Connect with us

विशेष

एक-दो नहीं, 10 बार कोरोना नेगेटिव आई महिला, फिर भी हो गई Covid-19 से मौत

Published

on

Advertisement

एक-दो नहीं, 10 बार कोरोना नेगेटिव आई महिला, फिर भी हो गई Covid-19 से मौत

 

Advertisement

कोरोना वायरस की वैक्सीन आने के बाद भी इस महामारी से जुड़े कुछ जटिल केसेस सामने आ रहे हैं. ऐसा ही एक केस ब्रिटेन से सामने आया है. दरअसल 55 साल की एक महिला लगातार कोरोना टेस्ट करा रही थीं और वे 10 बार कोरोना नेगेटिव आ चुकी थीं लेकिन इसके बावजूद उनकी कोविड से मौत हो गई. (प्रतीकात्मक तस्वीर/Getty Images)

covid test negative death

Advertisement

द सन की रिपोर्ट के अनुसार, 55 साल की डेब्रा शॉ हर्निया के ऑपरेशन के लिए रॉयल स्टॉक यूनिवर्सिटी अस्पताल में मौजूद थीं. वे इस ऑपरेशन के बाद स्वस्थ तरीके से रिकवर हो रही थीं लेकिन अचानक उन्हें सांस लेन में दिक्कत होने लगी थीं और वे कोमा में चली गई थीं और ये महिला अपनी सर्जरी के दो हफ्तों बाद चल बसी. (प्रतीकात्मक तस्वीर/Getty Images)

covid test negative deathडेब्रा को कोविड फ्री वॉर्ड में रखा गया था और अस्पताल वालों ने उनके परिवार वालों को भी आखिरी अलविदा के लिए बुलाया था. हालांकि मौत की जांच में सामने आया कि डेब्रा की मौत कोविड के चलते ही हुई थी. ये सुनकर इस महिला के परिवार वालों के होश उड़ गए. वे जानना चाहते थे कि अगर डेब्रा को कोविड था तो उन्हें कोविड फ्री वॉर्ड में क्यों रखा गया था. (प्रतीकात्मक तस्वीर/Getty Images)

Advertisement

covid test negative death>इस महिला के बेटे क्रिस ने बताया कि मेरी मां को जब सांस में समस्या होनी शुरू हुई तब उनके रोज कोरोना वायरस टेस्ट हो रहे थे और उनके नतीजे रोज नेगेटिव आ रहे थे. मेरी मां के फेफड़ों का भी सैंपल लिया गया था और इसमें कोरोना वायरस होने का कोई प्रमाण भी नहीं था. ऐसे में जब हम सबने मॉम का डेथ सर्टिफिकेट देखा तो हम हैरान रह गए.
covid test negative death

क्रिस ने आगे कहा कि इस डेथ सर्टिफिकेट में लिखा था कि उनकी मौत कोविड से हुई है. हमें इस मामले में लगातार कहा गया कि उन्हें कोरोना नहीं है बल्कि उन्हें निमोनिया है. (डेब्रा शॉ/बीपीएम)
covid test negative death

उन्होंने आगे कहा कि मुझे इस बात की भी चिंता है कि हमें बिना किसी पीपीई किट या सुरक्षा साधनों के मेरी मां से मिलने दिया गया था जिसके चलते अब मेरे परिवार के बाकी लोगों पर भी कोरोना संक्रमण का खतरा बना हुआ है और हम इस मामले में अस्पताल के खिलाफ एक्शन लेने के बारे में विचार कर रहे हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर/Pexels)

covid test negative death

गौरतलब है कि आईई की रिपोर्ट के अनुसार, दिल्ली में भी एक ऐसा ही मामला सामने आया था जब एक 80 साल की महिला को कोरोना वायरस के गंभीर लक्षण थे लेकिन वे बार बार कोरोना नेगेटिव आ रही थीं. डॉक्टर्स ने इस महिला का चार बार कोरोना टेस्ट कराया था लेकिन वे हर बार नेगेटिव आई थीं.  (प्रतीकात्मक तस्वीर/Getty Images)
covid test negative death

इसके अलावा आईई की रिपोर्ट में सामने आया था कि दिल्ली में 26 साल के जूनियर रेसीडेंट डॉक्टर अभिषेक भयाना जो मौलाना इंस्टीट्यूट फॉर डेंटल साइंस में काम कर रहे थे, उन्हें भी कोरोना के लक्षण मसलन सांस लेने में तकलीफ और चेस्ट में दर्द सामने आए थे लेकिन उनका कोरोना टेस्ट भी दोनों बार नेगेटिव आया था

 

Source: Aaj tak

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *