Connect with us

पानीपत

बसों में फटी हैं सीटें, गंदगी है, यात्री शिकायत करेंगे तो होगी कार्रवाई

Published

on

Advertisement

बसों में फटी हैं सीटें, गंदगी है, यात्री शिकायत करेंगे तो होगी कार्रवाई+

 

रोडवेज की अधिकतर बसों में सीटें कटी-फटी हैं। गंदगी भी रहती है। यात्रियों की शिकायत पर मुख्यालय ने संज्ञान ले लिया है। इसके लिए जो भी विभागीय अधिकारी जिम्मेदार होगा उस पर गाज गिरेगी। डायरेक्टर स्टेट ट्रांसपोर्टर ने पानीपत डिपो के जीएम को पत्र भेज व्यवस्थाएं बनाने के आदेश दे दिए हैं। पानीपत डिपो में करीब 130 रोडवेज बसें हैं।

Advertisement

 

प्रतिदिन 10-12 बसें वर्कशॉप में मेंटीनेंस के लिए रहती हैं। पानीपत रोडवेज की बसें पुरानी होती जा रही हैं। यात्रियों द्वारा मुख्यालय में लगातार शिकायत की जा रही थी कि रोडवेज बसों के अंदर ही हालत काफी खराब होती जा रही है। बसों में सफाई नहीं रहती है। अधिकतर सीटें फटी हुई हैं। इसको लेकर कंडक्टर और यात्रियों के बीच विवाद भी होता है। बसों के अंदर रूट चार्ट नहीं रहता है। बस स्टैंड परिसर में सफाई की उचित व्यवस्था नहीं है।

Advertisement

बेहतर सुविधा देने के लिए बनाया प्लान

यात्रियों से मिल रहे फीडबैक को देखते हुए रोडवेज मुख्यालय ने यात्रियों को अच्छी सर्विस देने के लिए प्लान बनाया है। इसको लेकर जीएम को प्लान भेज दिया गया है। इसके तहत जीएम को अगले 10 दिनों के अंदर बसों के अंदर और बस स्टैंड पर बेहतर सुविधा करनी होगी। इसके साथ ही जीएम को विभाग के उच्च अधिकारियों को इन व्यवस्थाओं के बारे में अवगत कराना होगा।

Advertisement

ये दिए हैं आदेश :

बस स्टैंड पर सफाई व्यवस्था उचित की जाए।

बसों के अंदर फटे हुए सीट कवर बदलवाए जाए।

बसों के शीशे टूटे न हों। {गेट के स्टॉपर सही होने चाहिए।

बस स्टैंड पर गीले और सूखे कचरे के अलग-अलग डस्टबिन हों।

{पीने के पानी की उचित व्यवस्था हो।

अनाउंसमेंट व्यवस्था प्रॉपर होनी चाहिए।

महिला और पुरुष टायलेट्स साफ-सुथरे हों।

समस्या हो तो यात्री सीधे कर सकते हैं शिकायत

बसों के अंदर या बस स्टैंड परिसर में किसी तरह की समस्या होती है तो यात्री सीधे आकर उनसे शिकायत कर सकता है। तत्काल ही उस समस्या का निराकरण किया जाएगा। –विकास नरवाल, जीएम, पानीपत रोडवेज डिपो।

 

 

 

 

Source : Bhaskar

Advertisement

Continue Reading
Advertisement
Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *