Connect with us

City

जानिए किसको आया 90 करोड़ का बिल, यह कैसी गड़बड़

Published

on

Advertisement

बिजली विभाग (Electricity Department) की गड़बड़ियों के किस्से तो आपने सुने होंगे, लेकिन हरियाणा के सिरसा (Sirsa) में विभाग की एक लापरवाही चर्चा का विषय बन गई है. जी हां, यहां के कलांवली इलाके में चलने वाली एक राइस मिल को तकनीकी गड़बड़ी की वजह से विभाग ने 90 करोड़ रुपए से ज्यादा का बिल भेज दिया है. लॉकडाउन के दौरान बंद पड़ी मिल के ऊपर इतना भारी-भरकम बकाया देखकर राइस मिल (Rice Mill) संचालक के भी होश उड़ गए हैं. उसका कहना है कि आम तौर पर जहां 5-6 लाख का बिल आता था, उसकी जगह इस बार पूरे 90.137 करोड़ रुपए का बिल भेजा गया है.

यह पूरा मामला सिरसा के कलांवली इलाके में चलने वाली गणेश राइस इंडस्ट्रीज का है. बिजली विभाग ने इस मिल के संचालक को बीते दिनों 90.137 करोड़ रुपए का बिजली बिल भेजा है. राइस मिल के संचालक ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि भारी-भरकम बिजली बिल का ऐसा मामला पहली बार सामने आया है. उन्होंने कहा कि आम तौर पर मिल में जितनी बिजली खपत होती है, उसके मद्देनजर 5 से 6 लाख रुपए के बीच में ही बिल आता है, लेकिन इस बार तो हद हो गई. उन्होंने कहा कि फैक्ट्री चलने के दौरान इतना बिल आम बात है, लेकिन अभी जबकि कोरोना लॉकडाउन की वजह से काम-धंधा बंद है, फैक्ट्री भी बंद पड़ी है, ऐसे में 90 करोड़ रुपए से ज्यादा का बिल समझ से परे है.

Advertisement

इस गड़बड़ी को जल्द ही ठीक कर लिया जाएगा
उधर, 90 करोड़ रुपए से ज्यादा बिल भेजे जाने का मामला सामने आने के बाद बिजली विभाग में हड़कंप मच गया. आनन-फानन में इस भारी-भरकम बकाया राशि की जांच की गई तो पता चला कि सॉफ्टवेयर की गड़बड़ी से राइस मिल के ऊपर 90.137 करोड़ रुपए का बिल जेनरेट हो गया. सब-डिविजनल ऑफिसर रवि कुमार ने एएनआई को बताया कि नए सॉफ्टवेयर में आई गड़बड़ी की वजह से राइस मिल के ऊपर इतना बकाया बिल दिख रहा है. इस गड़बड़ी को जल्द ही ठीक कर लिया जाएगा.

Advertisement
Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *