Connect with us

Medical Update

पानीपत-करनाल बनेंगे मेडिसीन इंडस्‍ट्री के हब, स्‍थापित होंगे बल्क ड्रग्स व मेडिकल डिवाइस पार्क

Published

on

पानीपत-करनाल बनेंगे मेडिसीन इंडस्‍ट्री के हब, स्‍थापित होंगे बल्क ड्रग्स व मेडिकल डिवाइस पार्क

 

हरियाणा सरकार राज्‍य में दवा उद्योग को बढ़ावा देगी और मेडिसीन इंडस्‍ट्री हब स्‍थापित करेगी। इसके लिए पानीपत और करनाल को चुना गया है। वह केंद्र सरकार की मदद से पानीपत में एक हजार एकड़ पर ‘बल्क ड्रग्स पार्क’ बनाएगी। इससे थोक दवाओं की विनिर्माण लागत घटने के साथ ही दूसरे देशों पर निर्भरता कम होगी। इसके साथ ही करनाल में मेडडिकल डिवाइस पार्क स्‍थापित किया जाएगा।

पानीपत में बनेगा बल्क ड्रग्स पार्क, करनाल में मेडिकल डिवाइस पार्क

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सीआइआइ फार्मास्कोप के वर्चुअल कार्यक्रम ‘आत्मनिर्भर भारत-मेड इन इंडिया, मेड फॉर वर्ल्‍उ की दिशा में एक कदम’ में यह बात कही। उद्घाटन सत्र में 15 शीर्ष कंपनियों के 325 प्रतिनिधियों ने भाग लिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रस्तावित बल्क ड्रग्स पार्क से 25 किलोमीटर की दूरी पर करनाल में 225 एकड़ में मेडिकल डिवाइस पार्क बनाने की भी योजना है।

सीआइआइ के कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने पानीपत में एमआइटी बनाने के भी दिए संकेत

मुख्यमंत्री मनोहरलाह ने कहा कि पानीपत में प्रस्तावित बल्क ड्रग्स पार्क का विस्तार 1700 एकड़ भूमि में किया जा सकता है। इससे पड़ोसी राज्यों पंजाब, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, नई दिल्ली और उत्तर प्रदेश के कुछ हिस्सों में दवाओं के निर्माण के लिए कच्ची सामग्री की आपूर्ति हो सकेगी। प्रदेश में 150 से अधिक फार्मेसी कॉलेज, संस्थान और विश्वविद्यालय हैं, जिनके पास बल्क ड्रग पार्क की आवश्यकता को पूरा करने के लिए कुशल मैनपावर की पर्याप्त उपलब्धता है।

पानीपत-करनाल बनेंगे मेडिसीन इंडस्‍ट्री के हब, स्‍थापित होंगे बल्क ड्रग्स व मेडिकल डिवाइस पार्क

एक हजार एकड़ में बनने वाले ड्रग्स पार्क के लिए मिल सकती 700 एकड़ अतिरिक्त जमीन

मुख्यमंत्री मनाेहरलाल ने बताया कि देश में फार्मास्युटिकल उत्पादों के उत्पादन में राज्य का 45 फीसद हिस्सा है। पानीपत पार्क में किए जाने वाले उत्पादन का 50 प्रतिशत उत्तर भारत में ही इस्तेमाल किया जा सकता है जिससेपरिवहन लागत और समय की बचत होगी।

उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार निवेशकों को आउटराइट सेल मॉडल और लीजहोल्ड मॉडल दोनों पर जमीन दे सकती है। निवेशकों को अधिकतम सब्सिडी दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि पानीपत में एक औद्योगिक मॉडल टाउनशिप (आइएमटी) भी बनाई जाएगी जिसमें सामान्य गोदामों सहित फार्मास्युटिकल उद्योगों के लिए आवश्यक विश्वस्तरीय बुनियादी ढांचा शामिल होगा।