Connect with us

पानीपत

हरीश शर्मा मामले में SIT की पूछताछ में आया नया पहलू, जाँच में हैरान कर देने वाला मोड़

Published

on

Advertisement

हरीश शर्मा मामले में SIT की पूछताछ में आया नया पहलू, जाँच में हैरान कर देने वाला मोड़

 

Advertisement

 

भाजपा नेता एवं पूर्व पार्षद हरीश शर्मा की खुदकुशी के मामले में एसआइटी
(स्पेशल इनवेस्टिगेशन टीम) ने रोहतक में वीरवार को तत्कालीन चौकी प्रभारी एसआइ बलजीत मलिक, इपसआइ महाब्ीर, दो युवकों से पांच घंटे पूछताछ की। एडीजीपी संवेप खिरवार की अगुवाई में बनी एसआइटी में एक वाक़या सामने आया, खुदकुशी से पहले दिवंगत हरीश शर्मा और बाद में उनकी पार्षद बेटी अंजली शर्मां ने मीडिया को बताया था कि एक राजनेता के इशारे पर उन्हें प्रताड़ित किया जा रहा है। वे जल्द ही राज खोलेंगे। देखना होगा की जाँच किसी नेता का नाम आता है या नहीं। एसआइटी भी हर पहलू को ध्यान में रखकर जांच कर रही है।

Advertisement

वीडियो कांफ्रेंसिंग से अंजली व उनकी मां से होगी पूछताछ

Advertisement

पार्षद अंजली शर्मा ने बताया कि शुक्रवार को डीएसपी कार्यालय में वीडियो कांफ्रेसिंग से एसआइटी उनसे व उनकी मां प्रेमलता से बात करेगी।उन दोनों ने रोहतक जाकर क्यान दर्ज कराने से इन्कार कर दिया था ।

Haryana Panipat Crime News Harish Sharma daughter Anjali says Pramod Vij Uncle will protest if not justice

एसआइटी पहले भी उनके, मां व भाई गौरव के ब्यान दर्ज कर चुकी है। उनके चाचा सतीश, पिता के दोस्त सोनू व राजेश शर्मा के बेटे आशीष ने भी रोहतक क्यान दर्ज कराने से इन्कार कर दिया था।

पुलिस अधिकारियों को बचाने का प्रयास

अंजली ने आरोप लगाया कि इस केस में आरोपित पूलिस अधिकारियों को बचाने का प्रयास किया जा रहा है।इस केस में कोई आम आदमी शामिल होता तो पुलिस अब तक उसे जेल भेज चुकी होती। मामले में एसपी सहित दो पुलिस अधिकारी शामिल होने के कारण अब तक गिरफ्तारी भी नहीं की गई। गृह मंत्री अनिल विज के आदेश के बाद भी मामले की सही से जांच नहीं की जा रही है।

यह है मामला

तहसील कैप चौकी पुलिस ने दीवाली के दिन पटाखे व बेचने के आरोप में पूर्व पर्द हरीश शर्मा और उनकी बेटी पार्षद अंजली शर्मा समेत 10 लोगों के खिलाफ 11धाराओं में केस दर्ज किया था।

Harish Sharma chopped ticket for three days, Bhola and Jain were beaten

पुलिस दबिश दे रही थी ।इसके बाद पूर्व पार्षद हरीश शर्मा ने 19 नवंबर को महराणा के पास नहर में कूदकर जान दे दी थी ।उन्हें बचाने के प्रयास में दौस्त राजेश शर्मा की भी छूबने से मौत हो गई थी ।अजली शर्मा के बयान पर थाना माडल टाउन में तत्कालीन एसपी मनीषा चौधरी,
तहसील कैंप चौकी इंचार्ज बलजीत मलिक और इएसआइ महादीर के आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज है।

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *