Connect with us

City

पानीपत में सेंध मारकर लाखों रुपए की चोरी

Published

on

Advertisement

दादा ने दो पोतियों के जन्म पर गुल्लक में पैसे जोड़ना शुरू किए थे, चोर ले गए 1 लाख रुपए समेत अन्य कीमती सामान

हरियाणा के पानीपत जिले में चोरों ने बंद मकान की पीछे की दीवार में छेद करके डेढ़ लाख रुपए की चोरी को अंजाम दे दिया। पीड़ित ने 11 दिन पहले ही किराए पर लिए मकान में सामान शिफ्ट करना शुरू किया था। पूरा सामान शिफ्ट न होने के कारण पीड़ित अपने पुराने मकान में ही परिवार के साथ रह रहा था। इसका फायदा उठाकर चोरों ने मकान के पीछे की दीवार में छेद करके चोरी कर ली।

अलमारी से गुल्लक चोरी होने की जानकारी देते पीड़ित। - Dainik Bhaskar

Advertisement

चोर दो बच्चियों के नाम पर गुल्लक में जमा करीब एक लाख रुपए की नकदी के साथ कीमती कपड़े और नल की करीब 20 टोंटी भी उतारकर ले गए। पुलिस ने एक TV और एक खाली बैग बरामद किया है। पीड़ित की शिकायत पर सिटी थाना पुलिस ने अज्ञात चोरों के खिलाफ केस दर्ज किया है। मूलरूप से बापौली ब्लॉक के गांव जलमाना निवासी सेठपाल ने पुलिस को शिकायत दी है।

सेठपाल ने बताया कि वह काफी समय से पानीपत की बिशन स्वरूप कॉलोनी में किराए पर रहते हैं। उनका बेटा रजनीश अपने परिवार के साथ TDI सिटी में किराए पर रहता है। 2 सितंबर को दोनों ने बिशन स्वरूप कॉलोनी स्थित एक पुलिस कर्मी का मकान पर किराए पर लिया था और वह दोनों जगह से अपना-अपना सामान शिफ्ट करने में लगे हैं। लेकिन रविवार को नए मकान में सामान शिफ्ट करने के बाद बेटा अपने परिवार के साथ उनके पास आकर सो गया।

Advertisement

रेलवे लाइन की तरफ से अंजाम दी गई वारदात

सुबह उठकर किराए पर लिए नए मकान में गए तो सामान बिखरा हुआ मिला और पीछे की दीवार टूटी मिली। अलमारी चेक की तो दो पोतियों के नाम की गुल्लक से पैसे और कीमती कपड़े गायब थे। 3 बाथरूम में लगी करीब 20 टोंटी नहीं मिली। उन्होंने मामले की सूचना सिटी थाना पुलिस को दी। छानबीन में रेलवे लाइन की तरफ टॉवल में बंधा एक TV और एक खाली बैग मिला। चोरों ने रेलवे लाइन की तरफ से दीवार में छेद करने के बाद बाथरूम से मकान में प्रवेश किया था।

Advertisement

पोती के होने के बाद से ही बना ली थी गुल्लक

सेठपाल ने बताया कि वह सोडा और पानी की सप्लाई का काम करते हैं। बेटा रजनीश एक फैक्ट्री में काम करता है। उन्होंने करीब साढ़े चार साल पहले पोती दिव्यांशी के जन्म के साथ ही उसके नाम की गुल्लक में पैसे जोड़ने शुरू किए थे। 6 महीने पहले दूसरी पोती तिश्या का जन्म हुआ तो उन्होंने उसके नाम की गुल्लक लाकर पैसे जोड़ने शुरू कर दिए। दोनों गुल्लक में करीब एक लाख रुपए जमा थे। चोर गुल्लक के साथ कीमती कपड़े और टोंटी भी ले गए। जबकि बड़ा TV छेद से पार न होने के कारण छोड़ना पड़ा और दूसरा TV कुछ दूरी पर मिला है।

Advertisement