Connect with us

पानीपत

नवयुवती को भगा ले गया युवक, घर से रुपये और जेवर चोरी

Published

on

Advertisement

नवयुवती को भगा ले गया युवक, घर से रुपये और जेवर चोरी

 

शहरमालपुर गांव से जनरल नर्सिंग एंड मिडवाइफरी (जीएनएम) प्रथम वर्ष के छात्र के संदिग्ध हालात में घर से लापता होने के मामले का पटाक्षेप हो गया है। युवक गांव की ही नवयुवती को भगा ले गया था। वह घर से 70 हजार रुपये और दो लाख रुपये की कीमत के जेवर भी चुरा ले गई। उसके पिता ने छात्र के खिलाफ अपहरण और उसके स्वजनों पर जान से मारने की धमकी का मामला दर्ज कराया है। नवयुवती के पिता ने पुलिस को शिकायत दी कि 29 अक्टूबर को दिन के 11:40 बजे वह काम पर गया था।

Advertisement

Theft Crimes - John Karas Law

इसी दौरान अरुण उसकी 17 वर्षीय नाबालिग बेटी को बहका कर को-आपरेटिव बैंक बिहोली में ले गया। बैंक में बेटी व पत्नी का संयुक्त खाता था। मैनेजर को शक हुआ तो उसने बेटी को रुपये देने से मना कर दिया। इसकी तस्वीर सीसीटीवी कैमरे में है। बाद में पता चला कि उसी रात अरुण उसके घर से 70 हजार रुपये और दो लाख रुपये की कीमत के जेवर चुरा ले गया। उसकी बेटी का भी अपहरण करके ले गया। बेटी के अपहरण में गांव के अमित, ललित और अन्य तीन युवकों ने भी साथ दिया है।

Advertisement

बेटियों की शादी के लिए जुटाए थे जेवर

पिता ने पुलिस को बताया कि जेवरात अपनी तीन बेटियों की शादी के लिए इकट्ठे किए थे। 30 अक्टूबर की सुबह वह पत्नी के साथ आरोपित के घर गया। वहां पर आरोपित का पिता आजाद, मां, भाई अजय और साहिल ने जान से मारने की धमकी दी। इसके बाद आरोपित डंडे व छुर्रे लेकर घर में घुसे और उसकी हत्या की कोशिश की। उसने हाथ-पांव जोड़कर जान बख्शने की गुहार लगाई। उसने और बेटे बेटी की तलाश की, लेकिन सुराग नहीं मिला। बापौली थाना प्रभारी रामनिवास ने बताया कि आरोपित अरुण, उसके स्वजनों और दोस्तों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। आरोपित का मोबाइल फोन बंद है। आोपित के पिता ने कराई थी गुमशुदगी की शिकायत

Advertisement

School teacher arrested for allegedly molesting five students in Goa

शहरमालपुर गांव के आजाद ने पुलिस को शिकायत दी कि उसके तीन बेटे व तीन बेटी हैं। उसका मंझला बेटा अरुण (21) सोनीपत की एक नर्सिंग एकेडमी से जीएनएम का कोर्स कर रहा है। कोविड-19 के कारण बेटा घर पर पढ़ाई कर रहा था। बेटे की दिसंबर में परीक्षा होनी है। रात 11 बजे अरुण बैग में कपड़े डालकर निकल रहा था। इस दौरान छोटे बेटे साहिल ने टोका भी था। उसे कहा गया था कि पिता के पास पशुबाड़े में सोने जा रहा है। इस बारे में 30 अक्टूबर की सुबह साहिल बेटे ने उसे जानकारी दी। अरुण घर में किसी को बिना कुछ बताए चला गया है। बेटा घर नहीं लौटा है। पुलिस ने गुमशुदगी का मामला दर्ज कर रखा है। पुलिस आरोपित की तलाश ही कर रही थी कि किशोरी के पिता ने शिकायत दर्ज करा दी।

 

 

Source : Jagran

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *