Connect with us

पानीपत

विधायक विज समेत दो महीने बाद दोबारा 1 दिन में 51 केस मिले, 126 की अब तक हाे चुकी माैत

Published

on

Advertisement

विधायक विज समेत दो महीने बाद दोबारा 1 दिन में 51 केस मिले, 126 की अब तक हाे चुकी माैत

जिले में सोमवार को शहरी विधायक प्रमोद विज सहित 51 नए केस मिले। हालांकि विधायक की रिपाेर्ट स्वास्थ्य विभाग ने जारी नहीं की है। वहीं एक दिन में 93 लाेगाें ने काेराेना काे हराया भी। यह 56 दिनाें में सबसे ज्यादा रिकवरी का आंकड़ा है। इससे पहले 5 अक्टूबर काे 103 लाेगाें ने काेराेना काे हराया था। एक ही दिन में एक्टिव केस भी 43 घट गए। 30 नवंबर तक जिले में 564 एक्टिव केस थे, वहीं एक दिसंबर काे जिले में एक्टिव केस घटकर अब 521 केस रह गए हैं। ये कुल केसाें का 5.50 प्रतिशत है। यानी इन 521 लाेगाें का काेराेना का इलाज जारी है।

Advertisement

इनमें सबसे ज्यादा 400 लाेगाें का हाेम आइसाेलेशन में इलाज चल रहा है। वहीं 32 लाेगाें का इलाज प्राइवेट अस्पताल में और 57 लाेगाें का बाहरी जिलाें में। 10 लाेगाें का सिविल अस्पताल में और 12 लाेगाें का खानपुर अस्पताल में इलाज चल रहा है। जिले में काेराेना के कुल केसाें का आंकड़ा 9467 पर पहुंच गया है। रिकवरी आंकड़ा 8813 पर पहुंचा है। जिले में अब तक 126 लाेगाें की माैत हुई है। वहीं 6 केस अनट्रेस हैं। मंगलवार काे जिले में 1132 लाेगाें के सैंपल लिए गए हैं, जिनकी रिपोर्ट पेंडिंग है।

 

Advertisement

दिन में प्रशासनिक अफसरों की मीटिंग में मौजूद थे विज

भाजपा के शहरी विधायक प्रमाेद विज मंगलवार काे पाॅजिटिव पाए गए हैं। हालांकि उनकी रिपाेर्ट स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी नहीं की गई है। मंगलवार काे पाॅजिटिव पाए जाने के बाद विधायक विज ने खुद फेसबुक व अन्य साेशल साइट से पाॅजिटिव हाेने की जानकारी दी है। उन्हाेंने बताया कि कोरोना के शुरुआती लक्षण आने के बाद कोरोना टेस्ट करवाया था। इसमें मंगलवार काे रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उन्हाेंने सभी से अनुराेध है कि पिछले कुछ दिनों में जो भी मेरे सम्पर्क में आएं हैं वे सभी अपनी जांच करवाएं। विधायक विज ने मंगलवार काे लघु सचिवालय में प्रशासन के अधिकारियाें के साथ भी मीटिंग की और लाेगाें से भी मिले हैं।

Advertisement

 

शनिवार के लिए सैंपलाें में साढ़े 3 हजार से ज्यादा रिपाेर्ट पेंडिंग

29 नवंबर काे सैंपलिंग डे मनाते हुए 5141 लाेगाें के सैंपल लिए थे। इनमें 4382 लाेगाें के आरटीपीसीआर सैंपल लिए थे। इनमें से अब तक करीब 3500 लाेगाें की रिपाेर्ट पेंडिंग हैं ताे वहीं राेजाना लिए गए सैंपलाें की भी पेंडिंग रिपाेर्ट बढ़ रही है। सैंपलिंग डे पर लिए गए सैंपलाें में 300 से ज्यादा काॅलेज के छात्र भी हैं। उन्हें एडमिशन में रिपाेर्ट दिखानी है।

नवंबर में फिर बढ़े केस, मौतें भी ज्यादा

नवंबर में 23 लाेगाें की जान गई। जबकि जुलाई में सिर्फ 8 और अक्टूबर में 14 लाेगाें की माैत हुई है। जिले में काेराेना से जान गंवाने में बुजुर्ग सबसे आगे हैं। कुल 126 लाेगाें में 99 लाेग 50 से ज्यादा उम्र की है। इन 99 लाेगाें में 8 लाेगाें काे काेई बीमारी नहीं थी। जबकि 88 लाेगाें काे काेई न काेई बीमारी थी। नवंबर में 1405 केस मिले हैं। जबकि जुलाई में 956 और अक्टूबर में 637 केस मिले थे।

 

 

 

Source : Bhaskar

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *