Connect with us

राज्य

आज से चंडीगढ़ के लिए चलेंगी रोडवेज की बसें, नियमों के फेर में चालक-परिचालक उलझे

Published

on

आज से चंडीगढ़ के लिए चलेंगी रोडवेज की बसें, नियमों के फेर में चालक-परिचालक उलझे

आज से चंडीगढ़ में हरियाणा रोडवेज की बसों को एंट्री मिलेगी। कोरोना काल के चलते लंबे समय से चंडीगढ़ में बाहर से आने वाली बसों को अनुमति नहीं थी। जिस कारण दूसरे राज्यों की बसें चंडीगढ़ में प्रवेश नहीं कर पा रही थी। पंचकूला तक ही बसें जा रही थी, लेकिन अब चंडीगढ़ परिवहन विभाग ने बसों की एंट्री को अनुमति दे दी है, लेकिन शर्त रखी है कि बसों में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ-साथ सेनिटाइजेशन की व्यवस्था होनी चाहिए, वहीं यात्रियों के चेहरे पर मास्क लगा होना चाहिए।

बस में निर्धारित सीटों की संख्या से 50 प्रतिशत यात्री कम बैठाए जाए। बस में बैठे सभी यात्रियों के मोबाइल में आरोग्य सेतु एप डाउनलोड होनी चाहिए, लेकिन विभाग के ये आदेश बुधवार से चालक परिचालकों के लिए परेशानी बन जाएंगे। हरियाणा में बसों में 52 यात्रियों को बैठाकर चलाए जाने के आदेश हैं, लेकिन चंडीगढ़ में कोरोना को देखते हुए 25 यात्रियों को बसों में बैठाए जाने के आदेश हैं।

Traffic jam: 33 Haryana Roadways buses turned back from UP border

छह अगस्त को जारी हुए बसों में फुल कैपेसिटी के हिसाब से यात्री बैठाने के आदेश

कोरोना काल के चलते हरियाणा रोडवेज की बसों में 25 यात्रियों को बैठाए जाने के आदेश पारित हुए थे, लेकिन इन आदेशों से रोडवेज को घाट होने की बात कहकर डायरेक्टर स्टेट ट्रांसपोर्ट हरियाणा ने 6 अगस्त को हरियाणा के सभी रोडवेज महाप्रबंधकों को बसों में फुल कैपेसिटी के हिसाब से यात्रियों को बसों में बैठाए जाने के आदेश दिए।

Haryana Roadways Bus Ashok Leyland (85) | India Buses

पहले दिन चलेंगी पांच बसें

बता दें कि आज से चंडीगढ़ के लिए पांच बसें चलेंगी। पहली बस 5 बजे चलेगी उसके बाद 5 बजकर 40 मिनट पर बस चलेगी। फिर यात्रियों के हिसाब से तीन बसों को रूट पर चलाया जाएगा।

Haryana Roadways Bus Ashok Leyland (9) | India Buses

चालक-परिचालक के लिए चुनौती : यूनियन प्रधान

ऑल हरियाणा रोडवेज वर्कर्स यूनियन प्रधान नवीन शर्मा ने कहा कि सरकार के आदेशों की पालना करने में कर्मचारियों को परेशानी झेलनी पड़ेगी। नवीन शर्मा ने कहा कि कुरुक्षेत्र व पिपली से ही चंडीगढ़ के लिए बस फुल हो जाती है। सभी सवारियां चंडीगढ़ तक जाती है। 52 सवारियों से भरकर बस चलेगी लेकिन चंडीगढ़ में 25 सवारियों को ही एंट्री मिलेगी। चालक परिचालक कैसे किसी यात्री को बीच में पंचकूला उतार सकता है। ऐसे में सरकार के आदेश चालक परिचालकों के लिए ही परेशानी बनेंगे। रोडवेज महाप्रबंधक अश्वनी डोगरा ने कहा कि सरकार के आदेशों की पालना की जाएगी। इसे लेकर व्यवस्था बनाई जा रही है। यात्रियों व चालक परिचालकों को परेशान नहीं होने दिया जाएगा।