Connect with us

Medical Update

दोबारा एक्शन में आये स्वास्थ्य मंत्री विज, बोले-कोरोना के इलाज के नाम पर नहीं होने दी जायेगी लूट, सरकार ने दाम तय किये

Published

on

दोबारा एक्शन में आये स्वास्थ्य मंत्री विज, बोले-कोरोना के इलाज के नाम पर नहीं होने दी जायेगी लूट, सरकार ने दाम तय किये

हरियाणा के स्वास्थ्य एवं गृहमंत्री अनिल विज ने निजी अस्पतालों को लेकर बड़ा बयान दिया है। अपने बयान में अनिल विज ने स्पष्ट कह दिया कि कोरोना के इलाज के लिए निजी अस्पतालों की मनमानी नहीं चलने दी जायेगी। इसके लिए सरकार ने अब रेट तय कर दिए हैं।

हरियाणा के निजी अस्पतालों पर स्वास्थ्य मंत्री कड़ा बयान

बताते चलें कि अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद अब स्वास्थ्य मंत्री घर पर ही स्वास्थ्य लाभ ले रहे हैं और अपनी पुरानी फार्म में लौट आए हैं। इस समय देश व प्रदेश कोरोना महामारी की चपेट में हैं ऐसे में निजी अस्पताल कोरोना के इलाज में लूट ना मचा सके इसलिए अनिल विज अलर्ट हो गए हैं। उन्होंने कहा सरकार हरियाणा में निजी अस्पतालों द्वारा कोरोना के इलाज के नाम पर लूट पर सख्त है। उन्होंने कहा सरकार ने रेट तय कर दिए हैं इनसे उपर अगर कोई अस्पताल मरीज से पैसा लेता है तो उसके कड़ा एक्शन लिया जायेगा।

सरकार ने 18 हजार रुपये किये फिक्स

शनिवार को जारी अपने बयान में अनिल विज ने कहा हरियाणा सरकार ने प्राइवेट अस्पतालों में कोरोना के इलाज के लिए दिए जाने वाले पैकेज के दाम भी अब तय कर दिए हैं। जिसके बाद अब कोई भी अस्पताल 18 हजार से ज्यादा रूपये कोरोना इलाज के नाम पर नहीं वसूल पायेगा।

अस्पताल छोटा हो या बड़ा तय दाम से ज्यादा नहीं ले सकेगा रूपये

इस बात की जानकारी देते हुए हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने बताया कि हरियाणा में नॉन एनएबीएच अस्पताल के लिए अलग और एनएबीएच अस्पतालों के अलग रेट तय कर दिए गए हैं। जिसके बाद अब हरियाणा में 8000 से लेकर 18000 रूपये तक रेट तय कर दिए गए हैं। विज ने चेतावनी देते हुए कहा कि अगर कोई भी छोटा या बड़ा अस्पताल इससे ज्यादा रूपये लेगा तो उसके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।