Connect with us

विशेष

PM Modi कर रहे हैं संवाद, किसानों के खातों में भेजे 18 हजार करोड़ रुपये

Published

on

Advertisement

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) आज (शुक्रवार) पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) की जयंती के मौके पर छह राज्यों के किसानों से बात करेंगे. इस दौरान करीब 9 करोड़ किसानों के खाते में पीएम किसान सम्मान निधि योजना (PM Kisan Samman Nidhi Yojana) की सातवीं किस्त ट्रांसफर करेंगे.

पीएम किसानों के खाते में ट्रांसफर करेंगे 18 हजार करोड़

पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) आज किसान सम्मान निधि योजना के तहत देश के 9 करोड़ किसानों को 18,000 करोड़ रुपये सीधे उनके बैंक खातों में ट्रांसफर करेंगे. भारतीय जनता पार्टी (BJP) अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) की जयंती को सुशासन दिवस (Sushansan Divas) के रूप में मना रही है.

Advertisement

Live: PM Modi किसानों से कर रहे हैं संवाद, 9 करोड़ किसानों के खातों में भेजे 18 हजार करोड़ रुपये

पीएम मोदी ने अटल बिहारी वाजपेयी को दी श्रद्धांजलि

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने दिल्ली में सदैव अटल स्मारक पहुंचकर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) को श्रद्धांजलि दी थी. पीएम मोदी के अलावा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद (Ram Nath Kovind), गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह समेत कई मंत्री पूर्व पीएम वाजपेयी को श्रद्धांजलि देने पहुंचे थे.

Advertisement

पीएम मोदी ने संसद में किताब का किया विमोचन

सदैव अटल स्मारक पर श्रद्धांजलि देने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) ने संसद भवन पहुंचे और पूर्व पीएम अटल बिहारी वाजपेयी (Atal Bihari Vajpayee) को श्रद्धांजलि दी. संसद भवन में उन्होंने अटल बिहारी वाजपेयी के द्वारा संसद में दिए गए भाषणों पर छपी एक किताब का भी विमोचन किया.

किसी भी सूरत में MSP समाप्त नहीं होगी: राजनाथ सिंह

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने दिल्ली के द्वारका में किसान चौपाल को संबोधित करते हुए कहा, ‘किसान भाइयों मैं आपको वचन देता हूं कि किसी भी सूरत में एमएसपी (MSP) समाप्त नहीं होगी. यूपीए की सरकार के मुकाबले 3 गुना MSP पर मोदी सरकार ने खरीद की है.’ उन्होंने कहा, ‘जो किसान धरने पर बैठे हैं, उनके लिए मेरे मन में सम्मान है. एक बार कानून तो लागू होने दीजिए, यदि उसका नुकसान होगा तो मैं खुद उसमे संशोधन करवाऊंगा.’ इसके साथ ही राजनाथ सिंह ने किसानों से फिर बातचीत के लिए आने की अपील की. उन्होंने कहा कि यदि किसान एक्सपर्ट के साथ भी वार्ता करने आना चाहते है तो भी आएं.

Advertisement
Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *