Connect with us

पानीपत

105 करोड़ का तेल-तारकोल खरीदा, 19.25 करोड़ का टैक्स जमा नहीं कराया, मोहित बठला गिरफ्तार

Published

on

Advertisement

105 करोड़ का तेल-तारकोल खरीदा, 19.25 करोड़ का टैक्स जमा नहीं कराया, मोहित बठला गिरफ्तार

 

केंद्रीय जीएसटी की पानीपत में बड़ी कार्रवाई, व्यापारियों में हड़कंप

Advertisement

जागरण संवाददाता, पानीपत : केंद्रीय जीएसटी की टीम ने शहर में बड़ी कार्रवाई की है। तेल-तारकोल के कारोबारी मोहित बठला को गिरफ्तार कर लिया। आरोप है कि गुजरात की कंपनी से 105 करोड़ की खरीदारी की। 19.25 करोड़ का टैक्स नहीं जमा कराया। देर शाम को माडल टाउन थाना पुलिस को बुलाकर सिविल अस्पताल में मेडिकल कराया गया। इसके बाद माडल टाउन थाने में ही मोहित को हिरासत में रखा गया। अब शनिवार को उसे अदालत में पेश किया जाएगा। टीम आरोपित को रिमांड पर लेने की कोशिश करेगी। पंचकूला से आई केंद्रीय जीएसटी टीम की पानीपत में अब तक की यह सबसे बड़ी कार्रवाई है। इससे पहले स्टेट जीएसटी की टीम ने टैक्स घोटाले के मामले में तीन कारोबारियों को पकड़ा था।

Advertisement

105 करोड़ का तेल-तारकोल खरीदा, 19.25 करोड़ का टैक्स जमा नहीं कराया, मोहित बठला गिरफ्तार

आरोपित मोहित बठला एसबी केमिकल के नाम से जाटल रोज पर फर्म चला रहा है। यहां आयल, तारकोल का काम होता है। एसबी केमिकल ने गुजरात में सूरत की कंपनी से माल खरीदा था। वह फर्म फर्जी पाई गई। इस पर केंद्रीय जीएसटी टीम ने एसबी केमिकल कंपनी पर छापेमारी की। छापेमारी में मोहित बठला सहित तीन और लोगों से पूछताछ की गई। इनमें कंपनी के कर्मचारी भी शामिल हैं। सहायक आयुक्त पीयूष कुमार और अंकित के नेतृत्व में जीएसटी प्रिवेंटिव टीम ने यह छापेमारी की। टीम में सुपरिटेंडेंट दीपक वर्मा सहित राहुल जैन, मनप्रीत सिंह शामिल रहे।

Advertisement

दो दिन तक रिकार्ड खंगाला

इससे पहले टीम के 12 सदस्यों ने मोहित बठला के कार्यालय में डेरा जमा लिया। मोहित बठला के कार्यालय में किसी को न आने दिया, न बाहर जाने दिया। टीम एक दिन पहले वीरवार को मोहित बठला के कार्यालय में पहुंची। 24 घंटे बाद तक कार्यालय में टीम रिकार्ड खंगालती रही। इस दौरान मोहित बठला का परिवार बाहर गया हुआ था। छापेमारी की सूचना मिलने पर परिवार शुक्रवार सुबह पहुंचा। परिवार को सदस्यों को भी बठला के कार्यालय में अंदर जाने नहीं दिया गया। कार्यालय के बाहर खड़े उनके पिता अशोक बठला ने बताया कि उन्हें अंदर नहीं जाने दिया जा रहा है। उनके बेटे का तारकोल का काम है। उनसे ही टीम पूछताछ कर रही है।

हमें फंसाया जा रहा है

मोहित बठला के पिता अशोक बठला ने बताया कि छापेमारी में क्या चल रहा है, इसकी जानकारी नहीं है। टैक्स यदि होगा तो वह भरने के लिए तैयार हैं। हम समय पर टैक्स दे रहे हैं। अशोक बठला ने बताया कि उनके बेटे ने 2017-18 में गुजरात की कंपनी से तारकोल खरीदा था। इसका पूरा टैक्स जमा करा दिया था। टीम ने अब बताया कि कंपनी भाग गई है। इसका टैक्स आपको भरना होगा।बठला का कहना है कि उन्हें फंसाया जा रहा है।

स्क्रूटनी में फंसे

आरोपित मोहित बठला की फर्म स्क्रूटनी में फंसी। फर्जी फर्मों से माल लिया गया था। उन फर्मों ने जीएसटी नहीं भरा था।

तीन साल पहले 1800 करोड़ का फर्जीवाड़ा पकड़ा

केंद्रीय जीएसटी की टीम ने तीन साल पहले पानीपत में 1800 करोड़ का फर्जीवाड़ा पकड़ा था। सैकड़ों व्यापारियों से जीएसटी भरवाया था। उसके बाद दो हजार करोड़ से अधिक का फर्जीवाड़ा स्टेट जीएसटी ने पकड़ा था। इसमें 50 एफआइआर दर्ज करवाई गई थी। तीन लोगों को स्टेट जीएसटी ने पकड़ा था। दो माह पहले भी सेक्टर 13-17 के एक व्यापारी को गिरफ्तार किया गया था।

जजपा नेता लेते रहे जानकारी

मोहित बठला के चाचा सोहनलाल बठला जननायक जनता पार्टी के नेता हैं। जजपा नेता भी दिनभर जानकारी लेते रहे कि आखिर क्या हुआ। किसी को कुछ पता नहीं चल पा रहा था।

 

Source : jagran

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *