Connect with us

City

4 लेन बनेगा सनौली रोड, 83 करोड़ रुपए का एस्टीमेट पास, कुराड़-छाजपुर खुर्द तक 8 किलोमीटर तक नए सिरे से बनेगी सड़क

Published

on

Advertisement

4 लेन बनेगा सनौली रोड, 83 करोड़ रुपए का एस्टीमेट पास, कुराड़-छाजपुर खुर्द तक 8 किलोमीटर तक नए सिरे से बनेगी सड़क

  • अब 8 किमी दायरे को फिर से पीडब्ल्यूडी के अधीन चाहते हैं विधायकॉ
  • 2018 तक स्टेट हाईवे-16 था, नेशनल हाईवे-79एडी बनाने से एनएचएआई के अधीन आया रोड

सनौली रोड को फोरलेन करने के लिए सरकार ने 83 करोड़ रुपए का एस्टीमेट पास कर दिया है। संजय चौक से कुराड़-छाजपुर खुर्द तक 8 किलोमीटर तक नए सिरे से सड़क बनेगी, फिर नेशनल हाईवे-79एडी में सनौली रोड मिल जाएगा। विधायक प्रमोद विज ने यह एस्टीमेट पीडब्ल्यूडी से बनवाया था।

Advertisement

विधायक ने कहा कि एस्टीमेट तो पास हो गया, लेकिन अभी तक यह तय नहीं हो पाया है कि रोड कौन बनाएगा और मालिकाना हक किसके पास रहेगा। हमारी तो यही मंशा है कि 8 किलोमीटर के हिस्से को पीडब्ल्यूडी को दे दिया जाए, ताकि इसकी मेंटेनेंस में विवाद न हो। एनएचएआई की सड़क होने के कारण निगम और पीडब्ल्यूडी बनाने को तैयार नहीं थे। जिस कारण यहां तीन साल तक पानी भरा रहा।

सहूलियत: जाम भी कम होगा
शहर की सबसे व्यस्त सड़कों में एक है सनौली रोड। रिहायशी से लेकर व्यावसायिक और इंडस्ट्रियल ट्रैफिक का दबाव सनौली रोड पर बहुत ज्यादा रहता है। जिस कारण हमेशा सनौली रोड पर जाम की स्थिति बनी रहती है। फोरलेन बनेगा तो जाम से शहरवासियों को बड़ी राहत मिलेगी। अभी तो शहर से यूपी की ओर जाने वाले बजाय सनौली रोड शिव चौक की ओर जाने के मलिक पेट्रोल पंप, चांदनी बाग थाना होते हुए यूपी की ओर जाते हैं। लेकिन फोन लेन बनने से परेशानी कम हो जाएगी।

Advertisement

बड़ी चुनौती: 20 अस्पताल हैं, किसी के पास भी पार्किंग नहीं

शहर में सनौली रोड को फोरलेन बनाने में चुनौती भी उतनी ही बड़ी है। क्योंकि दोनों ओर 300 से अधिक दुकानदारों का कब्जा है। 20 के करीब अस्पताल हैं, लेकिन किसी के पास पार्किंग की सुविधा नहीं है। सभी के वाहन सनौली रोड पर ही पार्क होते हैं। इसलिए, पहले कब्जा हटाना फिर सड़क से वाहनों की पार्किंग हटाना, दोनों बड़ी चुनौती है।

Advertisement

दुकानदार-अस्पताल दोनों को होगा फायदा

सनौली रोड पर जाम कम होने से दुकानदारों के साथ ही अस्पताल वालों को भी फायदा होगा। अभी तो मजबूरन लोग सनौली रोड की दुकान भी जाते हैं और अस्पताल भी। लेकिन रोड की चौड़ाई बढ़ने पर सबके लिए फायदेमंद होगा।

14 साल तक पीडब्ल्यूडी के अधीन रहा था यह रोड

2018 तक सनौली रोड यमुना तक 18 किमी. के दायरे में स्टेट हाईवे-16 था। फिर, नेशनल हाईवे-79एडी बनाने से यह भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) के अधीन आया। अब विधायक प्रमोद विज चाहते हैं कि जीटी रोड संजय चौक से लेकर छाजपुर खुर्द तक 8 किलोमीटर के दायरे को फिर से पीडब्ल्यूडी को दे दिया जाए।

सांसद के माध्यम से सड़क ट्रांसफर करवाने का प्रयास

शहरी विधायक प्रमोद विज 8 किलोमीटर के दायरे को फिर से पीडब्ल्यूडी के अधीन चाहते हैं। इसके लिए उन्होंने एनएचएआई को लेटर भी लिखा है। विधायक ने कहा कि रोड ट्रांसफर करने के लिए हमने सांसद संजय भाटिया की भी मदद मांगी है। विधायक ने कहा कि एक बार रोड ट्रांसफर हो जाए तो काम कराने में आसानी होगी।

3 साल तक सनौली रोड पर भरा रहा था पानी

मार्बल मार्केट के पास तीन सालों तक सनौली रोड पर पानी भरा रहा था। लोगाें ने इसके लिए धरना-प्रदर्शन तक दिया। एनएचएआई की रोड होने के कारण नगर निगम और पीडब्ल्यूडी इसे ठीक नहीं करना चाहता था। विवाद बढ़ने पर निगम ने अपनी ओर से सड़क ठीक करवाई। लेकिन स्थाई समाधान का अब भी इंतजार है।

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *