Connect with us

पानीपत

143 वर्ग गज रिहायशी का गलत 1.32 लाख रुपए प्रॉपर्टी टैक्स बिल भेजा, गृहमंत्री काे शिकायत भेजी ताे बनी 5200 रुपए राशि

Published

on

Advertisement

143 वर्ग गज रिहायशी का गलत 1.32 लाख रुपए प्रॉपर्टी टैक्स बिल भेजा, गृहमंत्री काे शिकायत भेजी ताे बनी 5200 रुपए राशि

 

नगर निगम में गलत प्राॅपर्टी टैक्स बिल ठीक कराने के लिए अब शहरवासियाें काे गृहमंत्री अनिल विज से शिकायत करने की नाैबत आ गई है। सेठी चाैक निवासी एवं व्यवसायी शाम कामरा ने गृहमंत्री काे शिकायत कर बिल ठीक कराया हे। गलत बिल में 1.32 लाख रुपए की राशि ठीक हाेने पर मात्र 5200 रुपए ही बनी। कामरा ने बताया कि 2011 में निशा अराेड़ा ने 330 गज में से 143 गज प्रॉपर्टी हमें बेची थी। उस समय पूरा टैक्स जमा था। अब मुझे 1.32 लाख रुपए का बिल थमा दिया।

Advertisement

पानीपत. पानीपत नगर निगम द्वारा ठीक किए गए प्राॅपर्टी टैक्स के बिल। - Dainik Bhaskar

 

Advertisement

गृहमंत्री कमिश्नर काे यह दी शिकायत : आदरणीय गृहमंत्री अनिल विज। पानीपत नगर निगम की टैक्स ब्रांच में भ्रष्टाचार है। यहां दलालों के बिना काेई काम नहीं हाेता। उच्चाधिकारियाें काे शिकायत करें ताे क्लर्क परेशान करते हैं। हमारी प्राॅपर्टी आईडी नंबर PO3700060119 का सेठी चाैक पर मकान है। इसका 1.32 लाख रुपए का गलत बिल दे दिया। जबकि 2011 में निशा अरोड़ा पत्नी ओम प्रकाश ने पूरा टैक्स भरा था। 2 माह धक्के खाने पर भी बिल ठीक नहीं हुआ ताे 18 दिसंबर 2020 काे कमिश्नर काे शिकायत की ताे क्लर्क साेनू ने जान बूझकर पुराना एरियर जाेड़ मुझे 52000 रुपए का बिल बना दिया। ज्वाइंट कमिश्नर अनुपमा मलिक से भी सहयाेग नहीं मिला।

19 दिन बीतने पर नहीं लगाए कैंप : निगम ने 19 दिन पहले गलत प्राॅपर्टी टैक्स बिल ठीक करने व राशि जमा कराने के लिए लगने वाले कैंप बंद कर दिए थे। तब निगम अधिकारियाें ने भराेसा दिलाया था कि 31 दिसंबर के बाद दाेबारा से याेजना शुरू हाेने पर कैंप लगा देंगे। अब तक ये कैंप दाेबारा शुरू नहीं हुए।

Advertisement

लापरवाह क्लर्क साेनू रेंट ब्रांच से हटाया

गलत प्राॅपर्टी टैक्स कराने के लिए शाम कामरा नाम का व्यक्ति मुझसे मिला था। पहली बार क्लर्क साेनू ने पूरा रिकाॅर्ड पेश नहीं किया। अब स्कीम दाेबारा आगे आते ही बिल ठीक करवा दिया। साथ ही लापरवाही बरतने व शहरवासियाें से अभद्र व्यवहार की शिकायताें पर क्लर्क साेनू काे रेंट ब्रांच से हटा दिया है। – अनुपमा मलिक, जॉइंट कमिश्नर, नगर निगम, पानीपत।

Advertisement