Connect with us

पानीपत

सब्जी मंडी में पॉलीथिन की दुकानों पर सीएम फ्लाइंग का छापा

Published

on

Advertisement

सब्जी मंडी में पॉलीथिन की दुकानों पर सीएम फ्लाइंग का छापा

 

सब्जी मंडी में सोमवार सीएम फ्लाइंग ने दुकानों पर छापा मारा। छापे के दौरान 21 क्विंटल सिगल यूज पॉलीथिन जब्त की गई। दो दुकानदारों पर 25-25 हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया। सीएम फ्लाइंग टीम की छापेमारी से मंडी में हड़कंप मच गया। दुकानदारों ने शटर बंद करने शुरू कर दिए। मंडी में पालीथिन बेचने की थोक से लेकर रिटेल की अनेक दुकानें हैं। टीम के साथ नगर निगम सफाई विग के कर्मचारी भी मौके पर पहुंचे। टीम में शामिल अधिकारियों ने दुकानदारों के कागजात, लाइसेंस, जीएसटी नंबर आदि भी चैक किए। छापेमारी के दौरान पकड़े गए पालीथिन को जब्त करवाकर निगम के कार्यालय में सील करवा दिया गया। भारी मात्रा में बरामद पालीथिन की जब्त करने के लिए नगर निगम को सब्जी मंडी में दो कूड़ा उठाने वाली गाड़ियों को मंगवाना पड़ा। अधिकारियों ने मौके पर बताया कि अब इस पालीथिन को प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड के नियमों के अनुसार नष्ट करवाया जाएगा। दिवाली पर छापे से नाराजगी

Advertisement
सब्जी मंडी में पॉलीथिन की दुकानों पर सीएम फ्लाइंग का छापा

दुकानदारों का कहना है कि दिवाली के समय में दुकानदारों का कुछ काम चला है। अब उन्हें तंग किया जा रहा है। पालीथिन भले ही प्रतिबंधित हो, सरकार इसे बनाने पर बैन क्यों नहीं लगा रही है। ट्रेडिग करने वाले दुकानदार को हो क्यों टारगेट किया जा रहा है। छोटे दुकानदारों को ही परेशान किया जा रहा है। दिवाली पर दुकानदारों ने यह स्टाक मंगवाया था जिसे जब्त किया गया है। इससे इनकी दिवाली खराब हो गई। पूरे साल की आय दिवाली पर होती है। सीएम फ्लाइंग करनाल प्रभारी सुकम पाल ने बताया कि उन्हें शिकायत मिली थी कि सब्जी मंडी के पास दुकानों पर अवैध पालीथिन का स्टाक है। जिस पर उनकी टीम ने छापेमारी की। इन दोनों दुकानों से 21 क्विटल सिगल यूज पालिथिन बरामद हुआ है। भाव बढ़ गए

 

Advertisement

जिन दुकानों पर छापेमारी की गई उनमें रमेश ट्रेडिग कंपनी, वर्धमान ट्रेडिग कंपनी शामिल है। छापेमारी के बाद भाव बढ़ गए। मंडी में ही रेहड़ी लगाकर पालीथिन बेच रहे दुकानदार ने बताया कि छापेमारी के बाद पालीथिन इधर-उधर कर दी गई है। भाव भी बढ़ा दिए गए हैं। सीएम फ्लाइंग के टीम प्रभारी सुकम पाल ने बताया आने वाले समय में टीम हर उस जगह पर जाकर छापेमारी करेगी जहां अवैध तौर पर पालिथिन बनाने व ट्रेडिग, सप्लाई का काम हो रहा है।

 

Advertisement

55 रुपये किलो पॉलीथिन

पकड़ी गई पॉलिथीन का भाव 55 रुपये किलो है। यह स्वास्थ्य के बेहद नुकसानदायक है। सरकार ने पालीथिन पर प्रतिबंध लगाया हुआ है। इसके बावजूद भी यह धड़ल्ले से बेची जा रही है। बीच-बीच में नगर निगम, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड पालीथिन जब्त कर जुर्माना लगाता रहता है, लेकिन गंभीर रूप से कार्रवाई न होने के कारण पालीथिन बंद नहीं हुई। जागरूकता अभियाना भी सफल नहीं हो पा रहे। छापेमारी टीम में एसआई रामेहर, जोगेंद्र, राजसिंह, प्रवीण कुमार, सफाई निरीक्षक रिकू शर्मा, गुरमीत मौजूद रहे।

क्या है सिगल यूज पॉलीथिन

ऐसा पालीथिन जिसका एक बार ही इस्तेमाल हो सकता है, उसे सिगल यूज पालीथिन कहते हैं। इस पालीथिन को बेचना अपराध है।

 

 

Source : Jagran

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *