Connect with us

पानीपत

अंधेरे में पानीपत शहर, अब मेयर का 15 दिन में रोशनी का दावा

Published

on

Advertisement

अंधेरे में पानीपत शहर, अब मेयर का 15 दिन में रोशनी का दावा

 

वर्ष 2020 अंधेरे में ही बीत गया। दीपावली से लेकर नए साल तक पर दावे किए गए कि शहर जगमगाएगा। जनवरी में कोहरा पड़ने के बाद भी स्ट्रीट लाइट न लगने से बाजारों के कारोबारी चितित हैं। बाजारों में आए दिन अंधेरे का लाभ उठा कर चोरी हो रही है। नगर निगम में 9940 नई एलइडी स्ट्रीट लाइट आ चुकी है। हाउस की बैठक में इन्हें लगाने के लिए प्रस्ताव भी पास हो गया है। अब सवाल यह है कि शहर की अंधेरी सड़कों व चौक चौराहों पर कब ये लाइटें लगेंगी।

Advertisement

निगम अधिकारियों का कहना है कि नई स्ट्रीट लाइट लगाने काम जल्द शुरू होगा। वार्ड-1 से 5 तक, 6 से 10 तक, 11 से 15 तक, 16 से 20 तक और 21 से 26 तक अलग अलग 35-35 लाख के 5 टेंडर लगे थे। ये लाइटें नगर निगम कार्यालय में आ गई हैं। मेयर अवनीत कौर का कहना है कि पंद्रह दिन में लाइट लगनी शुरू हो जाएंगी। पौने दो करोड़ की लाइटें आई हैं। 1.65 करोड़ रुपये इन्हें लगाने पर खर्च होंगे।

अंधेरे में पानीपत शहर, अब मेयर का 15 दिन में रोशनी का दावा

Advertisement

 

वार्डो को 300-300 स्ट्रीट लाइट मिलेंगी, मेयर, विधायक को 500

Advertisement

हर वार्ड को 300-300 स्ट्रीट लाइट देंगी। इसके अतिरिक्त 500-500 लाइटें मेयर, विधायकों व सांसद को दी जा रही है। ये अपनी इच्छा से लाइट लगवा सकेंगे।

धुंध बढ़ गई है, इसलिए शहर में जल्द लगें लाइटें

शहरवासी एवं संयुक्त व्यापार मंडल प्रधान सुनील अरोड़ा, चेयरमैन दर्शन लाल वधवा, इंसार बाजार देवी मंदिर रोड प्रधान सुशील भराड़ा, स्काईलार्क रोड बाजार प्रधान सुखविद्र सिंह हैप्पी व चेयरमैन राजीव मलिक, असंध रोड बाजार प्रधान मोहन लाल वधवा, मुख्य बाजार ट्रेड यूनियन प्रधान निशांत सोनी व द पानीपत डायर्स एसेसिएशन प्रधान भीम सिंह राणा व ओल्ड इंडस्ट्री एरिया मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन पूर्व महासचिव एवं उद्यमी राजीव अग्रवाल का कहना है कि अब धुंध बहुत बढ़ गई है। सड़कों पर फैले अंधेरे के कारण चोरी व हादसों का भय हमेशा ही बना रहता है। इन सबको ध्यान में रखते हुए शहर में नई स्ट्रीट लाइट जल्दी लगाई जाए।

सिर्फ घोषणा होती

पंचरंगा बाजार के प्रधान अशोक नारंग का कहना है कि स्ट्रीट लाइट लगाने की घोषणा कई बार हो चुकी है। पचरंगा बाजार के चौराहे पर भी लाइट खराब पड़ी है। नगर निगम आयुक्त के कार्यालय के बाहर भी स्ट्रीट लाइट खराब पड़ी है। शहर के 22 बाजारों में लाइट बंद पड़ी है। मैन बाजार, कोटला इलाका, कायस्थान मुहल्ला, सेठी चौक, परमहंस कुटिया रोड, क्लाथ मार्केट में अंधेरा पसरा रहता है।

स्ट्रीट लाइट लगने में देरी हुई

पार्षद रवींद्र भाटिया ने कहा कि स्ट्रीट लाइट लगने में देरी हुई हैं। इंस्टालेशन का टेंडर पहले भी हो सकता था। हाउस की मीटिग में प्रस्ताव पास हो चुका है। अधिकारियों ने जल्द टेंडर करने का आश्वासन दिया है। उम्मीद है जल्द स्ट्रीट लाइटें लगेंगी। इंजीनियर विग ने किया सर्वे

कहां-कहां लाइटें लगनी है, इसके लिए निगम के इंजीनियर विभाग ने सर्वे किया है। हुडा की तरह एक सेमेस्टर में स्ट्रीट लाइट लगे। उसके लिए इंजीनियर विग इंस्टालेशन सर्किट भी बनाएगा। लाइटों का पूरा रिकार्ड निगम में होगा। पहले ही तरह किसी भी खंबे पर लाइट नहीं लगेगी। लाइट का पूरा रिकार्ड निगम के पास होगा।

शिकायतकर्ता भी हुए परेशान

खराब स्ट्रीट लाइट को लेकर शिकायतकर्ता भी परेशान हो चुके हैं। शहर के 26 वार्डो में 25 हजार के आसपास लाइट लगी हुई हैं। इनमें एलइडी, राड वाली और सोडियम लाइट शामिल है। शिकायत करने पर बताना होता है कि कौन सी लाइट खराब है। अलग-अलग कंपनी की अलग-अलग ठेकेदारों ने लाइट लगाई थी।

आयुक्त ने ली स्ट्रीट लाइट कर्मचारियों की मीटिंग

खराब पड़ी लाइटों को ठीक करने के लिए सामान की कमी चल रही थी। अब उनके लिए सामान आ गया है। शनिवार को आयुक्त डा. मनोज कुमार ने स्ट्रीट लाइट को लेकर कर्मचारियों की मीटिग भी ली थी जिसमें स्ट्रीट लाइट के सर्वे की जानकारी भी ली गई।

मेयर ने किया वादा

मेयर अवनीत कौर ने जागरण से बातचीत में कहा कि 15 दिन में स्ट्रीट लाइट लगनी शुरू हो जाएंगी। यानी गणतंत्र दिवस या इससे एक दिन पहले तक शहर जगमग होने लगेगा। यह दावा कितना सही होगा, यह तो पंद्रह दिन बाद पता चल जाएगा।

 

Source : Jagran

 

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *