Connect with us

Medical Update

करनाल में कोरोना का फिर विस्‍फोट, एक साथ मिले 16 केस पॉजिटिव, 85 हुए एक्टिव केस

Published

on

करनाल में कोरोना का फिर विस्‍फोट, एक साथ मिले 16 केस पॉजिटिव, 85 हुए एक्टिव केस

करनाल में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है। रविवार को एक डाक्टर व पांच पुलिसकर्मियों सहित 16 नए पॉजिटिव केस सामने आए हैं। वहीं शविवार को एक दिन की राहत के बाद शनिवार को दो साल की बच्ची सहित पांच कोरोना पॉजिटिव मिले। लेकिन इनमें करनाल जिला से संबंधी 3 व्यक्ति हैं, जिनमें एक केस ऊंचा समाना से, सेक्टर-16 से है, एक केस घरौंडा से शामिल है। इन सभी की ट्रैवल हिस्ट्री बाहर की है, उनका इलाज जारी है तथा 1 पॉजिटिव केस दिल्ली निवासी और 1 पॉजिटिव केस कुरुक्षेत्र जिले से संबंधित है, जिन्हें संबंधित क्षेत्र में भेज दिया गया। जिले में अब तक कोरोना वायरस संक्रमण 160 मामले पॉजिटिव मिल चुके हैं, जिनमें से 2 की मृत्यु हो गई है, 85 एक्टिव है तथा 57 मरीज ठीक होकर अपने घर चले गए है और 214 व्यक्तियों की रिपोर्ट में से कुछ की आनी बाकी है।

अब तक विदेश से आए यात्रियों की संख्या 1125 है, जिनमें से 1012 व्यक्ति 28 दिन या इससे अधिक दिनों का सर्विलांस समय पूरा कर चुके हैं, 14 दिनों वाले कांटेक्टस व यात्रियों की संख्या 1220 है तथा 15 से 28 दिनों के कांटेक्टस वाले यात्रियों की संख्या 340 है और 509 यात्री 28 दिनों का सर्विलांस पूरा कर चुके हैं। उन्होंने बताया कि शनिवार को 16 डिस्पले नोटिस किए गए तथा सभी संस्थाओं से प्राप्त सामान्य ओपीडी की संख्या 25 रही।

करनाल में कोरोना का फिर विस्‍फोट, एक साथ मिले 16 केस पॉजिटिव, 85 हुए एक्टिव केस

कोरोना से निपटने के लिए कल्पना चावला राजकीय मेडिकल कालेज में आइसोलेशन के लिए 125 बेड उपलब्ध हैं, जिन पर ऑक्सीजन सिलेंडर की भी उपलब्धता है। इसके अलावा 10 वेंटीलेटर चालू अवस्था में है तथा गंभीर मरीजों के लिए आइसीयू में 23 बेड की उपलब्धता है।

जिसकी ट्रैवल हिस्ट्री बाहर की, तुरंत दें सूचना

डीसी निशांत कुमार यादव ने नागरिकों से अपील की है कि उनके आसपास कोई ऐसा व्यक्ति मिले जिसकी ट्रैवल हिस्ट्री बाहर की है वह तुरंत इसकी सूचना प्रशासन को दें ताकि उसका कोविड-19 का टैस्ट किया जा सके। उन्होंने बताया कि सरकार के दिशा-निर्देशानुसार प्रशासन ने निर्णय लिया है कि जिन लोगों में कोरोना संक्रमण के लक्षण नहीं पाए जाते हैं, उन्हें अस्पताल में रखने की बजाए नीलोखेड़ी के नजदीक स्थित गुरुकुल में स्थापित किए गए कोविड केयर सेंटर में रखा जाता है। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस से बचाव के लिए प्रशासन की ओर से चलाए जा रहे जागरूकता कार्यक्रम के तहत जिला में अब तक 2 लाख 30 हजार 483 लोगों ने आरोग्य सेतू एप को डाउनलोड किया है, इनमें से करीब 86 हजार लोगों ने सेल्फ एसेसमेंट किया है।

89 लोगों की कराई थर्मल स्क्रीङ्क्षनग

घरौंडा : घरौंडा क्षेत्र में ऊंचा समाना में बच्ची के कोरोना संक्रमण से हड़कंप मच गया। वहीं दिल्ली निवासी पिछले चार साल से मैनेजर के तौर पर काम कर रहा है। वह बीती 24 मई को अपने घर दिल्ली गया था। 28 मई को दिल्ली से वापस लौटा था। 12 जून को इस व्यक्ति को बुखार संबंधित दिक्कतें आई। जिसके चलते उन्होंने करनाल के कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज में अपना कोरोना का टेस्ट करवाया। इसकी रिपोर्ट शनिवार को आई, जिसमें वह पॉजिटिव पाया गया। इसके बाद स्थानीय प्रशासन हरकत में आ गया। तहसीलदार रमेश अरोड़ा एसएमओ डा. मुनेश गोयल व अन्य अधिकारियों व कर्मचारियों के साथ राइस मिल पहुंचे और राइस मिल को कंटेनमेंट जोन में शामिल करते हुए बैरिकेङ्क्षटग करवा दी गई। साथ ही राइस मिल के 89 कर्मचारियों की थर्मल स्कैङ्क्षनग करवाई गई।

Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *