क पर चल रहे हर वाहन पर हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट होना अब जरूरी हो गया है। वाहन पर न यह नंबर प्लेट मिलने पर पुलिस अब प्राथमिकता से चालान कर रही है। लेकिन हाई सिक्योरिटी प्लेट लगवाने में लंबी भीड़ लग रही है। एक ही फर्म को काम अलॉट होने से वेटिंग चल रही है। उन लोगों को ज्यादा परेशानी हो रही है जिनके पास पंजाब, हिमाचल व यूपी नंबर के पुराने अर्थात 6 से 8साल पुराने वाहन हैं। लिंक उत्सव रजिस्ट्रेशन प्राइवेट लिमिटेड के कर्मचारियों का कहना है कि अन्य स्टेट से एक अप्रैल 2019 के बाद रजिस्ट्रेशन हुए वाहन पर तो हाई सिक्योरिटी प्लेट सोनीपत में ही लगाने की सुविधा है, लेकिन इससे पुराने वाहनों को नंबर प्लेट लगवाने के लिए उसी स्टेट में जाना होगा।

Advertisement

हर दिन 500 प्लेट बन रही हैं, इस रफ्तार से लग जाएंगे सालों

Advertisement

सोनीपत में हर दिन 500 हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट बन रही हैं। यह आथोराइज वर्कशॉप, कंपनी के अधिकृत सेंटर पर लगाई जा रही हैं। एक महीने में करीब 15000 नंबर प्लेट बनाकर लगाई जा रही है। इस रफ्तार से एक साल में एक लाख 180000 हजार नंबर प्लेट ही लग पाएंगी। जबकि करीब चार लाख वाहनों पर यह नंबर प्लेट लगनी बाकी है। ऐसे में इस प्रक्रिया में करीब 2 साल का समय लग सकता है। जबकि यह नंबर प्लेट लगाने का समय करीब दो महीने बताया जा रहा है।

यह है हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट की फीस
कार की फीस- 701
स्कूटी की फीस- 274
बाइक की फीस- 253
ट्रक की फीस- 666

Advertisement

 

सिक्याेरिटी प्लेट के फायदे

चोरी व लूटी गई बाइक को ट्रेस करना इस नंबर प्लेट से आसान। इस नंबर प्लेट पर लेजर कोड होता है। यह कोड कंप्यूटर पर एचएसआरपी की साइट पर डालते ही वाहन की पूरी जानकारी देता है।

हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट की डुप्लीकेट नहीं बन सकती। इसके प्लेट पर नंबर उभरे हुए होते हैं। इसके साथ यह नंबर प्लेट स्नेप लॉक लगी होती है।

 

ऑनलाइन सुविधा नहीं

सोनीपत में फिलहाल हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट के लिए ऑनलाइन आवेदन की सुविधा भी नहीं मिल रही। जिसके चलते भीड़ बढ़ रही है। कामकाजी लोग ज्यादा परेशान हैं। इन्हें एक दिन फीस के लिए लाइन में लगाना पड़ रहा है तो एक दिन नंबर प्लेट लगवाने के लिए । जबकि दिल्ली, यूपी में ऑनलाइन सुविधा लोगों दी जा रही है। लोगों ने बताया कि ऑनलाइन आवेदन व ऑनलाइन फीस की व्यवस्था की जाए।

 

2 माह में सवा 700 चालान

हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट न लगवाने वाले वाहन चालकों के चालान किए जा रहे हैं। दो माह में उनकी टीमों ने करीब सवा सात सौ चालान किए हैं। -शिव दर्शन, सिटी ट्रैफिक थाना प्रभारी।

हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगवाना अब जरूरी है। इसके साथ नीले व संतरिया कलर का होलो ग्राम भी लगवाना होगा। नीला पैट्रोल व सीएनजी की गाड़ी पर लगेंगा और आरेंज डीजल की गाड़ियों पर। मार्केट में कुछ लोग हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट कहकर लोगों को फर्जी प्लेट दे रहे हैं।-देवेंद्र, एरिया सेल्स मैनेजर, लिंक उत्सव रजिस्ट्रेशन प्लेट प्राइवेट लिमिटेड ।

 

Source : Bhaskar

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *