Connect with us

करनाल

हरियाणा में ट्रिपल मर्डर, तीन एकड़ जमीन के लिए तीन की हत्‍या, चलीं ताबड़तोड़ गालियां, कई घायल

Published

on

Advertisement

हरियाणा में ट्रिपल मर्डर, तीन एकड़ जमीन के लिए तीन की हत्‍या, चलीं ताबड़तोड़ गालियां, कई घायल

 

करनाल के गांव गगसीना में जमीनी विवाद में सुबह ही खूनी संघर्ष हो गया और जमकर गोलियां व तेजधार हथियार चले, जिसमें 3 लोगों की मौत हो गई जबकि आधा 6 से ज्‍यादा लोग घायल हो गए।

Advertisement

करनाल में जमीनी विवाद की वजह से खूनी संघर्ष ।

करनाल के गगसीना गांव में जमीनी विवाद के चलते दो पक्षों में जमकर खूनी संघर्ष हुआ। एक पक्ष की ओर से की गई फा‍यरिंग में तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि दर्जनभर लोग घायल हो गए। गंभीर हालत में एक घायल को पीजीआई रेफर कर दिया गया तो दूसरा करनाल के निजी अस्पताल में जबकि अन्य घरौंडा में ही उपचाराधीन हैं। तीन हत्याओं से गुस्साए स्वजनों ने शव उठाने से इंकार कर दिया और देर तक आरोपितों की गिरफ्तारी की मांग पर अड़े रहे।

Advertisement

ग्रामीणों के आक्रोश को देखते हुए मौके पर पहुंचे एसपी गंगाराम पुनिया ने मूनक थाने के एसएचओ को सस्पेंड करने के आदेश दिए तो वहीं स्वजनों को आरोपितों के खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई का आश्वासन दिया। इसके बाद स्वजन शांत हुए और पुलिस ने पोस्टमार्टम कराकर शव उन्हें सौंप दिए।  शिकायत के आधार पर पुलिस ने 30 से अधिक आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

Karnal news murder

Advertisement

 

गांव में किशना और खान पाने के परिवारों के बीच बीते कई वर्षों से जमीन को लेकर विवाद चल रहा था। निशानदेही के बाद बुधवार सुबह किशना पाने के परिवार के लोग जमीन पर नींव की खुदाई करने पहुंचे थे। इसी दौरान हथियारों से लैस खान पाने के लोगों ने किशना पाने के परिवारवालों पर हमला बोल दिया। मौके पर दर्जनों राउंड फा‍यरिंग व तेजधार हथियारों से हमले में किशना पाने के करीब 60 वर्षीय दिलबाग व करीब 30 वर्षीय प्रवीन की मौके पर मौत हो गई जबकि करीब 42 वर्षीय बलराज ने घरौंडा के सरकारी अस्पताल में दम तोड़ दिया।हमले में दयानंद, धन सिंह, बलिंद्र, रूपचंद, सुलतान, नवीन, सुरेंद्र, लखविंद्र, हरदीप, पाला, मीनू सहित कई लोग घायल हुए, जिन्हें घरौंडा सरकारी अस्पताल में भर्ती करवाया गय। गंभीर हालत के चलते जोगिंद्र को पीजीआई चंडीगढ़ रेफर कर दिया गया तो धनसिंह को करनाल के एक निजी अस्पताल में दाखिल कराया गया।

 

करनाल डीएसपी जगदीप दून, असंध डीएसपी बिजेंद्र सिंह भारी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे और ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया लेकिन स्वजन आरोपितों की गिरफ्तारी व मूनक एसएचओ के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर अड़ गए। करीब पांच घंटे बाद स्वजन जीटी रोड जाम करने के लिए शव ले जाने लगे तो एसपी गंगाराम पूनिया ने मौके पर पहुंचकर कार्रवाई का भरोसा दिया। मूनक एसएचओ को सस्पेंड व विभागीय जांच के आदेश देने पर ही स्वजन शांत हुए। उधर वारदात के बाद पूरा गांव सन्न है तो माहौल तनावपूर्ण बना है। भारी पुलिस बल तैनात है। पुलिस ने दो आरोपितों को काबू कर लेने का दावा किया है बाकी फरार है।

 

 

करीब 40 लोगों ने किया हमला, कई के पास थे हथियार

पीडि़त पक्ष के लोगों ने आरोप लगाए कि हमलावर करीब 40 लोग थे, जिनमें छह से अधिक लोगों के पास बंदूकें व देशी कट्टे आदि थे। 20 से अधिक गोलियां बरसाई गई। वारदात के बाद आरोपित फरार हो गए।

 

गगसीना में जमीनी विवाद के चलते हुई फायङ्क्षरग में तीन लोगों की जान गई है और दर्जनभर लोग घायल हुए हैं। स्वजनों ने मूनक एसएचओ कुलदीप ङ्क्षसह पर फायङ्क्षरग के दौरान किसी तरह का एक्शन न लेने का आरोप लगाया है। एचएचओ को सस्पेंड करने के आदेश दे दिए गए है। आरोपितों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी गई है। उन्हें जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

 

-गंगाराम पूनिया, पुलिस अधीक्षक

 

 

 

Source : Jagran

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *