Connect with us

विशेष

अब किराए पर लेकर कोई भी चलवा सकता है ट्रेन, रेलवे ने लिया ये बड़ा फैसला

Published

on

अब किराए पर लेकर कोई भी चलवा सकता है ट्रेन
Advertisement

भारतीय रेलवे (Indian Railway) ने अब रेल की यात्रा करने वालों को एक खास ऑफर दिया है. अब देश में एक ऐसी योजना शुरू होने जारी रही है जिसके तहत कोई भी राज्य या व्यक्ति ट्रेनों को किराए पर ले सकता था और इन ट्रेनों को ‘भारत गौरव ट्रेन’ (Bharat Gaurav Train) नाम दिया गया है. ट्रेनों को लेने के लिए कुछ तय शर्तों को पूरा करना होगा और रेलवे इसके बदले उनसे न्यूनतम किराया वसूल करेगी.

देश में चलेंगी भारत गौरव ट्रेनें

देश में फिलहाल 180 भारत गौरव ट्रेनें चलाने की योजना है और इसमें तीन हजार से ज्यादा कोच होंगे. रेलवे ने इसके लिए आज से आवेदन लेने की प्रक्रिया शुरू भी कर दी है और उन्हें काफी अच्छी प्रतिक्रिया भी मिल रही है.

Advertisement

FPJ Fact Check: Has Indian Railways cancelled all passenger trains till  March 31, 2021?

रेलवे के मुताबिक भारत गौरव ट्रेनों का संचालन प्राइवेट सेक्टर और आईआरसीटीसी दोनों की ओर से किया जा सकता है. साथ ही टूर ऑपरेटर की ओर से इसका किराया तय किया जाएगा. यह ट्रेनें भारत की संस्कृति, विरासत को प्रदर्शित करने वाली थीम पर आधारित होंगी, लगभग 180 ट्रेन इसके लिए निर्धारित की गई हैं. यात्री, माल ढुलाई के बाद रेलवे पर्यटन के लिए ट्रेनों का तीसरा सेगमेंट शुरू करने जा रहा है.

Advertisement

टूरिज्म को बढ़ावा देना मकसद

रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने योजना का ऐलान करते हुए कहा कि स्टेकहोल्डर्स इन ट्रेनों को मॉर्डन बनाएंगे और चलाएंगे जबकि रेलवे इन ट्रेनों के मेंटेनेंस, पार्किंग और अन्य सुविधाओं को मुहैया कराने का काम करेगा. उन्होंने कहा कि यह रेगुलर ट्रेन सर्विस की तरह नहीं होगी और न ही ये आम ट्रेन सर्विस है. भारत गौरव ट्रेनों का मुख्य उद्देश्य भारत में पर्यटन को बढ़ावा देना है.

IRCTC news: Indian Railways to resume services of 13 trains from tomorrow -  Full list here

Advertisement

रेल मंत्री ने कहा कि अभी सिर्फ पर्यटन को फोकस रख कर इन ट्रेनों का संचालन शुरू किया जा रहा है. प्रधानमंत्री ने कहा है कि रेलवे को भारतीय संस्कृति और सभ्यता से जोड़ा जाए, यही वजह है कि भारत के गौरव को दिखाने के लिए रेलवे शुरू की जाएगी. आज से आवेदन लेना शुरू हो चुका है और ये विशेष ट्रेनें कोई भी राज्य, व्यक्ति या संस्था संचालित कर सकेगी.

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *