Connect with us

पानीपत

पहले रास्ता पूछा, फिर 500 मीटर दूर ले गए, सोने की चेन, अंगूठी व पैसे ले फरार

Published

on

Advertisement

पहले रास्ता पूछा, फिर 500 मीटर दूर ले गए, सोने की चेन, अंगूठी व पैसे ले फरार

रेलवे लाइन पार हनुमान कालोनी निवासी कमलेश को एक अनजान लड़के का सहयोग करना उस समय भारी पड़ गया, जब वो साथी संग गले से चेन, अंगूठी व पर्स ले उड़ा। घटना मंगलवार दोपहर पौने तीन बजे के करीब की है। सीसीटीवी कैमरों की फुटेज में दिख रहा है कि ठग उस महिला से बातचीत कर रहे हैं।

Advertisement

पहले रास्ता पूछा, फिर 500 मीटर दूर ले गए, सोने की चेन, अंगूठी व पैसे ले फरार

कमलेश ने पुलिस को बताया कि उसकी मां मिठाई लेकर आई थी। मां को उसकी दूसरी बहन के यहां भी जाना था तो मां ने उसे कपड़े लाने के लिए कहा। वह भतीजी को लेकर ढाई बजे के करीब घर से बाजार के लिए निकली। काठमंडी के पास पहुंची तो एक लड़का उसके पास आया। उसने चेहरे पर मास्क व पीठ पर बैग लटकाया हुआ था। सोनीपत जाने की बात बोल किराये के पैसे मांगने लगा। वह 20 रुपये देने लगी तो लड़का रास्ते के बारे में पता न होने की बात बोल अड्डे तक छोड़ आने के लिए कहने लगा।

Advertisement

 

बातों में आकर वो उसे बस अड्डे की तरफ लेकर चल पड़ी। कुच्छल स्वीट्स के पास पहुंची, तभी दूसरा युवक आया। दोनों उसे बातों में उलझाकर पुराना बस अड्डा पर ले गए। वहां ठगों ने सम्मोहित कर न केवल गले से चेन व अंगूठी उतरवाई, बल्कि पर्स तक लेकर फरार हो गए। दोनों ठग जाते वक्त गुजरात जाने की बात कह बैग में ज्यादा बोझ बता उसे दे गए, जिसमें गत्ते की गड्डी निकली। होश आने पर चला पता

Advertisement

 

कमलेश ने बताया कि युवकों ने बस अड्डे पर उससे कब और कैसे अंगूठी व चेन उतरवा ली, उसे कोई पता नहीं चला। वहां से आकर वह कपड़े की दुकान पर पहुंची और पैसे देने लगी तो पर्स के साथ अंगूठी व गले से चेन भी गायब मिली। वह सन्न रह गई और स्वजनों को अवगत कराया। दो तोला की चेन व आधे तोला की अंगूठी थी। पर्स में 3 हजार रुपये थे। 500 मीटर दूर ले गए

 

ठग बड़े ही शातिर थे। साजिश रच पहले तो लड़के ने मदद मांगी। महिला मददगार बनी तो दूसरा साथी सहयोगी बनकर साथ चलने लगा। बातों में फंसा करीब 500 मीटर दूर पुराने बस अड्डे पर ले गए। यहां हर वक्त हाईवे ट्रैफिक पुलिस के जवानों के साथ अकसर चौकी पुलिस की पीसीआर भी तैनात रहती है। ठगों में कोई डर नहीं दिखा और आसानी से महिला के गहने उतरवा ले फरार हो गए। महिला ने बताया कि युवक ने अपनी अंगुली में अंगूठी पहनी हुई थी। ठगी का शिकार होने के बाद कमलेश की आंखों से आंसू थम नहीं रहे थे। फुटेज देखी जा रही हैं : चौकी प्रभारी सब निरीक्षक राजकुमार का कहना है कि मामला संज्ञान में आया है। जांच अधिकारी को मौका निरीक्षण व सीसीटीवी कैमरों की फुटेज देखने के लिए भेजा गया।

 

Source : Jagran

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *