Connect with us

पानीपत

LIVE Coronavirus Vaccination in Panipat: पानीपत में इस शख्‍स को लगा कोरोना वैक्‍सीन का पहला टीका, बोलीं-मुझे गर्व है

Published

on

Advertisement

LIVE Coronavirus Vaccination in Panipat: पानीपत में इस शख्‍स को लगा कोरोना वैक्‍सीन का पहला टीका, बोलीं-मुझे गर्व है

कोरोना वैक्सीन का टीकाकरण कुछ ही देर में पानीपत में शुरू हो गया। सफाई कर्मी पूनम को पहला टीका लगाया गया। टीकाकरण केंद्र में पहुंचने पर पूनम काफी खुश नजर आईं। उन्‍होंने कहा, वे खुशनसीब हैं कि मुझे पहला टीका लगा। मैंने इच्‍छा जताई थी कि मुझे पहला टीका लगे। टीकाकरण शुरू होने से पहले सांसद संजय भाटिया पहुंचे। पानीपत के सिविल अस्पताल और एनसी मेडिकल कालेज में टीकाकरण शुरू हुआ।

कोरोना वैक्‍सीनेशन का शुभारंभ हो गया। पानीपत के सिविल अस्‍पताल में सफाईकर्मी पूनम को पहला टीका लगाया गया। इससे पहले सांसद संजय भाटिया ने सिविल अस्‍पताल की पुरानी बिल्‍डिंग में वैक्‍सीनेशन का दीप प्रज्‍वलन कर शुभारंभ किया। पानीपत में सिविल अस्‍पताल और इसराना स्‍थित एनसी मेडिकल कालेज में वैक्‍सीनेशन का सेंटर बनाया गया है। पहले दिन 100-100 हेल्‍थ वर्करों को टीका लगाया जाएगा।

Advertisement

 

आधे घंटे तक नजर रखेंगे

Advertisement

टीका लगाने के आधे घंटे तक नजर रखी जाएगी। इस दौरान अगर हालत ठीक रहती है तो उसे घर जाने या अपने काम पर जाने की इजाजत मिलेगी। दो बार वैक्‍सीनेशन होगी। वैक्‍सीनेशन के बाद भी कोविड गाइडलाइन का पालन किया जाएगा। यानी मास्‍क लगाना जरूरी है। शारीरिक दूरी बनाकर रखें। दरअसल, वैक्‍सीन लगने के बाद एंटीबाडी बनने में वक्‍त लगता है।

Coronavirus Vaccination

Advertisement

अंबाला में एमएम मेडिकल कॉलेज मुलाना में 11:30 पर गांव का कामबास के 39 वर्षीय राजेश कुमार को वैक्सीन का पहला टीका लगा।

Coronavirus Vaccination Ambala

अंबाला के मेडिकल कॉलेज में बनाए गए कोविड-19 वैक्सीनेशन के दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संबोधन को देखते मेडिकल सुपरिटेंडेंट डॉ. एलएन गर्ग।

Coronavirus Vaccination Ambala

सांसद संजय भाटिया सिविल अस्पताल पहुंचे। दीप जलाकर टीकाकरण अभियान का शुभारंभ किया। साथ में सिविल सर्जन डॉ संतलाल वर्मा, प्रिंसिपल मेडिकल ऑफिसर डाक्टर जितेंद्र कादियान, सुनील, ललित वर्मा, नवीन सुनेजा आदि डॉक्टर्स मौजूद रहे। सांसद संजय भाटिया ने कहा कि प्रधानंत्री नरेंद्र मोदी विश्व के महान नेता। देशवासियों को फ्री लगेगा टीका।

 

Coronavirus Vaccination

वैक्‍सीनेशन सेंटर में बाहरी व्‍यक्तियों के आने पर पाबंदी लगा दी गई है।

Coronavirus Vaccination

पहले चरण में 6660 को टीका

पहले चरण में 6660 हेल्थ वर्कर्स को टीका लगना है। इतनी ही कोविशील्ड वैक्सीन स्टोर में वीरवार को पहुंच गई थी। शनिवार की सुबह दोनों वैक्सीनेशन केंद्रों में पहुंचाई जाएगी। हर केंद्र में पांच कर्मचारियों की ड्यूटी रहेगी। इतने ही रिजर्व में रखे गए हैं। प्रवेश और बाहर निकलने के लिए अलग द्वार बनाए गए हैं।

 

कुछ इस तरह पूरी होगी प्रक्रिया :

1. वैक्सीनेशन आफिसर (पुलिसकर्मी, होमगार्ड) लाभार्थी की आइडी देखेगा।

2. वैक्सीनेशन आफिसर दस्तावेज की जांच को प्रमाणित करेगा।

3. वैक्सीनेशन आफिसर, हेल्थ वर्कर्स को वेङ्क्षटग एरिया में बैठाएंगे।

4. वैक्सीनेटर आफिसर, (डाक्टर/नर्स/फार्मासिस्ट) टीका लगाएंगे।

5. वैक्सीनेशन के बाद 30 मिनट तक आब्जर्वेशन रूम में बैठना होगा।

6. टीका का प्रतिकूल असर (अपवाद) होने पर चिकित्सक इलाज करेंगे।

पानीपत में वैक्‍सीनेशन से पहले लोगों से बातचीत करतीं पूनम।

साइड इफेक्ट से न घबराएं

सिविल सर्जन ने बताया कि टीका लगने के बाद इक्का-दुक्का लोगों को सिर दर्द, बदन दर्द या थकावट महसूस हो सकती है। इससे बिल्कुल न घबराएं। हर केंद्र पर विशेषज्ञ रहेंगे। आक्सीजन की सुविधा वाले दो बेड होंगे। सिविल अस्पताल की इमरजेंसी में ले जाने के लिए एंबुलेंस खड़ी रहेगी।

 

 

इंजेक्शन के 14 दिन बाद एंटीबाडी

वैक्सीनेशन का काम देख रहे डा. मनीष पासी ने बताया कि वैक्सीन लगने के 14 दिन बाद लाभार्थियों के शरीर में कोरोना के विरूद्ध एंटीबाडी बननी शुरू होगी। पानीपत में कोविशील्ड वैैक्सीन आई है। 28 दिनों के बाद इसी वैक्सीन की दूसरी डोज दी जाएगी।

 

यह है कोविन एप

कोरोना वैक्सीन लगवाने वाले सभी 6660 हेल्थ वर्कर्स का नाम-पता-मोबाइल फोन नंबर आदि इसमें अपलोड किया गया है। इसके जरिए लाभार्थी को पहली-दूसरी डोज का मैसेज मिलेगा। टीकाकरण के बाद ई-स्लिप मिलेगी। केंद्र का नाम, लाभार्थी को कौन सी कंपनी की वैक्सीन लगी, उसका बैच नंबर, एक्सपायरी डेट आदि टाइप करना होता है।

 

सभी लगवाएं वैक्सीन

कोविड वैक्सीन लगवाना स्वैच्छिक है, हेल्थ वर्कर्स के लिए ऐसी कोई गाइडलाइन नहीं मिली है। सिविल सर्जन ने कहा कि अपनी और दूसरों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए सभी टीका लगवाएं। कोरोना को हराने के लिए यह जरूरी है।

कुरुक्षेत्र में तीनों केंद्रों पर शुरू हुआ टीकाकरण अभियान

जिले में तीनों टीकाकरण केंद्रों पर लॉंचिंग के साथ ही कोरोना वैक्सीन देने का अभियान शुरू हो गया। वैक्सीन लेने के लिए एलएनजेपी अस्पताल में पहले ही स्वास्थ्य कर्मचारी पहुंचना शुरू हो गए। जिले में पहले दिन तीन टीकाकरण केंद्रों पर 300 स्वास्थ्य कर्मचारियों को टीके लगाने का लक्ष्य रखा गया है। अभियान की शुरुआत में सबसे पहले आइसोलेशन वार्ड में ड्यूटी करने वाले चिकित्सक और स्टाफ को कोरोना वैक्सीन दी गई।

 

गौरतलब है कि जिले में 5149 स्वास्थ्य कर्मचारियों को कोरोना वैक्सीन लगाई जानी है। इनमें 2963 सरकारी और 2186 निजी अस्पतालों में कार्यरत कर्मचारी हैं। जिले में स्वास्थ्य कर्मचारियों के लिए 6310 कोरोना वैक्सीन की डोज पहुंची है, जिन्हें तीनों सेंटरों में एक दिन पहले ही पहुंचाया जा चुका है। टीकाकरण के लिए जिले में भले ही पांच केंद्रों को निर्धारित किया है, लेकिन इनमें से शनिवार को सिर्फ तीन ही केंद्र एलएनजेपी अस्पताल, मथाना और पिहोवा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में कोरोना वैक्सीन अभियान शुरू किया गया।

 

शनिवार को 10 नए केस मिले थे

जिला सिविल सर्जन डा. सुखबीर सिंह ने बताया कि जिले में कोरोना के 10 नए मामले सामने आए थे। जबकि 13 मरीजों को एक ही दिन में ठीक होने पर अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी। अहम पहलू यह है कि अभी तक लिए गए 190672 में से 180659 सैंपल की रिपोर्ट नेगेटिव आ चुकी है। अब तक 8756 पॉजिटिव केस सामने आ चुके हैं। इनमें से 8518 मरीज ठीक होकर घर जा चुके हैं। जबकि 131 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौत हो चुकी है। जिले में कोरोना वायरस के 107 एक्टिव केस हैं।

 

 

 

Source :  Bhaskar

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *