Connect with us

पानीपत

मासाखोर और फल विक्रेता बोले- 24 दिन से बैठे हैं धरने पर, राजनेता आश्वासन देने तक नहीं आए

Published

on

Advertisement

मासाखोर और फल विक्रेता बोले- 24 दिन से बैठे हैं धरने पर, राजनेता आश्वासन देने तक नहीं आए

 

सनाैली राेड स्थित सब्जी मंडी के शिफ्टिंग के विरोध में आए मासाखोर और फल विक्रेताओं का धरना 24वें दिन बुधवार को भी जारी रहा। मासाखोर और फल विक्रेता बोले कि वह 24 दिन से धरने पर बैठे हैं लेकिन एक भी प्रतिनिधि और राजनेता उनकी बात सुनने तक नहीं आया है। वह अपने एक साथी को खो चुके हैं। इसके बाद भी प्रशासनिक अधिकारियों के कानों पर जूं पर नहीं रेंग रही है। इससे धरने पर बैठे लोगों में रोष बढ़ता ही जा रहा है। जल्द ही समाधान न हुआ तो वह सड़क पर आ जाएंगे। उग्र प्रदर्शन करेंगे। इसकी पूरी जिम्मेदारी जिला प्रशासन की रहेगी।

Advertisement

मासाखाेर-फल विक्रेता एकता समिति प्रधान प्रेम सिंह ने कहा कि रोजगार को बचाने की जद्दोजहद में दो दिन पहले उनके साथी प्रकाश चंद ने धरनास्थल पर ही अपने प्राण त्याग दिए हैं। वह भी बलिदान देने से पीछे नहीं हटेंगे। जब रोजगार ही नहीं रहेगा तो ऐसी जिंदगी का क्या करेंगे। परिवार को भूखा मरते हुए नहीं देख सकते हैं। प्रशासनिक अधिकारियों द्वारा उनकी मांगों का न सुनना उनके अधिकारियों का हनन है। जबकि वह कोई बड़ी मांग नहीं कर रहे हैं। वह तो सिर्फ यहां एक छोटी मंडी मांग रहे हैं।

Advertisement

प्रेम ने बताया कि भूखहड़ताल पर बैठी महिलाओं की तबीयत भी बिगड़ती जा रही है। इस मौके पर उन्होंने ऐलान करते हुए कहा कि प्रशासनिक अधिकारी उन्हें रणनीति बदलने और उग्र प्रदर्शन करने को मजबूर कर रहे हैं। वह जल्द ही जनप्रतिनिधियों के ऑफिसों में जाकर धरने पर बैठ जाएंगे। इस अवसर पर सलीम, लखमी चंद कश्यप, बलवान सिंह ग्रोवर, संसार सिंह, देवेंद्र मलिक, सन्नी, जतिन, बंटी, विपिन, संजय सैनी, अजय तोमर, विक्की, भारत, रवि शर्मा, सतवीर कश्यप, राकेश देशवाल, दलबीर, जॉनी आदि मौजूद रहे।

 

Advertisement

Source : Bhaskar

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *