Connect with us

पानीपत

हादसा: सोते समय आई धमाके की आवाज, आंख खुली तो बेडरूम में घुसा था ट्रक

Published

on

Advertisement

हादसा: सोते समय आई धमाके की आवाज, आंख खुली तो बेडरूम में घुसा था ट्रक

 

करनाल में एक परिवार घर में सो रहा था। तभी अचानक धमाका सुनाई दिया। जब आग खुली तो बेडरूम में ट्रक घुसा हुआ था। ट्रक दीवार को तोड़ते हुए घर के अंदर आ गया। इसमें एक महिला जख्‍मी हो गई, जबकि दो बच्‍चे बाल-बाल बच गए।

Advertisement

कमरे का लेंटर व दीवार ढहने के बाद मौके पर खड़ा ट्रक व बेडरूम में पड़ा मलबा।

गांव नगला मेघा गांववासी राजबीर सिंह ने बताया कि सुबह करीब साढ़े छह बजे उसकी पत्नी सुमन व दो बच्चे बेडरूम में सोए हुए थे। तभी गली से तेज गति से गुजर रहा एक ट्रक दीवार तोड़ते हुए उनके बेडरूम तक घुस गया।

Advertisement

 

लेंटर तक ढह गया

Advertisement

बेडरूम की दीवार से टकराकर ट्रक रूक गया, लेकिन बेडरूम का लेंटर ढह गया। वह उस समय किसी काम के चलते घर से बाहर निकला हुआ था। ट्रक की दीवार से टक्कर व लेंटर गिरने से जोरदार धमाका हुआ और उसके परिवार के साथ-साथ आसपास के लोगों में भी हड़कंप सा मच गया। इस हादसे में सुमन के सिर पर चोटें आई तो बच्चे बाल-बाल बच गए।

 

पड़ोसी मदद को दौड़े

पड़ोस के लोगों ने यह मंजर देखा तो वे उन्हें बचाने के लिए दौड़े। आनन-फानन में पुलिस कंट्रोल रूम व एंबुलेंस के लिए फोन किया गया, जिसके बाद पहुंची एंबुलेंस से सुमन को सिविल अस्पताल पहुंचाया गया जबकि सूचना मिलने पर पुलिस भी पहुंची। आरोपित ट्रक चालक मौके पर ट्रक छोड़कर फरार हो गया। जिसकी तलाश पुलिस कर रही है।

यमुनानगर का रहने वाला है ट्रक चालक

ट्रक चालक गांव सदरपुर से रेत लेने के लिए यमुनानगर के गांव मुमथला जा रहा था। आसपास के लोगों के अनुसार ट्रक बेहद तेज गति से था और अनियंत्रित होकर दीवार तोड़ते हुए कमरे में जा घुसा। राजबीर ने बताया कि वह मजदूरी कर परिवार का गुजारा चला रहा है और बेहद मुश्किल से उसने यह घर बनाया था। अब उसके सामने इसे दोबारा बनाने के लिए भी समस्या खड़ी हो गई है। सदर थाना एसएचओ बलजीत सिंह का कहना है कि ट्रक को क्रेन के माध्यम से हटा दिया गया और आरोपित ट्रक चालक की तलाश की जा रही है।

Advertisement