Connect with us

पानीपत

अरबों का टैक्स देने वाले पानीपत में सुरक्षा के लिए सीसीटीवी लगाने के लिए पैसे नहीं

Published

on

Advertisement

 

अरबों का टैक्स देने वाले पानीपत में सुरक्षा के लिए सीसीटीवी लगाने के लिए पैसे नहीं

Advertisement

 

शहर में गत दिनों हत्या जैसी संगीन वारदातों की गुत्थी सुलझाने में सीसीटीवी कैमरे पुलिस के लिए सबसे बड़े मददगार साबित हो चुके हैं। इसी को लेकर पुलिस ने शहर के चप्पे-चप्पे पर सीसीटीवी कैमरे लगाने का प्रपोजल तैयार किया है। 42 जगह 217 सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने हैं। इस मद पर 24 करोड़ रुपये खर्च होंगे। इस बारे में एसपी मनीषा चौधरी ने नगर निगम आयुक्त को पत्र लिखकर योजना को अमलीजामा पहनाने की बात कही है। निगम फंड का रोना रो रहा है। वर्ष 2018 में 12 करोड़ की लागत से 143 जगह सीसीटीवी लगने थे। तब भी नगर निगम फंड की कमी बता रहा था। अब बजट बढ़कर दोगुना हो गया है। शहर को सीसीटीवी कैमरे लगवाकर सुरक्षित रखने की योजना धरातल पर आने की बजाय ही फाइलों में दम तोड़ते नजर आ रही है।

Advertisement

तीसरी आंख पर बजट का पर्दा

करनाल से सीख लें तो लग सकते हैं सीसीटीवी

Advertisement

करनाल शहर में नगर निगम ने 2018 में 27 जगहों पर 129 सीसीटीवी कैमरे लगवा रखे हैं। पुलिस के अनुसार कैमरों की वजह से कई बड़ी आपराधिक वारदातों की गुत्थी सुलझी हैं। जहां पर कैमरे लगे हैं वहां पर वारदात भी कम हो गई हैं। अगर पानीपत औद्योगिक नगरी का नगर निगम करनाल से सीख ले तो शहर में सीसीटीवी लग सकते हैं।

पंचकूला घुमती रही फाइल

वर्ष 2019 में नगर निगम ने सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने के प्रपोजल स्वीकृति के लिए शहरी स्थानीय निकाय विभाग पंचकूला को भेजा था। खर्च राशि ज्यादा होने के कारण इसे मंजूरी नहीं मिली थी। तत्कालीन एडीसी प्रीति और डीएसपी मुख्यालय एवं ट्रैफिक प्रभारी सतीश कुमार ने बैठ कर सीसीटीवी का प्रपोजल तैयार किया था। फाइल पंचकूला भेजी और वहीं के कार्यालयों में घूमती रही।

सीसीटीवी कैमरों से इन वारदातों की गुत्थी सुलझी

– 6 जून 2017 को सोनीपत के आहुलाना गांव के गैंगस्टर अमरजीत के चाचा सतबीर पहलवान की लालबत्ती के पास गोली मारकर हत्या कर दी थी। घटनास्थल के पास लगे सीसीटीवी कैमरे में हत्या आरोपित रोहतक के रिठाल गांव के सन्नी देव उर्फ कुक्की गैंग के शूटर सोनीपत के भठगांव के संजीत उर्फ घोलू पहलवान व उसके साथी की तस्वीर कैद हो गई थी।

-26 सितंबर की रात को जीटी रोड गोशाला मंडी के पीछे एक अज्ञात व्यक्ति की गलो घोंटकर हत्या क दी। 28 सितंबर को सनौली रोड पर राज कालोनी के हरिनारायण और दलबीर नगर के कुलदीप की हत्या कर दी। सीसीटीवी कैमरे में वारदात रिकार्ड हो गई और दोनों हत्यारों को पुलिस ने पकड़ लिया।

यहां लगने हैं सीसीटीवी कैमरे

स्थान कैमरे आइओसीएल चौक 5

राधा स्वामी सत्संग भवन 3

यमुना एनक्लेव 6

बरसत मोड़ 4

रंजन चौक 6

बस स्टैंड 10

लालबत्ती चौक 4

रेलवे रोड 4

संजय चौक 8

गोहाना मोड़ 8

सेक्टर 11-12 मोड़ 4

मलिक पेट्रोल पंप 2

अनाज मंडी कट 6

सेक्टर 29 कट 3

रामलाल चौक 8

असंध नाका 8

एनएफएल नाका 4

स्टेडियम चौक 8

आठ मरला चौक 4

देशवाल चौक 4

इंसार चौक 6

सुखदेव नगर टी प्वाइंट 4

अमर भवन चौक 10

देवी मंदिर 8

भावना चौक 4

बरसत रोड 4

नूरवाला टी प्वाइंट 3

भैंसवाल चौक 3

सेक्टर 13-17 चौक 8

देवीलाल पार्क 4

काबड़ी रोड 3

सज्जन चौक 3

अग्रसैन चौक 4

बबैल नाका 8

 

ये रहे हालात -2018 में 12 करोड़ की लागत से 143 सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने का प्रपोजल बना। नगर निगम कैमरा नहीं लगा पाया।

-19 दिसंबर 2019 में सेक्टर 11 में सीसीटीवी कैमरे लगवाने का काम शुरू किया गया। बाद में कैमरे लगाए जाने का काम रोक दिया गया। -2019 में पुलिस विभाग द्वारा फ्लाईओवर के नीचे 16 सीसीटीवी कैमरे लगवाए थे। कैमरे खराब हो गए।

वर्जन एसपी द्वारा शहर में सीसीटीवी कैमरे लगवाने का प्रपोजल भेजा है। नगर निगम के पास फंड की कमी है। फंड मिलने पर योजना पर काम किया जाएगा।

सुशील कुमार, नगर निगम आयुक्त

—————-

डीजीपी हरियाणा की 29 जुलाई को वीडियो कांफ्रेंसिग के जरिये प्रदेश सरकार के आला अधिकारियों के साथ बैठक हुई थी। इसमें तय हुआ था कि शहरों में नगर निगम सीसीटीवी कैमेरे लगवाएगा। 217 सीसीटीवी कैमरे लगाए जाने के प्रपोजल को निगम को भेजा गया है।

सतीश कुमार वत्स, डीएसपी मुख्यालय।

 

 

Source : Jagran

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *