Connect with us

पानीपत

इस तरह शेयर हो रहीं किसान आंदोलन की गति‍विधियां, परिवार को भी जोड़ा

Published

on

Advertisement

इस तरह शेयर हो रहीं किसान आंदोलन की गति‍विधियां, परिवार को भी जोड़ा

 दिल्ली किसान आंदोलन में शामिल होने जा रहे किसानों ने आंदोलन की गतिविधियों को अपने परिजनों तक पहुंचाने के लिए वाट्सएप ग्रुप बनाया है। ग्रुप में रास्ते में जहां भी विश्राम अथवा चाय पानी रहे हैं वह सभी की फोटो ग्रुप में शेयर कर रहे हैं। परिजन भी ग्रुप में अपने परिवार के सदस्य के शामिल होने पर आगे बढ़ते रहो का संदेश पोस्ट करके हौसला बढ़ाने का काम कर रहें हैं। आंदोलन का हिस्सा बनने वाले किसान से लेकर युवा वर्ग अपने बनाए वाट्सएप ग्रुप में आसपास गांव के किसानों को जोड़कर आंदोलन से जुटी फोटो से लेकर वीडियो का आदान प्रदान करने में लगे हैं।

इस तरह शेयर हो रहीं किसान आंदोलन की गति‍विधियां, परिवार को भी जोड़ा

पलपल की गतिविधियों से परिजन हो रहे अवगत

Advertisement

आंदोलन में अपनी सहभागिता दर्ज कराने के लिए घरों से निकले बड़े बुजुर्गो के साथ युवाओं के पलपल की गतिविधियों की सूचना परिजनों तक पहुंच रही है। अगर किसी को सहायता की अवश्यकता है तो वह सीधे ग्रुप में अपनी बात रखता है। ग्रुप में बात पहुंचते ही तुरंत आसपास के किसान से लेकर सेवादार मदद के लिए जुट जाते हैं।

 

Advertisement

घर बैठे परिजन वीडियो कॉल पर देख रहे आंदोलन

वाट्सएप ग्रुप में शामिल किसानों के परिजन समय समय पर घर बैठे ही आंदोलन की सभी गतिविधियों को वाट्सएप वीडियो कॉल करके देख रहे हैं। स्मार्ट फोन की बैट्री चार्ज रहे, इसके लिए ट्रैक्टर ट्राली से लेकर कार जीपों में चार्जर लगाने की अगल से व्यवस्था बनाई है। जिससे मोबाइल डिसचार्ज न होने पाए और वह एक दूसरे के संपर्क में बने रहे।

Advertisement

 

लोग दिलखोलकर कर रहे दान

पंजाब से दिल्ली के बीच जगह जगह चल रहा लंगर चलता रहे इसके लिए किसानों के साथ आसपास के ग्रामीण दिलखोलकर दान कर रहे हैं। कुछ किसान ईंधन की व्यवस्था कर रहे हैं तो कुछ खाने पीने की वस्तुएं भी दान स्वरूप दे रहें हैं।

 

 

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *