Connect with us

विशेष

हरियाणा के इन जिलों में रात 12 बजे से मोबाइल इंटरनेट सेवा रहेगी बंद

Published

on

Advertisement

केंद्र के कृषि कानूनों के विरोध में किसानों को आंदोलन जारी है. नए कृषि कानूनों (Farmers Protest) के खिलाफ आंदोलन कर रहे किसान अब जगह-जगह महापंचायत का आयोजन (kisan mahapanchayat ) कर रहे हैं. हरियाणा के करनाल में किसानों ने 7 सितंबर यानी मंगलवार को महापंचायत करने का फैसला किया है. किसानों की महापंचायत को देखते हुए हरियाणा सरकार ने करनाल समेत 5 जिलों में इंटरनेट सेवाएं निलंबित कर दी हैं. 6 सितंबर की रा 12 बजे से लेकर 7 सितंबर की रात 12 बजे तक इंटरनेट सेवाएं बंद रहेंगी.

हरियाणा सरकार ने करनाल में मंगलवार को किसान महापंचायत के आह्वान को देखते हुए कानून व्यवस्था के लिहाज से इंटरनेट सेवाएं निलंबित करने के निर्देश दिए हैं. इसके तहत सरकार ने करनाल, कुरुक्षेत्र, कैथल, जींद और पानीपत में मोबाइल इंटरनेट और एसएमएस सेवाएं बंद करने के आदेश दिए हैं. इन जिलों में सोमवार रात 12 बजे से लेकर मंगलवार की रात 12 बजे तक ये सेवाएं बंद रहेंगी.

Advertisement

राज्य सरकार ने कहा कि भड़काऊ सामग्री और अफवाहों के प्रचार प्रसार को रोकने के लिए यह फैसला लिया गया है. हरियाणा पुलिस के अनुसार, अगर जरूरत पड़ी तो करनाल में किसान महापंचायत के मद्देनजर सुबह 9 बजे से दिल्ली और अंबाला के बीच एनएच-44 पर रूट डायवर्जन भी लागू किया जाएगा.

Advertisement

 

आपको बता दें कि हरियाणा के गृह मंत्री अनिल विज ने कहा कि प्रजातांत्रिक देश है और प्रजातांत्रिक देश में किसी को भी आंदोलन करने का अधिकार है, लेकिन आंदोलन शांतिपूर्ण तरीके से होना चाहिए. हमने पूरी व्यवस्था कर ली है और आम आदमी के लिए एडवाइजरी भी जारी की है. कुछ रास्ते को डायवर्ट किया गया है. उन्होंने कहा कि आंदोलन की आड़ में आम आदमी की स्वतंत्रता को किसी भी तरह का खतरा नहीं होने देंगे.

Advertisement

 

अनिल विज ने कहा कि हमने मंगलवार के लिए पर्याप्त मात्रा में पुलिस फोर्स करनाल के अंदर लगाई है. उन्होंने कहा कि हमने एडीजीपी लॉ एंड ऑर्डर नवदीप विर्क की ड्यूटी लगाई है कि वह घेराव के दौरान वहीं मौजूद रहेंगे. विज ने कहा कि कोई भी प्रदर्शन करता है तो करें, लेकिन कानून के दायरे में रहकर अपनी बात रखे. शांति बनाए रखने का जिम्मा किसान नेताओं का भी है.

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *