Connect with us

पानीपत

पत्नी के बारे में गलत शब्द बोलने पर दोस्त की हत्या, बॉडी न फूले इसलिए पेट काटा, गड्ढे में शव नहीं दबा तो पैर भी काटे थे

Published

on

Advertisement

पत्नी के बारे में गलत शब्द बोलने पर दोस्त की हत्या, बॉडी न फूले इसलिए पेट काटा, गड्ढे में शव नहीं दबा तो पैर भी काटे थे

करहंस में हत्या कर शव को मछली फार्महाउस के तालाब किनारे दफनाने के मामले का सीआईए-1 ने शनिवार को खुलासा किया। फार्महाउस के मालिक ने तालाब के रखरखाव के लिए दो नौकर रामजी ऋषि और देवी सिंह रखा था। रामजी की पत्नी के बारे में देवीसिंह गलत बोलता था। उसने क्राइम पेट्रोल देखकर देवीसिंह की हत्या की साजिश रची। डीएसपी हेडक्वार्टर सतीश कुमार वत्स ने बताया कि दोनों तालाब किनारे झोपड़ी में पार्टी कर रहे थे।

कहासुनी होने पर खुदपाला (धारदार हथियार) गर्दन पर मारकर देवी सिंह की हत्या कर दी। फिर शव को तालाब किनारे गड्ढे में दफना दिया। 15 सितंबर की सुबह फार्म हाउस का मालिक दीवाना निवासी संदीप फार्महाउस पर गया तो उसे जमीन से बाहर सिर्फ हाथ दिखाई दिया। खुदाई में शव मिला।

Advertisement

शव मिलने के बाद भाग गया था आरोपी

सीआईए-1 प्रभारी राजपाल अहलावत, एसआई सतीश, हवलदार अनिल गुर्जर, बिजेंद्र व सिपाही दिनेश की टीम आरोपी की तलाश में जुटी थी। शव मिलने के बाद आरोपी बिहार जाने के लिए फार्महाउस से भाग गया। रुपए की तंगी के कारण वह बिहार न जाकर पंजाब चला गया। हत्या के बाद उसे नींद नहीं आ रही थी और व परेशान था। पंजाब से आकर उसने दीवाना और मनाना गांव के मौजिज लोगों को सच्चाई बताई। तब उन्होंने आरोपी रामजी को शुक्रवार शाम को सीआईए में पेश किया। आरोपी 5 दिन की रिमांड पर है।

Advertisement

6 माह पहले आया था नौकरी करने

52 वर्षीय रामजी पुत्र कल्लू बिहार के पूर्णिया जिले के डूमड़ा गांव का है। 6 माह पहले संदीप के पास नौकरी के लिए आया था। मृतक 51 वर्षीय देवीसिंह पुत्र कबूल सिंह करनाल के सूरज नगर का था। वह वारदात से 25 दिन पहले नौकरी पर आया था।

Advertisement

बड़ी निर्दयता से की थी हत्या

आरोपी रामजी ने कबूला कि वह मोबाइल पर क्राइम पेट्रोल देखता था। उसे डर था कि मौत के बाद डेडबॉडी फूलती है, इसलिए उसने हत्या के बाद चाकू से देवीसिंह का पेट काट दिया था। जब तालाब किनारे गड्‌ढा छोटा होने के कारण शव नहीं दबा तो उसने दोनों पैर काटकर शव को दफनाया था।

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *