Connect with us

यमुनानगर

Pics: सेल्फी क्लिक की और फंदे पर झूल गया 13 साल का छात्र, मां को सुनाई थी आपबीती

13 साल के छात्र ने पहले सेल्फी क्लिक की और फिर फंदा लगाकर जान दे दी। मां और बहन ने इसके पीछे की वजह बताई तो जानकर सब चौंक गए। मामला हरियाणा के यमुनानगर का है। जोगिंद्र नगर में रविवार शाम छठी कक्षा के एक छात्र (13) को उसी के पड़ोस में रहने वाले एक […]

Published

on

13 साल के छात्र ने पहले सेल्फी क्लिक की और फिर फंदा लगाकर जान दे दी। मां और बहन ने इसके पीछे की वजह बताई तो जानकर सब चौंक गए।

मामला हरियाणा के यमुनानगर का है। जोगिंद्र नगर में रविवार शाम छठी कक्षा के एक छात्र (13) को उसी के पड़ोस में रहने वाले एक किशोर (16) ने अपने साथियों के साथ मिलकर जमकर पीटा। बाद में छात्र को कमरे में बंद कर दिया। काफी देर कमरे में बंद रखने के बाद छात्र से 250 रुपये छीनकर कमरे से बाहर निकाला। पीड़ित छात्र ने घर आकर चुन्नी से फंदा लगाकर जान दे दी।

आत्महत्या करने से पहले छात्र ने अपनी मां को मारपीट के बारे में बताया था। इसके बाद मोबाइल से सेल्फी ली थी। आरोपी छात्र ने तीन दिन पहले भी छात्र के साथ मारपीट की थी और तेजधार हथियार (छुरा) दिखाकर डराया था। पुलिस ने छात्र के पिता की शिकायत पर किशोर के खिलाफ आत्महत्या के लिए उकसाने के आरोप में केस दर्ज किया है।

जोगिंद्र नगर निवासी नगीना प्रसाद ने पुलिस को बताया कि वह मूलरूप से बिहार के जिला सीवान के गांव बड़वा के रहने वाले हैं। कई सालों से जोगिंद्र नगर में रहते हैं। उनका इकलौता बेटा राजन सरकारी स्कूल में छठी कक्षा में पढ़ता था। रविवार शाम करीब चार बजे वह घर से खेलने के लिए निकला था। वापस आया तो अपनी मां को बताया कि पड़ोस में रहने वाले किशोर ने अपने साथियों के साथ मिलकर उसकी जमकर पिटाई की और कमरे में बंद कर दिया।

कमरे से बाहर निकालने के बाद आरोपी ने उसे छुरा दिखाकर जान से मारने की धमकी भी दी। घर आकर छात्र ने पूरी बात मां को बताई। इस पर मां ने उसे समझाया। फिर पड़ोस की दुकान पर सामान लेने चली गई। करीब दस मिनट बाद जब वह घर पहुंची तो राजन कमरे में फंदा से लटका मिला। थाना फर्कपुर पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम हाउस में रखवा दिया। परिजनों का आरोप है कि पड़ोस में रहने वाले किशोर की मारपीट से आहत होकर राजन ने फंदा लगाकर जान दी है।

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *