Connect with us

पानीपत

पकड़े गए तिजोरी काटकर चोरी करने वाले युवक, 70 लाख की चोरी का मामला

Published

on

Advertisement

पकड़े गए तिजोरी काटकर चोरी करने वाले युवक, 70 लाख की चोरी का मामला

स्वर्णकार संघ के प्रधान एवं बादशाह ज्वेलर्स के मालिक चंद्र सहगल के घर में 70 लाख की चोरी के आरोपी फैमिली ड्राइवर जितेंद्र गुप्ता और उसका चोर दोस्त सन्नी उर्फ गंगोईया 4 माह में 3 बड़ी चोरी कर लखपति बन गए थे। तीनों चोरियों में उनसे व उनके साथियों से करीब 50 लाख गहने, 12 लाख रुपए, गहने बेचकर खरीदी गई 3 लाख की स्कोडा कार बरामद हो चुकी है। दोनों को जेल भेज दिया।

सनौली रोड पर बैंक में करोड़ों रुपए की ज्वेलरी की डकैती के मामले के बाद यह दूसरी सबसे बड़ी बरामदगी हुई है। दोनों केस सीआईए-3 ने ट्रेस कर बड़े पैमाने पर बरामदगी की। तीनों केस में जितेंद्र, सन्नी के अलावा जितेंद्र की मां-बहन और सन्नी की प्रेमिका व मामा अरेस्ट हो चुके हैं।

Advertisement

पानीपत. पुलिस ने आरोपियों से गहने किए बरामद। - Dainik Bhaskar

रेलवे व बबैल रोड से खरीदा था चोरी के लिए सामान

Advertisement

सीआईए-3 इंचार्ज अनिल छिल्लर ने बताया कि खैल बाजार में तनुज की दीवान ज्वेलर्स में चोरी से पहले सन्नी व जितेंद्र ने पूरा प्लान बनाया था। जितेंद्र ने सोशल मीडिया पर तिजोरी को काटने की विधि देखी। इनको ऑक्सीजन सिलेंडर, रेगुलेटर, मीटर पाइप, मैल्टिंग गन (कटर) और एलपीजी सिलेंडर की जरूरत थी। 4 जनवरी को जितेंद्र रेलवे रोड भंडारी गैसेस और रामा ट्रेडर्स दुकान से ऑक्सीजन गैस सिलेंडर का रेगुलेटर, मीटर पाइप गैस कटर खरीदा। फिर बबैल रोड राहुल करी दुकान से भरा हुए छोटा एलपीजी सिलेंडर खरीदा। अगले दिन सन्नी व जितेंद्र ने भंडारी गैसेस शॉप से ऑक्सीजन गैस सिलेंडर खरीदे।

एक दिन पहले ही रख आए थे सिलेंडर

Advertisement

सन्नी व जितेंद्र ने घर पर स्टील की प्लेट काटकर डेमो किया तो सफल हो गए। डेमो में कुछ गैस खत्म हो गई। अगले दिन दोनों सिलेंडर दीवान ज्वेलर्स की छत पर रख आए। 7 जनवरी की रात जितेंद्र ने दुकान के बाहर निगरानी के लिए खड़ा हो गया। सन्नी एक्जॉस्ट फैन को तोड़कर दीवान ज्वेलर्स शॉप में घुसा। सिलेंडर से तिजोरी काटी, लेकिन गैस खत्म हो गई। तब गैस सिलेंडर दुकान में छोड़ सन्नी करीब 3 किलो चांदी के गहने चोरी कर जितेंद्र के साथ भाग गया। दोनों से पूरी ज्वैलरी बरामद हो गई।

आरोपियों से यह माल बरामद हुआ : दीवान ज्वेलर्स का मालिक पहले केस दर्ज नहीं करा रहा था। जब आरोपी पकड़े गए तो अखबारों में खबर पढ़कर तनुज ने केस दर्ज कराया। अब सीआईए-3 ने आरोपियों से चांदी के बच्चों के 31 कड़े, 6 पायजेब, 11 छोटे-बड़े दिए, 4 छोटे-बड़े छत्र, 2 कटोरी, 55 छल्ले व अंगूठी, एक गुच्छा, 15 तबीज, 4 नजर धागे, 68 घुंघरू, एक सांप, 45 यू हुक, 70 छोटे घुंंघरू, चांद, सूरज, 44 मूर्तियां, 35 छोटे हुक समेत करीब 3 किलो चांदी बरामद की।

 

 

 

Source : Bhaskar

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *