Connect with us

पानीपत

लोन का झांसा देकर लोगों से कई-कई हजार रुपए ऐंठे, अब दफ्तर खाली करके भागे कंपनी के संचालक

Published

on

Advertisement

लोन का झांसा देकर लोगों से कई-कई हजार रुपए ऐंठे, अब दफ्तर खाली करके भागे कंपनी के संचालक

पानीपत में ठगी का मामला सामने आया है। महादेव फाइनांशियल कंसल्टेंट नाम की एक कंपनी ने लोगों को एक से डेढ़ लाख रुपए तक के लोन देने की बात कही। इस लोन के प्रोसेस चार्ज के नाम पर लोगों से कई हजार रुपए और डॉक्युमेंट्स लिए गए। इसके बाद कंपनी चलाने वाले लोग दफ्तर बंद कर फरार हैं। गुस्साए लोगों ने शुक्रवार को कंपनी के दफ्तर के बाहर जमकर हंगामा किया।

Advertisement
तहसील चौक पर महादेव फाइनांशियल कंसल्टेंट नामक कंपनी का साइन बोर्ड लगा हुआ है। जिसके नीचे स्थित दफ्तर शुक्रवार को खाली मिला।
तहसील चौक पर महादेव फाइनांशियल कंसल्टेंट नामक कंपनी का साइन बोर्ड लगा हुआ है। जिसके नीचे स्थित दफ्तर शुक्रवार को खाली मिला।

शुक्रवार दोपहर करीब 12 बजे पानीपत में नेशनल हाईवे पर तहसील चौक स्थित एक कंपनी के ऑफिस के बाहर एकाएक खासी भीड़ जमा हो गई। लोगों ने बताया कि दो महीने पहले ही महादेव फाइनांशियल कंसल्टेंट नामक एक कंपनी ने यहां दफ्तर खोला था। इस कंपनी के संचालकों ने लोगों को एक से डेढ़ लाख रुपए तक को लोन देने की बात कही थी। हनुमान कॉलोनी, डाबर कॉलोनी और महादेव कॉलोनी समेत आसपास के इलाके के करीब 250 से 300 लोग इस कंपनी के साथ जुड़ गए।

धोखाधड़ी के बारे में जानकारी देते एक शहरी।
धोखाधड़ी के बारे में जानकारी देते एक शहरी।

लोगों का कहना है कि कंपनी के संचालकों ने उनसे 1-1 हजार रुपए आईटीआर के नाम पर लिए तो ढाई-ढाई हजार प्रोजेक्ट फाइल के नाम पर भी ऐंठे। लोन दिन के लिए 10 अक्टूबर का वक्त दिया गया था, लेकिन इससे ठीक पहले ही वो लोग फरार हो गए। इस बात का पता तब चला, जब जरूरी जानकारी के लिए एक व्यक्ति ने फोन किया तो कंपनी के संचालकों के सभी नंबर बंद आने लगे। उसके बाद यहां दफ्तर में आकर मिलने की कोशिश की तो दफ्तर भी खाली पड़ा मिला। इसी के चलते जैसे-जैसे लोगों को शक होता गया, वैसे ही यहां जमा होना शुरू हो गए। अब उनकी तैयारी इस मामले को पुलिस में जाने की है।

Advertisement

 

Source : Bhaskar

Advertisement
Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *