Connect with us

विशेष

सबसे प्रभावशाली नेताओं में फिर नरेंद्र मोदी ने बनाई अपनी जगह, PM को लेकर लिखी गई ये बात

Published

on

सबसे प्रभावशाली नेताओं में फिर नरेंद्र मोदी ने बनाई अपनी जगह, PM को लेकर लिखी गई ये बात
Advertisement

साल 2020 के सबसे प्रभावशाली व्यक्तियों की सूची टाइम मैगजीन की ओर से जारी कर दी गई है। इस सूची में उन लोगों के नाम हैं, जो कि साल 2020 के सबसे प्रभावशाली लोग माने गए हैं। इस मैगजीन की और से हर साल अलग-अलग क्षेत्र के व्यक्तियों की सूची बनाई जाती है और इस बार भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को इस लिस्ट में जगह दी गई है।

Advertisement

इस मैगजीन की और से बनाई गई साल 2020 के सबसे प्रभावशाली व्यक्तियों की सूची में एक बार फिर से देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को शामिल किया गया है और ये अकेले ऐसे भारतीय नेता है, जिनका नाम इस लिस्ट में। मोदी के अलावा इस सूची में अन्य देशों के नेताओं के नाम भी शामिल हैं। आपको बता दें कि इस मैगजीन द्वारा रैंक नहीं दी जाती है। बस उन लोगों के नाम वो उनकी जानकारी दी जाती है, जो कि प्रभावशाली माने जाते हैं।

Advertisement

हालांकि इस बार टाइम मैगजीन ने अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप से पहले चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग का नाम लिखा है। जबकि सबसे पहले सूची में डॉ एंथोनी फौसी का नाम लिखा गया है और इनके बारे में जिक्र करते हुए कहा गया है कि नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ एलर्जी एंड इंफेक्शियस डिजीज के निदेशक के रूप में, डॉ. फौसी ने 36 वर्षों में छह राष्ट्रपतियों को सलाह दी है। इन्होंने कोरोना के समय भी अच्छा काम किया है।

मोदी के बारे में कही गई ये बात

मोदी के बारे में इस मैगजीन में लिखा गया है कि लोकतंत्र में वही सबसे बड़ा है। जिसे जितने ज्यादा वोट मिलते हैं। भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है और यहां हर धर्म के लोग रहते हैं। रोजगार के वादे को लेकर भारतीय जनता पार्टी सत्ता में आई और इसके बाद कई विवाद सामने आए।

Advertisement

इन भारतीय को भी किया गया शामिल

मोदी के अलावा इस मैगजीन में बॉलीवुड अभिनेता आयुष्मान खुराना, शाहीन बाग की दादी बिलकिस और प्रोफेसर रविंद्र गुप्ता को भी शामिल किया गया है। मैगजीन में आयुष्मान खुराना के अभिनय की तारीफ की गई है। वहीं बिलकिस के बारे में लिखा गया है कि इनकी उम्र 82 साल की है और वो शाहीन बाग की दादी के नाम से जानी जाती हैं।

आपको बता दें कि शाहीन बाग में प्रदर्शनों के दौरान बिलकिस चर्चा में आई थीं। जबकि प्रोफेसर रविंद्र गुप्ता के बारे में कहा गया है कि पिछले साल लंदन में एक मरीज को एचआईवी से मुक्ति दिलाने में इनकी अहम भूमिका है।

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *