Connect with us

करनाल

करनाल से 13 साल की नाबालिग का अपहरण कर ले गए पंजाब, छह घंटे में चढ़े पुलिस के हत्‍थे

Published

on

करनाल से 13 साल की नाबालिग का अपहरण कर ले गए पंजाब, छह घंटे में चढ़े पुलिस के हत्‍थे

शहर के पॉश इलाके मॉडल टाउन से 13 वर्षीय नाबालिग का देर शाम अपहरण कर आरोपित युवक पंजाब के मोगा पहुंच गया, जहां वह करीब छह घंटे बाद ही पुलिस के हत्थे चढ़ गया। पुलिस ने उसके कब्जे से नाबालिग को भी सकुशल बरामद कर लिया तो वहीं आरोपित को भी कार सहित काबू कर कार्रवाई शुरू कर दी है। मामला सुलझ जाने बाद स्वजनों व पुलिस ने भी राहत की सांस ली है। आरोपित करनाल की विकास कालोनी का ही रहने वाला बताया जा रहा है।

करनाल से 13 साल की नाबालिग का अपहरण कर ले गए पंजाब, छह घंटे में चढ़े पुलिस के हत्‍थे

बता दें कि मॉडल टाउन वासी नाबालिग स्कूटी पर सवार होकर अपनी सहेली के घर गई थी। देर शाम तक नहीं लौटी तो उसके माता-पिता कार में सवार होकर तलाश के लिए निकले। उसकी स्कूटी तेजेंद्रा पार्क के समीप खड़ी मिली तो बेटी काे एक मारूति जेन कार में अपहरण करके ले जाते हुए युवक को भी देखा गया। इस घटना से स्वजन सहम गए और तत्काल पुलिस को सूचना दी। उन्होंने एसपी गंगाराम पूनिया से भी मुलाकात की तो उनके आदेश पर सीआइए, थाना सिविल लाइन, मॉडल टाउन चौकी व महिला थान की टीमें सक्रिय हो गईं। छापेमारी शुरू की गई तो चारों ओर कार के नंबर के साथ वीटी भी कराई गई। पुलिस पूरी तत्पपरता से तलाश में जुटी ही थी कि इसी बीच पंजाब के मोगा के पास नाकेबंदी पर कार पकड़ी गई। इसके बाद पुख्ता सूचना पर करनाल सीआइए व एक अन्य टीम मौके पर पहुंची और करीब छह घंटे बाद ही नाबालिग को सकुशल बरामद कर लिया गया जबकि आरोपित युवक को भी कार सहित काबू कर लिया।

 

करा रहे नाबालिग की काउंसलिंग : जितेंद्र

मॉडल टाउन पुलिस चौकी इंचार्ज जितेंद्र सिंह का कहना है कि नाबालिग डरी हुई हालत में मिली है और उसे बरामद करने के बाद सबसे पहले स्वजनों से मिलाया गया ताकि वह सहज हो सके। संवेदनशीलता बरतते हुए अभी उसकी काउंसलिंग कराई जा रही है तो वहीं आरोपित युवक से भी पूछताछ की जा रही है। घटना को लेकर रात को ही केस दर्ज कर छापेमारी शुरू कर दी गई थी।

 

रात भर नहीं सो पाए

नाबालिग के माता-पिता व अन्य स्वजनों का कहना है कि बेटी का अपहरण कर लिए जाने से वे बेहद घबरा गए थे। चिंता के चलते वे रात भर सो नहीं पाए, लेकिन उन्हें उस समय सुकून मिला जब अलसुबह पुलिस ने उनकी बेटी पंजाब के मोगा से आरोपित से छुड़वाकर सकुशल बरामद कर ली और फिर उन्हें सौंप दी। उन्होंने कहा कि यह करनाल पुलिस की तत्परता का ही परिणाम है कि आज उनकी बेटी उनके पास है और वह सकुशल है।

 

 

Source : Jagran