Connect with us

City

आईओसी पानीपत में देश का पहला मेलिक एनहाइड्राइड कारखाना लगाएगी

Published

on

Advertisement

आईओसी पानीपत में देश का पहला मेलिक एनहाइड्राइड कारखाना लगाएगी

नयी दिल्ली, एक नवंबर (भाषा) सार्वजनिक क्षेत्र की इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन (आईओसी) ने सोमवार को कहा कि वह हरियाणा में अपनी पानीपत रिफाइनरी और पेट्रोलियम परिसर (पीआरपीसी) में मूल्य वर्धित रासायनिक उत्पादों के विनिर्माण के लिये 3,681 करोड़ रुपये के निवेश से देश का पहला वृहत आकार का मेलिक एनहाइड्राइड कारखाना स्थापित करेगी।

कंपनी ने एक बयान में कहा कि परियोजना का क्रियान्वयन चरण-1 निवेश मंजूरी से 54 महीनों में किया जाएगा।

Advertisement

परियोजना की क्षमता 1,20,000 टन सालाना मेलिक एनहाइड्राइड (एमएएच) की होगी। इसका उपयोग पॉलिएस्टर रेजिन, कृषि रसायनों जैसे विशेष उत्पादों के विनिर्माण में होता है।

Advertisement

कारखाने में 20,000 टन प्रति वर्ष बुटानेडियोल (बीडीओ) का भी उत्पादन होगा। इसका उपयोग पॉली यूरेथेन (पीयू) और पॉली ब्यूटिलीन टेरेफ्थेलेट्स (पीबीटी) – इंजीनियरिंग स्तर के प्लास्टिक और ‘बायोडिग्रेडेबल फाइबर‘ में होता है।

इसके अलावा, औषधि उद्योग को गति देने के लिये इस संयंत्र से मूल्यवर्धित रसायन 16,000 टन टेट्रा हाइड्रो फुरान (टीएचएफ) का भी उत्पादन किया जाएगा।

Advertisement

आईओसी के निदेशक मंडल की पिछले सप्ताह हुई बैठक में परियोजना में निवेश को मंजूरी दी गयी।

इस बारे में आईओसी के चेयरमैन, एस एम वैद्य ने कहा, ‘‘फिलहाल अधिक मांग वाले रसायनों का ज्यादातर हिस्सा आयात किया जाता है। प्रस्तावित एमएएच कारखाना आयात निर्भरता को कम करेगा और प्रतिवर्ष लगभग 15 करोड़ डॉलर की विदेशी मुद्रा को बचाएगा…।’’

Advertisement