Connect with us

City

सोनीपत में 2 पक्षों के विवाद में एक का कत्ल

Published

on

Advertisement

ढाबा संचालक को पीटने वाले 3 आरोपियों को दूसरे पक्ष ने समझौते के लिए बुलाकर बंधक बनाया, पीट-पीटकर एक को मार डाला; 2 की हालत गंभीर

 

हरियाणा में सोनीपत जिले के खानपुर कलां में ढाबा संचालक राकेश से मारपीट के विवाद में रविवार रात को एक आरोपी की पीट-पीट कर हत्या कर दी गई। घटना बड़वासनी गांव में हुई। मारे गए युवक का नाम कृष्ण है और वह संरगथल गांव का रहने वाला था। कृष्ण के एक साथी की हालत गंभीर बनी हुई है। उसे खानपुर कलां मेडिकल कॉलेज में दाखिल कराया गया। राकेश से मारपीट के तीनों आरोपियों को समझौते के बहाने बड़वासनी गांव बुलाया गया और कमरे में बंधक बनाकर बुरी तरह पीटा गया। इनमें से एक युवक किसी तरह खिड़की से भाग निकला और घटना की सूचना अपने परिवार को दी। बताया जा रहा है कि जान गंवाने वाला और घायल युवक नाबालिग है। सोनीपत सदर पुलिस ने मृतक के परिवार के बयान पर केस दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी।

Advertisement

शनिवार रात को एक पक्ष ने पीटा
दोनों पक्षों के बीच विवाद की शुरुआत शनिवार रात तकरीबन 10 बजे हुई। खानपुर कलां के राकेश ने गांव के बाहर ही भोला पंजाबी नाम से ढाबा चलाता है। गोहाना सदर थाने में दी शिकायत में राकेश ने बताया कि शनिवार रात तकरीबन 10 बजे वह ढाबा बंद करने की तैयारी कर रहा था। उसी समय सरगथल गांव क कृष्ण नामक युवक अपने दो दोस्तों के साथ गाड़ी में ढाबे पर आया। कृष्ण के दोनों दोस्त दुबेटा के रहने वाले थे। कृष्ण ने खाना मांगा तो उसने बताया कि ढाबा बंद हो चुका है। खाना बनाने वाला भी चला गया इसलिए अब खाना नहीं मिल सकता। इस पर कृष्ण और उसके दोस्त गालियां देते हुए एकबारगी तो चले गए मगर 10 मिनट बाद ही दोबारा लौट आए। तीनों ने धारदार हथियारों से उस पर हमला कर दिया। तीनों ने उसके ‌सिर पर वार किए। कृष्ण के अनुसार, जब बचाव में उसने अपना हाथ आगे बढ़ाया तो हाथ की नस कट गई। जब वह बेहोश हो गया तो तीनों मौके से फरार हो गए। गोहाना सदर पुलिस ने राकेश की शिकायत के आधार पर कृष्ण और उसके दोनों दोस्तों के खिलाफ हत्या प्रयास के आरोप में भादंसं की धारा 307 समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज कर लिया।

Advertisement

रविवार रात दूसरे पक्ष ने बनाया बंधक
इस विवाद में रविवार रात को नया मोड़ आ गया। आरोप है कि कृष्ण ओर उसके दोनों दोस्तों के खिलाफ हत्या प्रयास का केस दर्ज होने के बाद प्रदीप नामक युवक ने रविवार रात को उन तीनों को राकेश के साथ समझौता करवाने के बहाने बड़वासनी गांव बुलाया। जैसे ही तीनों वहां पहुंचे, उन्हें एक कमरे में बंद कर बुरी तरह पीटा गया। इस दौरान कृष्ण का एक दोस्त किसी तरह खिड़की के रास्ते भाग निकला। बाकी दोनों को रातभर पीटा गया। उधर खिड़की से निकलकर भागे युवक की सूचना पर लोगों ने कमरे में बंद दोनों घायलों को गंभीर हालत में खानपुर मेडिकल कॉलेज में दाखिल कराया। वहां सोमवार को सरगथल गांव के कृष्ण ने दम तोड़ दिया। दूसरे युवक की हालत भी गम्भीर बनी हुई है।

 

Advertisement
Advertisement