Connect with us

समाचार

टीम नड्डा में जगह नहीं बना पाया हरियाणा का कोई दिग्गज, सुधा यादव का भी कटा पत्ता

Published

on

Advertisement

टीम नड्डा में जगह नहीं बना पाया हरियाणा का कोई दिग्गज, सुधा यादव का भी कटा पत्ता

 

 भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा द्वारा राष्ट्रीय स्तर पर भाजपा के अंदर 80 पदाधिकारियों व कार्यकारिणी की विस्तृत सूची जारी कर दी गई है। इस सूची में हरियाणा के एक भी भाजपा नेता का नाम शामिल न किया जाना राजनीतिक गलियारे चर्चा का विषय बन गया है। भाजपा के राष्ट्रीय संगठन में जब अमित शाह अध्यक्ष थे, उन दिनों दक्षिण हरियाणा से पूर्व सांसद व भाजपा के ओबीसी मोर्चा की राष्ट्रीय प्रभारी डॉ. सुधा यादव को कार्यकारिणी में शामिल किया गया था, जिन्हें इस बार दरकिनार कर दिया गया।

Advertisement

भाजपा के राष्ट्रीय कार्यकारिणी में जाने के लिए पूर्व केन्द्रीय मंत्री चौधरी बीरेन्द्र सिंह, हरियाणा के पूर्व शिक्षा मंत्री राम बिलास शर्मा, सांसद संजय भाटिया जैसे दिग्गजों के नाम चर्चा में थे। कार्यकारिणी में नाम न आने से ऐसे कयास लगाए जा सकते हैं कि प्रोफेसर रामबिलास शर्मा को किसी न किसी राज्य का राज्य पाल बनाया जा सकता है।

Advertisement

पिछले पखवाड़े में कांग्रेस संगठन की राष्ट्रीय स्तर पर कार्यकारिणी की सूची जारी की गई थी, जिसमें रणदीप सुरजेवाला को राष्ट्रीय महासचिव बनाया गया था तथा विशेष आमंत्रित सदस्यों में राज्यसभा सांसद दीपेन्द्र हुड्डा व विधायक कुलदीप बिश्नोई को कार्यकारिणी में शामिल किया गया था।

भाजपा के 10 लोकसभा सांसदों वाले हरियाणा में एक भी सांसद को राष्ट्रीय संगठन में नहीं लिया गया है। राजधानी दिल्ली को हरियाणा ने तीन तरफ से घेरा हुआ है, राजस्थान व उत्तर प्रदेश सहित अन्य राज्यों में जाट वोट बैंक को देखते हुए चौधरी बीरेन्द्र सिंह या उनके बेटे सांसद बेटे पूर्व आईएएस बृजेन्द्र सिंह को दरकिनार किया गया है।

Advertisement

ऐसे भी संकेत हैं कि हरियाणा के अंदर भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष ओम प्रकाश धनखड़ की नियुक्ति भी हाल ही में हुई है। ओम प्रकाश धनखड़ से पहले सुभाष बराला भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष रहे हैं। सूत्रों का कहना है कि सुभाष बराला ने राष्ट्रीय संगठन के लिए हरियाणा से दो नामों की चर्चा की थी, बराला के हटने के बाद धनखड़ ने उन नामों को तवज्जो नहीं दी। जिस प्रकार से तीन कृषि विधेयकों के पास होने के बाद किसान और विपक्षी राजनीतिक संगठन चक्काजाम व रेल रोको आंदोलन में लगे हुए हैं, को मद्देनजर रखते हुए ऐसी संभावना है कि ओमप्रकाश धनखड़ से विचार विमर्श करके जेपी नड्डा हरियाणा के कुछ लोगों को राष्ट्रीय कार्यकारिणी को शामिल कर लें।

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *