Connect with us

पानीपत

पानीपत शहर से बाहर शिफ्ट हो सकती हैं 300 पशु डेयरी

Published

on

Advertisement

पानीपत शहर से बाहर शिफ्ट हो सकती हैं 300 पशु डेयरी

नगर निगम अधिकारी 300 डेयरी शिफ्ट करने की योजना पर काम कर रहे हैं। मार्च तक डेयरी शिफ्ट की जानी हैं। इसके लिए बिझौल में 147 डेयरी प्लाटों की जांच पूरी हो चुकी है। दोबारा यहां खाली प्लाट की बोली के लिए नक्शे बनवाए जा रहे हैं। डेयरी का सर्वे किया जा रहा है। जांच रिपोर्ट के लिए नगर निगम में पांच सदस्यीय टीम लगाई है। टीम ने जांच रिपोर्ट तैयार कर ली है। अब इस जमीन के नए सिरे से नक्शे तैयार किए जा रहे हैं।

पानीपत शहर से बाहर शिफ्ट हो सकती हैं 300 पशु डेयरी

Advertisement

नोडल अधिकारी चीफ इंजीनियर महीपाल सिंह ने बताया कि जो प्लाट खाली हैं, उनकी बोली होगी। प्लाट के नक्शे आदि बनाने का काम चल रहा है। 20 साल पहले गांव बिझौल में शहर से डेयरी शिफ्ट करने के लिए प्लाट काटे गए थे। उस दौरान नगर परिषद के जिम्मे शहर की व्यवस्था था। नगर निगम के तत्कालीन चेयरमैन विनोद वढे़रा पर प्लाट आवंटन में भाई भतीजावाद के आरोप लगे थे। तब से शिफ्टिग का मामला लटका पड़ा है। कई प्लांट मालिकों ने प्लाट बेच दिए है। कुछ ने वहां मकान बना लिए हैं। यह मामले पिछले कई वर्षो से नगर निगम की मीटिग में उठता रहा है। अब इसके लिए जांच कमेटी बनाई गई। आयुक्त डा. मनोज कुमार के नेतृत्व में जांच कमेटी बनी जिसने में अपनी रिपोर्ट पूरी कर ली है। अब नक्शे बनाने का काम चल रहा है।

नाले-सीवर हो रहे जाम

Advertisement

शहर में अवैध रूप से चल रही डेयरियों से निकलने वाले वेस्ट से नालियां और सीवर जाम हो रहे हैं। सीवर जाम होने से पानी सड़कों पर जमा होता है। इससे सड़कें टूट रही हैं। साथ ही बीमारी फैलती हैं। नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल ने शहर से डेयरी बाहर करने की निर्देश दिए हुए हैं।

 

Advertisement

 

 

Source : Jagran

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *