Connect with us

विशेष

दर्दनाक: 10 दिन में पति-सास-ससुर को निगल गया कोरोना, 16 लाख चुकाए, तब मिले तीनों के शव

Published

on

Advertisement

दर्दनाक: 10 दिन में पति-सास-ससुर को निगल गया कोरोना, 16 लाख चुकाए, तब मिले तीनों के शव

 

दुनिया भर में कोरोना महामारी का कहर जारी है। कोरोना ने अब तक लाखों जिंदगियां लील लीं। इस महामारी में किसी का सिंदूर छिन गया, तो किसी के सिर से छत। किसी से मां का आंचल छिन गया, तो कहीं भाई-बहनों के झगड़ों वाली आवाजें हमेशा के लिए खामोश हो गईं। किसी की कलाई सूनी हो गई, तो किसी की गोद। ऐसे लाखों लोग हैं, जिनसे कोरोना ने उनके अपनों को छीन लिया। मध्यप्रदेश के इंदौर के एक परिवार को लेकर ऐसी ही हदयविदारक खबर सामने आई। पांच लोगों के इस परिवार में से तीन की कोरोना के चलते मौत हो गई। बाकी दो सदस्यों में से भी एक कोरोना संक्रमित है।

Advertisement

प्रतीकात्मक तस्वीर

इंदौर में पादरी परिवार ने रविवार को दस दिन से भी कम समय में तीसरे सदस्य का अंतिम संस्कार किया है। माता-पिता, बेटा-बहू और एक पोता समेत इस पादरी परिवार में पांच सदस्य हुआ करते थे। परिवार के चार सदस्यों की रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई, इनमें से तीन की मौत हो चुकी है। दस दिनों के भीतर परिवार के मुखिया 86 वर्षीय पादरी ए जे सैमुअल, 83 वर्षीय उनकी पत्नी कुंजम्मा सैमुअल और बेटा जॉनसन सैमुअल की कोरोना संक्रमण के चलते मौत हो गई। जॉनसन की पत्नी शोबी जॉनसन आइसोलेटेड और उनका बेटा फिलोमन जॉनसन कोरोना संक्रमित है, जिसका इलाज चल रहा है।

Advertisement

परिवार के चार सदस्यों की रिपोर्ट पॉजिटिव 
मार्च के अंतिम सप्ताह में पादरी के बेटे जॉनसन सैमुअल का हल्का सा बुखार हो गया था, जिसे सामान्य सर्दी बुखार मानते हुए परिवार ने 61 वर्षीय सॉफ्टवेयर इंजीनियर जॉनसन सैमुअल को डॉक्टर से सामान्य दवा दिलवा दी। तबीयत में सुधार नहीं होने के बाद कोरोना जांच करवाई। 1 अप्रैल को जॉनसन की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई। इसके बाद परिवार के अन्य सदस्यों की भी कोविड जांच की गई, जिनमें 56 वर्षीय शोबी को छोड़कर बाकी तीनों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई।

24 घंटे के अंदर मां-बेटे की मौत

तबीयत बिगड़ने के बाद 2 अप्रैल को जॉनसन को अस्पताल में भर्ती कराया। 3 अप्रैल को जॉनसन के पिता और 6 अप्रैल को मां को भर्ती कराया गया। तीनों के इलाज पर अच्छा खासा पैसा खर्च हुआ, लेकिन किसी को भी बचाया नहीं जा सका। 7 अप्रैल को पादरी ए जे सैमुअल, 16 अप्रैल को जॉनसन और 17 अप्रैल को जॉनसन की मां कुंजम्मा की मौत हो गई। शोबी 16 लाख से ज्यादा रुपये का अस्पताल का बिल चुकाकर भी अपनों को नहीं बचा पाई। अभी जॉनसन का बेटा संक्रमित है, जिसका इलाज चल रहा है और शोबी घर में आइसोलेट हैं।
Source : Amar Ujala
Advertisement