Connect with us

विशेष

अगले 24 घंटे में गिर सकती है खट्टर सरकार, हरियाणा में राजनैतिक तूफ़ान के संकेत

Published

on

Advertisement

हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) ने कहा कि उम्मीद है कि अगले 24 से 40 घंटे में केंद्र और किसान संगठनों के बीच अगले दौर की बातचीत होगी. उन्होंने कहा कि केंद्र गतिरोध खत्म करने के लिए ‘सकारात्मक’ है.

दुष्‍यंत चौटाला ने दी धमकी, …इस्‍तीफा दे दूंगा

 
हमारी पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष ने पहले ही साफ कर दिया था कि किसानों को एमएसपी मिलना ही चाहिए। केंद्र सरकार ने कल जो लिखित प्रस्‍ताव दिए, उनमें भी एमएसपी शामिल है। मैं जबतक डेप्‍युटी सीएम हूं तब तक किसानों को एमएसपी दिलाने के लिए काम करूंगा। अगर नहीं दिला पाया तो इस्‍तीफा दे दूंगा।
दुष्‍यंत चौटाला, जेजेपी नेता
 

Advertisement

​किसान आंदोलन के बीच हरियाणा में बढ़ी राजनीतिक हलचल

किसान आंदोलन को लेकर हरियाणा में राजनीतिक उलटफेर की स्थिति बनती नजर आ रही है। बीजेपी की सहयोगी दुष्यंत चौटाला की जननायक जनता पार्टी (JJP) में भी कृषि कानूनों को लेकर हरियाणा में सरकार से अलग होने की मांग तेज होने लगी है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक डेप्युटी सीएम दुष्यंत चौटाला ने हाल ही में इस मुद्दे पर विधायकों के साथ बैठक की।

​सत्ता बनाने-बिगाड़ने की स्थिति में दुष्यंत चौटाला

दुष्यंत चौटाला पर दबाव बढ़ता जा रहा है। बैठक में पार्टी विधायकों से किसान आंदोलन का उनके क्षेत्र में असर, राज्यों को लोगों के रुख आदि के बारे में फीडबैक लिया गया। खास बात है कि दुष्यंत की पार्टी के पास केवल 10 विधायक ही हैं। लेकिन फिर भी हरियाणा की सत्ता को बनाने-बिगाड़ने की स्थिति में हैं।

Advertisement

नई दिल्ली: कृषि कानूनों (Agriculture Laws) के खिलाफ किसानों का प्रदर्शन (Farmers Protest) लगातार 18वें दिन भी जारी है और वे कानूनों को खत्म करने की मांग पर अड़े हैं. इस बीच हरियाणा के उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) ने उम्मीद जताई है कि किसानों का मसला जल्द सुलझ जाएगा. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अगले 24 से 40 घंटे में केंद्र और किसान संगठनों के बीच अगले दौर की बातचीत हो सकती है.

दुष्यंत चौटाला ने की केंद्रीय मंत्रियों से मुलाकात

Advertisement

जननायक जनता पार्टी के नेता दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) ने किसानों के प्रदर्शन (Farmers Protest) के बीच शनिवार को रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल और केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर (Narendra Singh Tomar) से मुलाकात की थी. इस दौरान उन्होंने केंद्र से किसान आंदोलन खत्म कराने की दिशा में उचित कदम उठाने की मांग की थी.

24 से 40 घंटे में अगले दौर की बातचीत’

केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर से मुलाकात के बाद एएनआई से बात करते हुए दुष्यंत चौटाला (Dushyant Chautala) ने कहा कि उम्मीद है कि अगले 24 से 40 घंटे में केंद्र और किसान संगठनों के बीच अगले दौर की बातचीत होगी. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि केंद्र गतिरोध समाप्त करने के लिए ‘सकारात्मक’ है और अगले दौर की वार्ता से संकट को हल करने में मदद मिलेगी.

दुष्यंत चौटाला ने किसानों को दिया भरोसा

दुष्यंत चौटाला ने कहा, ‘किसानों के अधिकारों को सुरक्षित करने के लिए उनके प्रतिनिधि के रूप में यह मेरी जिम्मेदारी है. मैंने केंद्रीय मंत्रियों से इस विषय पर चर्चा की, मुझे उम्मीद है कि आपसी सहमति से रास्ता मिल जाएगा और गतिरोध का समाधान हो जाएगा.’ इसके साथ ही उन्होंने कहा, ‘जब तक मैं राज्य सरकार का हिस्सा हूं, प्रत्येक किसान की फसल की खरीद सरकार की ओर से निर्धारित न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) पर सुनिश्चित की जाएगी.’

Source NBT

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *