Connect with us

पानीपत

पॉश इलाक़े मॉडल टाउन में खोद रहे गढ्ढे, अडानी कंपनी खुले छोड़े गढ्ढे, गैस लाइन बिछाने का कार्य

Published

on

Spread the love

पॉश इलाक़े मॉडल टाउन में खोद रहे गढ्ढे, अडानी कंपनी खुले छोड़े गढ्ढे, गैस लाइन बिछाने का कार्य

मॉडल टाउन में पाइप्ड नेचुरल गैस (पीएनजी) लाइन बिछाने के लिए शिवाजी स्टेडियम के पास सड़क खोद रहे प्राइवेट कर्मचारियों का लोगों ने विरोध कर दिया। मॉडल टाउनवासियों ने पाइप लाइन बिछाने के दौरान पहले खोदे गए गड्ढों को भरने के बाद ही आगे काम शुरू करने की बात कही। इंडियन ऑयल अडानी गैस प्राइवेट लिमिटेड कंपनी(आइओएजीपीएल) के कर्मचारियों पर शहर की सड़कों और गलियों को खोखला करने का आरोप लगाया। लगभग दो घंटे चले हंगामे के बाद कर्मचारी वापस लौट गए।

मॉडल टाउन वासी रचित जग्गा, मोहित बजाज, वैभव छाबड़ा, संजय काठपाल, बॉबी गुप्ता, ललित कुमार, पंकज दुआ ने बताया कि कंपनी ने लगभग छह माह पहले पाइप लाइन बिछाने का काम शुरू किया था। पीएनजी बिछाने के बहाने आइओएजीपीएल कंपनी के कर्मचारी शहर की सड़कों को खोखला कर रहे हैं। पाइप लाइन के खुले पड़े गड्ढों में पानी भर गया है। कर्मचारी सिर्फ गड्ढे खोदकर मशीनों के सहारे पाइप लाइन बिछाते हैं। जल्द ही गड्ढा भरने का आश्वासन देकर चले जाते हैं। हालात ये हैं कि मॉडल टाउन, शांति नगर, विराट नगर और आस-पास की अधिकतर कालोनियों की सड़कें और गलियां अब टूटी-फूटी हालत में पड़ी हैं। वहीं शहर के मुख्य चौक-चौराहों पर गैस लाइन का कोई मैप या संकेतक बोर्ड भी नहीं लगा हुआ है।

4 मार्च को लगी भी वॉल्व चेंबर में आग

जाटल रोड फ्लाईओवर के पास 4 मार्च को पीएनजी पाइप लाइन के वॉल्व चेंबर में आग लग गई थी। लगभग दो घंटे आग भभकी तो आस-पास के लोग दहशत में घरों में घुस गए। प्रशासन ने भी जाटल रोड और 8 मरला चौक के आस-पास के इलाके को सील कर दिया था। जमकर हंगामा होने के बावजूद भी कंपनी के खिलाफ कोई खास कार्रवाई नहीं हुई थी।

गहरे गड्ढों में भरा पानी, कोई डूबा तो कौन जिम्मेदार

समाजसेवी गौरव लीखा ने बताया कि इलाके में हर 15-20 फीट की दूरी पर कंपनी कर्मचारियों ने लगभग साढ़े चार फीट चौड़ा और छह फीट गहरा गड्ढा खोद दिया है। इन खुले पड़े गड्ढों में अब बरसाती पानी भर गया है, जिस कारण ये किसी को दिखाई नहीं देते। अगर कोई पैदल राहगीर या बच्चा गड्ढे में गिर गया तो उसकी जान भी जा सकती है। ऐसे हादसे के लिए कौन जिम्मेदार होगा?

ट्रांसफार्मर के पास ही गड्ढा 

लापरवाही इतनी बरती की जिन खंभों पर ट्रांसफार्मर रखा हुआ है, ठीक उसी के साथ गड्ढा खोद दिया है। अगर खंभे गिरते हैं तो बड़ा हादसा हो सकता है।

कंपनी कर्मचारियों के खिलाफ मॉडल टाउन थाना पुलिस को शिकायत दे दी है। जब तक कंपनी कर्मचारी पहले खोदे हुए गड्ढे नहीं भरते, उन्हें आगे काम नहीं करने दिया जाएगा। निगम अधिकारियों को भी शिकायत दे चुके है, जल्द ही कड़ी कार्रवाई कराई जाएगी।

लोकेश नांगरू, वार्ड 19 पार्षद