Connect with us

Medical update

एक हजार लोगों को हरियाणा-पंजाब के बॉर्डर पर रोका, शेल्‍टर में भेजे गए

Published

on

 कोरोना वायरस को देखते हुए लॉकडाउन की अवधि में लोगों को एक स्थान से दूसरे स्थान पर जाने पर पूर्णरूप से पाबंदी है। बहुत से लोगों को राज्य सरकार ने भरोसा दिलाया है कि उनके यहां रहने और खाने पीने से लेकर तबीयत खराब होने पर इलाज का पूरा खर्च सरकार उठाएगी। बावजूद इसके पंजाब, हिमाचल और हरियाणा में काम करने आए लोग अपने परिवार के साथ पैदल ही घर जाने के लिए निकल पड़े। अब हरियाणा और पंजाब बार्डर को सील करके पुलिस के नाके लगा दिए गए हैं। मुख्य मार्ग से होकर उत्तर प्रदेश और बिहार अपने घर पैदल जाने के लिए निकले करीब एक हजार लोगों को पुलिस ने रोककर सेंटर पर ठहरा दिया है। इन सेंटरों में पहुंचने वालों को पहले स्वास्थ्य विभाग की टीम जांच करती है और उसके बाद रुकने की अनुमति दी जा रही है।

एक हजार लोगों को हरियाणा-पंजाब के बॉर्डर पर रोका, शेल्‍टर में भेजे गए

चंडीगढ़ हाईवे पर पंजाब-हरियाणा बार्डर के सद्दोपुर में एसआई सुभाष सिंह के नेतृत्व में नाका लगाया गया है। यहां से केवल एम्बूलेंस, ड्यूटी पास, प्राइवेट पास, दूध, ब्रेड, गैस सिलेंडर वाले वाहन के अलावा सरकारी विभाग के अधिकारियों के सरकारी वाहन को ही जाने दिया जा रहा है। इसके लिए पुलिस प्रशासन ने यहां पर पांच नाले के लिए, 8 रोड सेफ्टी के अलावा महिला मुलाजिमों की तैनाती की है। यह लोग बार्डर पर नाका लगाकर वाहनों की सघन पड़ताल कर रहे हैं। अगर कोई पैदल जा रहा है तो उसे लॉकडाउन की अवधि तक के लिए शहर के सेंटरों में शिफ्ट करा रहें हैं।

Ambala

अंबाला शहर में बने तीन सेंटर

अंबाला शहर के मंजी साहब गुरुद्वारे के निकट सैनी स्कूल में अपने घर जा रहे लोगों को ठहरने से लेकर खाने पीने की व्यवस्था की गई। यहां मंगलवार तक 230 लोगों को ठहरा दिया गया है। इसी तरह श्री राधास्वामी व्यास परिसर में भी डेरे की तरफ से ऐसे लोगों के ठहरने से लेकर खाने पीने की व्यवस्था है। डेरे में करीब 590 लोगों के रूकने से लेकर खाने पीने की व्यवस्था है। ठीक इसी तरह कैथ माजरी के श्री विश्वकर्मा धर्मशाला में भी करीब 130 लोगों को रोका गया है। इन तीनों स्थान पर रुके हुए लोगों का स्वास्थ्य समय समय पर चेक किया जा रहा है। फिलहाल यहां पर किसी को भी कोरोना का संदिग्ध मरीज नहीं पाया गया है।

 

डेरा में दान को स्वीकार करने पर मनाही

अंबाला शहर के कैथ माजरी के निकट श्री राधा स्वामी सतसंग व्यास के अनुयायी सेवाभाव से यहां ठहरे हुए लोगों की मदद करने में जुटे हैं। डेरा की तरफ से यहां ठहरे हुए लोगों के लिए लंगर लगाया जा रहा है, इसमें किसी के भी दान को स्वीकार नहीं किया जा रहा है। खुद के बनाए गए भोजन वितरण में सोशल डिस्टेंस का ध्यान देते हुए सभी को खाना खिलाया जा रहा है।

Lockdown

रेडक्रास सोसायटी ने किए प्रबंध

अंबाला प्रशासन की सहयोगी संस्था रेडक्रास सोसायटी की तरफ से यहां रुकने वालों के लिए भोजन से लेकर अन्य सुविधाएं मुहैया कराई जा रही है। प्रशासन की तरफ से लॉकडाउन अवधि तक के लिए बनाए गए सेंटर में मास्क से लेकर अन्य जरूरी वस्तुएं रेडक्रास के साथ अन्य सामाजिक और स्वयंसेवी संस्थाएं पहुंचा रही हैं।

हाईवे पर देखा नाका तो खेत के बीच से निकले

पंजाब की तरफ से आ रहे कुछ लोग अंबाला-लुधियाना हाइवे पर नाका देखकर खेत के बीच से होकर अपने घर के लिए निकल पड़े। आगे चलकर उन्हें दूसरी जगह पुलिस मुलाजिमों ने रोक लिया और पूछताछ करने के बाद अंबाला शहर में बनाए गए सेंटर में पहुंचा दिया। पुलिस सेंटर में आने वालों से अपील कर रही है कि वह लॉकडाउन अवधि तक कहीं न जाएं, उनके रहने खाने से लेकर स्वास्थ्य सुविधा की मुकम्मल व्यवस्था की गई है।

पंजाब से आ रहे 12 युवकों को शेल्टर होम पहुंचाया 

लॉकडाउन को लेकर प्रशासन की तरफ से शेल्टर होम में पंजाब से अआ करीब 12 युवकों को डीएसपी ने बंसतपुरा फाटक पर रोका, और कोरोना वायरस के बारे में जागरुक करते हुए सैनिटाइजर से हाथ धुलवाए। साथ ही मास्क लगवाकर रेलवे रोड स्थित एसएमएस गर्ल्‍स कॉलेज में ठहरा दिया। इनके स्वास्थ्य की जांच सीएचसी इंचार्ज से करवाया। डीएसपी अनिल कुमार ने पंजाब  से आए युवकों को अपना ख्याल रखने को कहा। सभी बार-बार सैनिटाइजर से हाथ धोएं। कहा कि सभी की जान कीमती है। हमें सभी की सुरक्षा करनी है आप सुरक्षित हैं तो आप का परिवार भी सुरक्षित है। अगर आप हमारी बात नही मानेंगे तो आप को वापिस कर दिया जाएगा। हमारा लक्ष्य हैं इस महामारी कोरोना का हमें भगाना है। अगर आप इस चैन को तोड़ेंगे तो सभी का जीवन सकंट में आ सकता है इस लिए ध्यान रखो सुरक्षा चक्र बनाए रखे इसी में हमारी व हमारे परिवार की भलाई है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *