Connect with us

पानीपत

एक-दूसरे पर पल्ला झाड़ते रहे अफसर, एसई ने कह दिया, किसी और से करवा लो काम

Published

on

Advertisement

एक-दूसरे पर पल्ला झाड़ते रहे अफसर, एसई ने कह दिया, किसी और से करवा लो काम

शहर के उद्यमी उस समय भौंचक्क रह गए, जब नगर निगम के सुपरिटेंडेंट ऑफिसर रमेश शर्मा ने यह कह दिया कि नगर निगम अब सेक्टरों का काम नहीं करवा पाएगा। इंडस्ट्री विभाग को लिखकर देने को तैयार हैं। किसी और सेक्टरों का काम करवा लो। इसी तरह अन्य विभागों के अफसर भी एक-दूसरे पर पल्ला झाड़ते रहे। शर्मा की तरह किसी ने इस तरह कोरा जवाब नहीं दिया। औद्योगिक सेक्टरों के विकास के लिए बुलाई बैठक में उद्यमियों ने सवाल उठाए और खरी-खरी सुनाई तो जिम्मेदार अफसर अपने काम से ही पीछे हट गए। उद्योगपतियों ने नगर निगम के एसई के व्यवहार का विरोध किया। उद्यमियों ने कहा कि यह बैठक विभिन्न विभागों में तालमेल बनाकर समस्याओं को हल करने के लिए बुलाई गई थी। यहां तो सारा तालमेल ही बिगड़ गया। उद्यमियों ने कहा कि निगम से अच्छा तो हशविप्रा और एचएसआइआइडीसी है। इन्हीं से काम करवा दो।

Advertisement

पिछले दिनों नगर निगम के आयुक्त एवं एडीसी डा. मनोज कुमार ने सेक्टरों का दौराकर इंडस्ट्री विभाग की सहायक निदेशक क्षितिज कपूर को निर्देश दिए थे कि औद्योगिक सेक्टरों में जो भी सड़क, नाले, सीवर, स्ट्रीट लाइट के काम होने हैं, उनके नक्शे, ड्राइंग लेकर पूरी सूची दें। किस स्तर पर और किस विभाग की तरफ से काम रुका है। ठेकेदार ने यदि काम पूरा नहीं किया है और पैसे ले लिए हैं तो इसकी भी पूरी जानकारी दें।

सोमवार को होटल डेज में जिला उद्योग केंद्र की सहायक निदेशक क्षितिज कपूर के नेतृत्व में संबंधित विभागों नगर निगम, हरियाणा स्टेट इंडस्ट्रियल इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट कॉरपोरेशन (एचएसआइआइडीसी), हरियाणा शहरी विकास प्राधिकरण (हशविप्रा) के अधिकारियों सहित सेक्टरों की एसोसिएशन के प्रतिनिधियों की बैठक हुई। बैठक में सेक्टर वाइज विकास कार्यो पर चर्चा की। यह बैठक बेनतीजा ही रहा। अफसर एक-दूसरे विभाग का काम बताकर टालमटोल करते रहे। बैठक में प्रॉपर्टी टैक्स का मुद्दा भी उठा। उद्यमियों ने कहा कि 70 प्रतिशत बिल गलत हैं। बिल ठीक करवाएं जाएं। करोड़ों रुपये टैक्स उद्यमी भरने के लिए तैयार हैं। इसका जवाब भी निगम के अधिकारी नहीं दे पाए। उद्यमियों ने कहा कि गलत बिल होने के बावजूद भी दो दिन पहले सेक्टर-29 पार्ट दो में 35 लाख रुपये टैक्स एक दिन में जमा करवा दिया गया है।

Advertisement

सेक्टर 25 पार्ट -1 : उद्यमी बोले, कोई सुनवाई नहीं

बैठक में सेक्टर 25 पार्ट-1 एसोसिएशन के प्रधान एचएस धम्मू, कोषाध्यक्ष संजीव सहगल ने सेक्टर के विकास कार्यो पर 29.55 करोड़ रुपये का खर्च होने का सवाल रखा। उन्होंने कहा अभी 6.32 करोड़ का टेंडर लगाया है। 8400 मीटर सड़क बनाई जानी है। सीवर, पानी की लाइनें भी बिछाई जानी है सेक्टर में ड्रेन के दोनों और सड़क बननी थी।

Advertisement

जवाब : अधिकारियों ने कहा कि सेक्टर में 10 एमएलडी का कामन इंफ्यूलेंट ट्रीटमेंट प्लांट (सीईटीपी) बनना था। अब वह सेक्टर 29 में शिफ्ट कर दिया गया है। प्लान में सीवर की कोई योजना नहीं है। सीवर की सफाई होनी है। एसोसिएशन हमें नक्शा दे। इस पर एचएस धम्मू ने कहा कि यह हमारा काम पहीं है। हम प्रॉपर्टी टैक्स भरने के लिए तैयार हैं। नगर निगम दो आदमी यहां नियुक्त करें। उनके रहने, खाने-पीने का खर्चा हम देने के लिए तैयार हैं। सेक्टर से भी उद्यमियों की हम जानकारी दे देंगे। बिल ठीक करवा दें। टैक्स भर दिया जाएगा।

सेक्टर 29 पार्ट-2 की ये समस्याएं उठाई

बैठक में सेक्टर 29 पार्ट दो के भीम राणा और विनित शर्मा ने इन समस्याओं को उठाया।

-पूरे सेक्टर में स्ट्रीट लाइट नहीं है।

-सड़़क बीच में छोड दी गई।

-दैनिक जागरण के सामने वाला रोड डबल स्वीकृत है। इस रोड पर ट्रैफिक लगातार बढ़ता जा रहा है। इसे डबल बनाया जाए।

-सीईटीपी वाली सड़़क बनाई जाए। सड़क नहीं होने के कारण 30 फैक्ट्रियां बंद हैं।

-हैंड फेब से सीईटीपी की सड़क अधूरी है।

-234 प्लाट से एनएचडीसी का रोड अधूरा छोड़ दिया गया।

नगर निगम अधिकारी के जवाब : इस पर नगर निगम एसई रमेश शर्मा ने कहा कि 50-100 जरूरी प्वाइंट पर लाइट लगाने की बात कही गई थी। उन्हें आज तक भी कोई सूची नहीं मिली। कहां लाइट लगाई जाए। नगर निगम रिपेयर, मेंटनेंस कर सकती है। नई सड़क नहीं बना सकती। हम लिख कर देने के लिए तैयार हैं कि सेक्टर और किसी एजेंसी काम करवा लें। तब विनीत शर्मा ने कहा कि लाइट, खंभे गिनने का काम क्या हमारा है। निगम अपनी जिम्मेदारी क्यों नहीं लेता। नाले, सड़क बनाने वाले ठेकेदार ने काम अधूरा छोड़ा, निगम ने किया भुगतान सेक्टर 29 पार्ट -1 एसोसिएशन के प्रधान श्रीभगवान ने बरसाती नाला अधूरा छोड़ने, सड़क निर्माण पूरा न होने के साथ फ्लोरा चौक से जीटी रोड तक डबल रोड बनाने, सेक्टर स्ट्रीट लाइट न होने का मुद्धा उठाया। उन्होंने कहा कि सड़क, नाले के सैंपल श्रीराम लैब से पास होने थे जो करवाए नहीं गए। अधूरा नाला छोड़ दिया गया। नगर निगम ने दो करोड़ का भुगतान भी कर दिया। एसोसिएशन से भुगतान करते समय कोई सहमति नहीं ली गई। सेक्टर में अनाधिकृत सीवर बनाने का मामला भी उठा।

जवाब : नगर निगम के एसई रमेश शर्मा ने कहा कि लैब से टेस्ट करवा देते हैं। डिमांड आने पर ही नाले का दो करोड़ का भुगतान किया गया है। उनके पास नक्शा नहीं है। यह इंडस्ट्री विभाग के पास होना चाहिए। इंडस्ट्री विभाग की सहायक निदेशक ने कहा कि भुगतान निगम ने किया है। नक्शा उसी के पास होना चाहिए। चैंबर ने कहा- निगम काम करने को तैयार नहीं

हरियाणा चैंबर आफ कामर्स के चेयरमैन विनोद खंडेलवाल ने सेक्टर 25 पार्ट दो सड़कों की समस्या उठाई। उन्होंने कहा कि पूरी बैठक में नगर निगम के अधिकारी धौंस ही दिखाते रहे। जब काम करवाना ही नहीं तो उद्यमियों का समय क्यों खराब किया जा रहा है।

एक्सपोर्ट एसोसिएशन ने कहा इंफ्रास्ट्रक्चर मजबूत हो

द पानीपत एक्सपोर्टर्स एसोसिएशन के प्रधान ललित गोयल ने कहा कि औद्योगिक क्षेत्र में इंफ्रास्ट्रक्चर मजबूत किया जाए। बैठक में भी विभागों में कोई तालमेल नहीं दिखा। नगर निगम काम करने के लिए तैयार ही नहीं है। स्ट्रीट लाइट तक नहीं है। एसोसिएशन विभागों का सहयोग करने के लिए तैयार है। फिर भी सड़क नाले, स्ट्रीट लाइट की समस्याओं से जूझ रहे हैं। इन्हांसमेंट का मामला भी हल नहीं किया जा रहा। वर्जन सभी समस्याओं पर संबंधित विभाग व एसोसिएशन के अधिकारियों के साथ बैठक में यही फैसला लिया है कि एसोसिएशन को ऑर्डर मैप देंगे। अपने-अपने सेक्टर की समस्याओं को हाईलाइट करेंगे। जहां काम नहीं हुआ है और पैसा है, वहां काम पूरा करवाया जाएगा। जिन कामों के लिए पैसा उपलब्ध नहीं है, उनका एस्टीमेट बनाकर स्वीकृति के लिए सरकार को भेजा जाएगा। फ्लोरा चौक पर पानी की निकासी करवाने, प्याऊ की समस्या को हल करने व ग्रीन बेल्ट से बाहर लगे पेड़ के संदर्भ में हार्टिकल्चरल विभाग से एनओसी ली जाएगी।

क्षितिज कपूर, सहायक निदेशक, जिला उद्योग केंद्र। बैठक में मौजूद रहे : एचएसआइआइडीसी से मनजीत बलहारा, नगर निगम से रमेश शर्मा, प्रदीप कल्याण, जिला उद्योग केंद्र से क्षितिज कपूर, निर्यातक ललित गोयल, पानीपत डायर्स एसोसिएशन से भीम राणा, मुकेश रेवड़ी, सेक्टर 29 पार्ट दो एसोसिएशन के विनीत शर्मा, संजीव गर्ग, सेक्टर 29 पार्ट वन से श्रीभगवान अग्रवाल, सेक्टर 25 से एचएस धम्मू, चैंबर आफ कामर्स से विनोद खंडेलवाल मौजूद रहे।

 

 

 

Source : Jagran

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *